एडवांस्ड सर्च

धमाकों से दहली दिल्‍ली, 26 की मौत

राजधानी दिल्ली शनिवार शाम एक के बाद एक पांच धमाकों से दहल गई. इन धमाकों में 26 लोगों की मौत हो गई और100 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए. धमाकों की जिम्‍मेदारी इंडियन मुजाहिद्दीन ने ली है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.inनई दिल्‍ली, 14 September 2008
धमाकों से दहली दिल्‍ली, 26 की मौत दिल्ली, पांच धमाके, सीरियल ब्लास्ट

राजधानी दिल्ली शनिवार शाम एक के बाद एक पांच धमाकों से दहल गई. इन धमाकों में 26 लोगों की मौत हो गई और100 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए. धमाकों की जिम्‍मेदारी इंडियन मुजाहिद्दीन ने ली है.धमाकों के तुरंत मुंबई सहित उत्‍तर प्रदेश, पंजाब व हरियाणा में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया.

इस बीच पुलिस ने मुं‍बई के चेंबूर इलाके से भेजी गई ई-मेल का ब्‍योरा प्राप्‍त कर लिया है. इंडियन मुजाहिद्दीन की ई-मेल में लिखा गया है, 'अब से ठीक पांच मिनट के भीतर होंगे धमाके. मौत के इस संदेश के साथ आपके पाप के बदले मिलेगा दहशत का खौफ और इस तरह हमारा वादा पूरा होगा. जो मर्जी हो, कर लो. रोक सको तो रोक लो-इंडियन मुजाहिद्दीन'.

करोलबाग में एक (शाम 6.10 बजे), ग्रेटर कैलाश में दो (शाम 6.30 बजे) और कनॉट प्‍लेस में दो धमाके ( शाम 6.35 बजे )हुए. साथ ही बम निरोधक दस्‍ते ने चार जिंदा बमों को नाकाम कर दिया है. पुलिस ने कनॉट प्‍लेस के रीगल सिनेमाघर के पास कूड़ेदान से एक जिंदा बम बरामद किया. कनॉट प्‍लेस के ही सेंट्रल पार्क से एक जिंदा बरामद किया गया है. इंडिया गेट और संसद मार्ग से भी जिंदा बम बरामद किए गए हैं.

दिल्‍ली के व्‍यस्‍त बाजारों में एक करोलबाग के गफ्फार मार्केट में एक ऑटो में पहला धमाका हुआ. ऑटो में हुए इस धमाको को पहले पुलिस ने सीएनजी सिलेंडर फटने की बात कही. लेकिन उसके करीब 20 मिनट बाद ग्रेटर कैलाश में हुए दो धमाकों ने पुलिस के बयान की पोल खोल दी. लोग कुछ समझ पाते, तब तक कनॉट प्‍लेस में दो धमाकों की खबर आ गई. आखिर यह बात सामने आई कि आतंकवादियों ने दिल्‍ली में सीरियल धमाके किए.

गफ्फार मार्केट में जिस समय धमाका हुआ, उस वक्‍त वहां काफी भीड़ थी.जैसे ही धमाका हुआ, लोगों के बीच अफरा-तफरी मच गई. इन धमाकों में करीब 20 लोग घायल हुए हैं.

इसके ठीक 20 मिनट बाद ग्रेटर कैलाश में दो धमाके हुए. पहला धमाका कूड़ेदान में और दूसरा धमाका एक कार में रखे बम से हुआ. लोग कुछ समझ पाते, तब तक खबर आई कि कनॉट प्‍लेस में भी दो धमाके हुए हैं. पहला धमाका गोपालदास बिल्डिंग के बाहर और दूसरा पालिका बाजार के पास हुआ.

धमाकों में घायल हुए लोगों को राम मनोहर लोहिया, ले‍डी हार्डिंग, सफदरजंग, एम्‍स और अन्‍य अस्‍पतालों में भर्ती कराया गया है.राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल में लाए गए घायलों में से आठ की मौत हो गई. लेडी हार्डिंग व सफदरजंग अस्‍पताल में एक-एक घायल की मौत की खबर है.

दूसरी ओर दिल्‍ली पुलिस ने इन धमाकों के तुरंत बाद कुछ जगहों पर छापे मारकर कुल सात लोगों को गिरफ्तार किया है. साथ ही पुलिस ने धमाकों के मुख्‍य साजिशकर्ता को भी गिरफ्तार करने का दावा किया है. दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर वाई एस डडवाल ने कहा कि अब तक मिली जानकारी के अनुसार कुल 18 लोगों की मौत हो गई है और करीब 50 लोग घायल हुए हैं. उन्‍होंने दिल्‍ली के लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. उन्‍होंने कहा कि धमाकों से संबंधित कोई भी जानकारी हेल्‍पलाइन नंबर 011-23490312 से ली जा सकती है. जिन इलाकों में धमाके हुए, वहां तुरंत मोबाइल नेटवर्क जाम कर दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay