एडवांस्ड सर्च

T-20 लीग: रोमांचक मुकाबले में पुणे पर बैंगलोर की जीत

बल्लेबाजों के धमाल के बाद गेंदबाजों के कमाल से बैंगलोर ने पुणे पर 17 रन की जीत दर्ज की. पुणे की टीम की यह लगातार छठी हार है. बैंगलोर ने सौरभ तिवारी (52) और एबी डिविलियर्स (नाबाद 50) के अर्धशतक से धीमी शुरुआत के बावजूद तीन विकेट पर 187 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया.

Advertisement
आज तक वेब ब्यूरो/भाषापुणे, 03 May 2013
T-20 लीग: रोमांचक मुकाबले में पुणे पर बैंगलोर की जीत क्रिस गेल

बल्लेबाजों के धमाल के बाद गेंदबाजों के कमाल से बैंगलोर ने पुणे पर 17 रन की जीत दर्ज की. पुणे की टीम की यह लगातार छठी हार है. बैंगलोर ने सौरभ तिवारी (52) और एबी डिविलियर्स (नाबाद 50) के अर्धशतक से धीमी शुरुआत के बावजूद तीन विकेट पर 187 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया.

इसके जवाब में पुणे की टीम रोबिन उथप्पा (45 गेंद में 75 रन) और एंजेलो मैथ्यूज (19 गेंद में 32 रन) की उम्दा पारियों के बावजूद नौ विकेट पर 170 रन ही बना सकी. बैंगलोर की ओर से आर विनय कुमार ने 31 रन देकर तीन जबकि मुरली कार्तिक ने 29 रन देकर दो विकेट चटकाए. आरपी सिंह, मोइसेस हैनरिक्स और क्रिस गेल के खाते में एक एक विकेट आया. डिविलियर्स ने सिर्फ 23 गेंद की अपनी पारी में छह चौके और दो छक्के जड़ने के अलावा हैनरिक्स (13 गेंद में नाबाद 27, चार चौके और एक छक्का) के साथ 4.5 ओवर में चौथे विकेट की 68 रन की अटूट साझेदारी की.

इससे पहले तिवारी ने भी कप्तान विराट कोहली (25) के साथ दूसरे विकेट के लिए 63 रन जोड़े जिससे टीम आठ ओवर में एक विकेट पर 46 रन की धीमी शुरुआत से उबरने में सफल रही. बैंगलोर के अब 11 मैचों में सात जीत से 14 अंक हो गए हैं और टीम दूसरे स्थान पर बनी हुई है. पुणे की टीम 11 मैच में नौवीं हार के बाद दो जीत से सिर्फ चार अंक के साथ अंतिम स्थान पर है.

बैंगलोर के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करने उतरी पुणे की टीम ने तीसरे ओवर में ही कप्तान आरोन फिंच (15) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने हैनरिक्स की गेंद को अपने विकेटों पर खेला. टीएल सुमन भी 14 गेंद में 11 रन बनाने के बाद रन आउट हुए जिससे सात ओवर में पुणे का स्कोर दो विकेट पर 46 रन हो गया. सलामी बल्लेबाज उथप्पा ने एक छोर संभाले रखा.

दायें हाथ के इस बल्लेबाज ने मुरलीधरन और विनय कुमार पर छक्का जड़ने के बाद कार्तिक की गेंद पर एक रन के साथ 14वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया. उथप्पा ने आरपी सिंह पर छक्के के साथ 34 गेंद में टी-20 लीग 6 का अपना पहला अर्धशतक पूरा किया. उथप्पा को पुणे की कप्तानी छोड़ने वाले मैथ्यूज का अच्छा साथ मिला.

मैथ्यूज ने कार्तिक पर डीप मिड विकेट के उपर से छक्का जड़ा. पुणे को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 66 रन की दरकार थी. मैथ्यूज और उथप्पा ने 16वें मुरलीधरन को निशाना बनाते हुए उनके ओवर में 21 रन जोड़कर दबाव को कुछ कम किया.

इस ओवर में मैथ्यूज ने दो जबकि उथप्पा ने एक छक्का जड़ा. मैथ्यूज हालांकि अगले ओवर में विनय कुमार की फुलटास को प्वाइंट पर गेल के हाथों में खेल गए. उन्होंने 19 गेंद का सामना करते हुए तीन छक्के मारे और उथप्पा के साथ 5.3 ओवर में 63 रन की साझेदारी की.

कार्तिक ने इसके बाद पारी का निर्णायक 17वां ओवर फेंका. बायें हाथ के इस स्पिनर ने अभिषेक नायर (01) को पवेलियन भेजा लेकिन उथप्पा ने उन पर चौका जड़ दिया. कार्तिक ने हालांकि इसी ओवर में उथप्पा को आरपी सिंह के हाथों कैच कराके पुणे की जीत की उम्मीदों को धूमिल कर दिया.

उथप्पा ने 45 गेंद में पांच छक्के और इतने ही चौके मारे. पुणे को अंतिम दो ओवर में 28 रन की जरूरत थी लेकिन टीम 10 रन ही बना सकी. पुणे के खिलाफ पिछले मैच में नाबाद 175 रन की रिकार्ड पारी खेलने वाले गेल ने आफ स्पिनर टीएल सुमन पर सीधा छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद को हवा में लहरा गया और भुवनेश्वर कुमार ने दौड़ लगाते हुए अच्छा कैच लपका.

गेल ने 21 गेंद में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 21 रन बनाए. तिवारी ने इसके बाद मोर्चा संभाला. उन्होंने अजंता मेंडिस की लगातार गेंदों पर चौका और फिर छक्का जड़कर अपने तेवर दिखाए. मैथ्यूज ने दिशाहीन गेंदबाजी का नजारा पेश करते हुए 10वें ओवर में दो ऐसी वाइड फेंकी जो चार रन के लिए गई.

कोहली ने युवराज सिंह का स्वागत तीन चौकों के साथ किया लेकिन अशोक डिंडा ने उन्हें बोल्ड कर दिया. तिवारी ने लेग स्पिनर राहुल शर्मा पर छक्का और फिर दो रन के साथ 42 गेंद में टी-20 लीग-6 का अपना पहला अर्धशतक पूरा किया. डिंडा ने तिवारी को पवेलियन भेजकर पुणे को अहम सफलता दिलाई.

उन्होंने 45 गेंद की अपनी पारी में दो चौके और दो छक्के मारे. डिविलियर्स और हैनरिक्स ने अंत में तेजी से रन बटोरे. डिविलियर्स ने डिंडा जबकि हैनरिक्स ने राहुल के ओवर में दो-दो चौके मारे. हैनरिक्स ने डिंडा पर भी लगातार दो छक्के जड़े.

डिविलियर्स ने डिंडा के पारी के अंतिम ओवर में दो छक्कों और तीन चौकों की मदद से 26 बटोरे और 23 गेंद में अर्धशतक भी पूरा किया. आरसीबी ने अंतिम पांच ओवर में 68 रन बटोरे. डिंडा दो विकेट चटकाकर सबसे सफल गेंदबाज रहे लेकिन उन्होंने चार ओवर में 52 रन लुटाए.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay