एडवांस्ड सर्च

न्यूजीलैंड दौरे में हार के बाद धोनी ने कहा, 'हमने अच्छा प्रदर्शन किया'

न्यूजीलैंड में टीम इंडिया ने पहले वनडे सीरीज गंवाई और फिर टेस्ट सीरीज में भी उसे हार का ही मुंह देखना पड़ा. वनडे में दुर्गति जो हुई सो हुई, लेकिन टेस्ट सीरीज में पहला मैच जीतते-जीतते हार गए, तो दूसरे में हाथ आया ड्रॉ. इसके बाद भी कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी कह रहे हैं कि टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया.

Advertisement
aajtak.in
भाषा [Edited By: नमिता शुक्ला]वेलिंगटन, 18 February 2014
न्यूजीलैंड दौरे में हार के बाद धोनी ने कहा, 'हमने अच्छा प्रदर्शन किया' एम एस धोनी

न्यूजीलैंड में टीम इंडिया ने पहले वनडे सीरीज गंवाई और फिर टेस्ट सीरीज में भी उसे हार का ही मुंह देखना पड़ा. वनडे में दुर्गति जो हुई सो हुई, लेकिन टेस्ट सीरीज में पहला मैच जीतते-जीतते हार गए, तो दूसरे में हाथ आया ड्रॉ. इसके बाद भी कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी कह रहे हैं कि टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया.

बेहद प्रतिभाशाली है धोनी की टीम...
पांच मैचों की वनडे सीरीज 0-4 से गंवाई तो 2 टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-1 से पिटे धोनी के धुरंधर. लेकिन अभी भी कैप्टन कूल को लगता है कि टीम का प्रदर्शन अच्छा रहा. धोनी ने मैच के बाद कहा, 'कुल मिलाकर यह अच्छा प्रदर्शन था. हमने दक्षिण अफ्रीका दौरे के बाद बेहतर प्रदर्शन किया है. हमने दिखाया कि हमारी टीम बेहद प्रतिभाशाली है.'

हम खराब नहीं थे, वो अच्छे थे...
उन्होंने कहा, 'हमने टेस्ट सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया. इस टेस्ट में अच्छी गेंदबाजी की जो सपाट विकेटों पर जरूरी है. पहले टेस्ट में हमारी दूसरी पारी शानदार थी. यहां टॉस जीतने के बाद पहली पारी में हमने अच्छी गेंदबाजी की. दूसरी पारी में भी शुरुआत अच्छी हुई थी लेकिन बाद में ब्रेंडन और वाटलिंग ने तस्वीर बदल दी. हमने खराब गेंदबाजी नहीं कि लेकिन उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की. ब्रेंडन और वाटलिंग ने दबाव का बखूबी सामना किया और गेंदबाजों के थकने के बाद तेजी से रन बनाए.'

धोनी को अच्छी लगी ब्रेंडन की पारी
धोनी ने कहा, ब्रेंडन की पारी शानदार थी और दर्शकों ने जिस तरह उसका अभिवादन किया, वह देखकर अच्छा लगा. एक विरोधी कप्तान नहीं बल्कि एक क्रिकेटप्रेमी के रूप में.

नतीजे को करना पड़ेगा स्वीकार
कैप्टन कूल ने अपने गेंदबाजों का बचाव करते हुए कहा, 'हमें ढाई दिन तक फील्डिंग करनी पड़ी और मैं अपने गेंदबाजों की तारीफ करूंगा जिन्होंने इस चुनौती का सामना किया. तीसरी नई गेंद के साथ भी उन्होंने काफी मेहनत की और विकेट लेने की कोशिश करते रहे. उन्होंने अपनी ओर से पूरा प्रयास किया लेकिन आखिरकार हमें इस नतीजे को स्वीकार करना होगा.'

गेंदबाजों ने किया 'शानदार' प्रदर्शन
दौरे पर टीम के प्रदर्शन के आकलन के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि वनडे सीरीज में खिलाड़ियों के प्रदर्शन से वह निराश थे. उन्होंने कहा, 'हम वनडे में अपने प्रदर्शन से निराश थे क्योंकि हम जीतने की स्थिति में पहुंचकर नहीं जीते. हम जानते थे कि टेस्ट सीरीज कठिन होगी क्योंकि टीम में ऐसे ज्यादा खिलाड़ी नही हैं जो पांच, छह या सात से अधिक टेस्ट खेले हों. कुल मिलाकर हमने अच्छा प्रदर्शन किया, खासकर गेंदबाजी में. कई लोगों को नहीं लगता था कि हम 20 विकेट ले सकेंगे क्योंकि स्पिनरों को विकेट नहीं मिल रहे थे, लेकिन पहले टेस्ट में हमने यह कर दिखाया और यहां पहली पारी में भी. हमने अपने प्रदर्शन में सुधार किया.'

फिर से न्यूजीलैंड आने को बेताब धोनी!
धोनी ने कहा, 'अगले साल ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में होने वाला वर्ल्ड कप खेलने हम फिर यहां लौटने को बेताब हैं. यह शानदार देश है और माहौल बहुत अच्छा है. वनडे में विकेट सपाट और अच्छी उछाल वाले हैं जिससे दर्शकों का मनोरंजन होगा. वे अच्छे क्रिकेट की कद्र करते हैं और विरोधी की सफलता का भी मजा लेते हैं. यह क्रिकेट खेलने के लिए अच्छी जगह है और हमें अगले साल वर्ल्ड कप के लिए यहां आने का इंतजार रहेगा.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay