एडवांस्ड सर्च

अब गूगल, स्काइप और वीपीएन को नोटिस जारी किया जाएगा

मोबाइल फोन बनाने वाली कंपनी ब्लैकबेरी के बाद सरकार ने सर्च इंजन गूगल, इंटरनेट फोन कॉल प्रोवाइडर स्काइप, सेवा प्रदाता वचरुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) और कुछ अन्य कंपनियों को कानून लागू करने वाली एजेंसियों को अपनी सेवाएं मुहैया कराने को कहा है.

Advertisement
aajtak.in
मुन्ज़िर अहमद नई दिल्ली, 01 September 2010
अब गूगल, स्काइप और वीपीएन को नोटिस जारी किया जाएगा

मोबाइल फोन बनाने वाली कंपनी ब्लैकबेरी के बाद सरकार ने सर्च इंजन गूगल, इंटरनेट फोन कॉल प्रोवाइडर स्काइप, सेवा प्रदाता वचरुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) और कुछ अन्य कंपनियों को कानून लागू करने वाली एजेंसियों को अपनी सेवाएं मुहैया कराने को कहा है.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इन कंपनियों को नोटिस जारी किया जाएगा और इन सबसे दिशा-निर्देशों का पालन करने को कहा जाएगा या उन्हें भारत में अपने नेटवर्क को बंद करना होगा.

अधिकारी ने कहा, ‘कोई भेदभाव नहीं होगा. भारत में नेटवर्कों का संचालन करने वाली सभी एजेंसियों को कानून लागू करने वाली एजेंसियों को अपनी सेवाएं मुहैया करानी होगी.’ यह घटनाक्रम सरकार द्वारा ब्लैकबेरी मोबाइल फोन की निर्माता कंपनी रिसर्च इन मोशन कंपनी को इसी तरह का नोटिस जारी किये जाने के बाद हुआ.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इंटरनेट पर गूगल और स्काइप द्वारा भारत में प्रदान की जाने वाली वॉइस और संदेश सेवाओं से जुड़ी सुरक्षा चिंताओं पर चर्चा की है.

गूगल, स्काइप, वीपीएन और कुछ अन्य नेटवर्कों के जरिए आंकड़ों के आदान-प्रदान पर देश की सुरक्षा एजेंसियों की पहुंच नहीं है.

गूगल एक लोकप्रिय सर्च इंजन है जो ई-मेल, आनलाइन चैटिंग और सोशल नेटवर्किंग साइट ऑरकुट सुविधाएं प्रदान करती है.

लक्जमबर्ग स्थित स्काइप एसए इंटरनेट के जरिए टेलीफोन सेवा मुहैया कराती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay