एडवांस्ड सर्च

राष्‍ट्रपति के अभिभाषण के साथ संसद सत्र शुरू

लोकसभा का आख़िरी सत्र गुरुवार को राष्‍ट्रपति प्रतिभा पाटिल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गया. 10 दिनों तक चलने वाले इस सत्र में अंतरिम रेल और अंतरिम बजट पेश किया जाएगा.

Advertisement
aajtak.in
आज तक ब्‍यूरोनई दिल्‍ली, 12 February 2009
राष्‍ट्रपति के अभिभाषण के साथ संसद सत्र शुरू

लोकसभा का आख़िरी सत्र गुरुवार को राष्‍ट्रपति प्रतिभा पाटिल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गया. 10 दिनों तक चलने वाले इस सत्र में अंतरिम रेल और अंतरिम बजट पेश किया जाएगा.

राष्‍ट्रपति पाटिल ने अपने अभिभाषण में संप्रग सरकार के कार्यों को इंगित किया. उन्‍होंने कहा कि देश में ग्रामीण स्‍वास्‍थ्‍य योजना कारगर रही. सरकार द्वारा बनाए गए कानून सूचना के अधिकार से देश के आम लोगों को फायदा हुआ. बीमा योजना से समाज के सभी लोगों का उत्‍थान हुआ. अपने कार्यकाल के दौरान सरकार ने सभी वायदे पूरे किए. केंद्र सरकार ने आम आदमी के हितों के लिए काम किया. इस दौरान किसानों के हितों का पूरा ध्‍यान रखा गया. खाद की कीमत और वितरण पर नियंत्रण रखा गया. बच्‍चों के लिए मिड-डे योजना कारगर रही. गांवों से लोगों का पलायन घटा. विश्‍व आर्थिक संकट से देश मजबूती से उभरा. चुनाव आयोग की देख रेख में कश्‍मीर चुनाव में लोकतंत्र की जीत हुई.

राष्‍ट्रपति ने 14वीं लोकसभा के अंतिम सत्र का उद्धाटन करते हुए अपने अभिभाषण में कहा कि देश को ग्रामीण क्षेत्रों में विकास के लिए अभी और कदम उठाने की जरूरत है. पाटिल ने कहा कि सरकार द्वारा चलाया गया सर्व शिक्षा अभियान कारगर रहा. साथ ही सरकार ने रोजगार मुहैया कराने के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की. देश के आम लोगों के लिए लोक कल्‍याण से जुड़े कई कानूनों को मूर्त रूप दिया गया.

उन्‍होंने कहा कि कोर्ट प्रणाली को और दुरुस्‍त किया जाना है. गरीबों के लिए घर का निर्माण किया गया. राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली से मेट्रो लाईन को गुड़गांव तक ले जाने की योजना बनाई गई है. साथ ही देश के दूसरे बड़े शहरों में भी मेट्रो की योजना को मंजूरी दे दी गई है.

संप्रग सरकार के इस आखिरी संसद सत्र के हंगामेदार होने के आसार हैं. रेल मंत्री लालू यादव 13 फरवरी को अंतरिम रेल बजट पेश करेंगे. जबकि अंतरिम बजट सोमवार को पेश किया जाएगा.
इस सत्र में में चुनाव आयोग और चुनाव आयुक्त नवीन चावला पर हंगामा होने के आसार हैं. प्रधानमंत्री डा.मनमोहन सिंह संसद के संयुक्त अधिवेशन के उद्घाटन सत्र की बैठक में हिस्सा नहीं ले रहे हैं. दिल की बाईपास सर्जरी के बाद डा. सिंह इन दिनों स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं. यह पहला मौका है जब प्रधानमंत्री संयुक्त अधिवेशन की बैठक में सत्र में हिस्सा नहीं लेंगे.

सूत्रों ने बताया कि इस सत्र में 27 विधेयक 10 वित्तीय विधेयक और दो गैर विधायी कार्य पारित किए जाएंगे. ऐसे विधयकों में नौ ऐसे विधेयक इस दौरान पारित किए जाएंगे जो पहले पेश किए जा चुके है जबकि चार नए विधेयक इस सत्र में पेश होने के बाद पारित किए जाएंगे. इस दौरान बहुचर्चित महिला आरक्षण विधेयक के पेश होने के आसार नहीं है. हालांकि कुछ महिला संगठन इसके पेश नहीं किए जाने का विरोध कर रहे हैं और ये संगठन आज संसद भवन के बाहर प्रदर्शन की तैयारी में है.

इस सत्र में देश के 47 उत्कृष्ट शिक्षण संस्थानों में शिक्षकों को आरक्षण से वंचित करने वाला विधेयक भी इस सत्र में पारित कराया जाएगा. यह विधेयक राज्यसभा से पहले ही पारित हो चुका है. इसके अलावा केंद्रीय विश्वविद्यालय विधेयक 2008 को वापस कर उसकी जगह केंद्रीय विश्विद्यालय विधेयक 2009 पारित कराया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay