एडवांस्ड सर्च

Advertisement

हैदराबाद को हरा राजस्‍थान दूसरे क्‍वालीफायर में | फोटो

ट्वेंटी-20 क्रिकेट का अपार अनुभव रखने वाले आस्ट्रेलियाई हरफनमौला ब्रैड हॉज (नाबाद 54) की साहसिक पारी के दम पर राजस्थान ने बुधवार को फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए टी-20 लीग-6 के एलिमिनेटर मुकाबले में हैदराबाद को 4 विकेट से हराकर दूसरे क्वालीफायर में खेलने का हक हासिल किया.
हैदराबाद को हरा राजस्‍थान दूसरे क्‍वालीफायर में | <a style='COLOR: #d71920' href='http://bit.ly/18iMvyt' target='_blank'>फोटो</a>
आईएएनएसनई दिल्ली, 23 May 2013

ट्वेंटी-20 क्रिकेट का अपार अनुभव रखने वाले आस्ट्रेलियाई हरफनमौला ब्रैड हॉज (नाबाद 54) की साहसिक पारी के दम पर राजस्थान ने बुधवार को फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए टी-20 लीग-6 के एलिमिनेटर मुकाबले में हैदराबाद को 4 विकेट से हराकर दूसरे क्वालीफायर में खेलने का हक हासिल किया.

दूसरी ओर, इस हार के साथ पहली बार टी-20 लीग में खेल रही हैदराबाद टीम का स्वर्णिम सफर समाप्त हो गया. हार के साथ हैदराबाद फाइनल की दौड़ से बाहर हो गए जबकि 2008 में टी-20 लीग-6 के पहले संस्करण का खिताब जीत चुकी राजस्थान की टीम दूसरे क्वालीफायर में 24 मई को कोलकाता में मुम्बई से भिड़ेगी. दो बार की चैम्पियन चेन्नई मंगलवार को कोटला में ही मुम्बई को हराकर लगातार चौथी और कुल पांचवीं बार फाइनल में पहुंच चुकी है.

हैदराबाद ने राजस्थान के सामने 133 रनों का अपेक्षाकृत औसत लक्ष्य रखा था लेकिन जल्दी-जल्दी विकेट गिरने के कारण एक समय राजस्थान की टीम मुश्किल में दिखाई दे रही थी. इसके बावजूद हॉज ने जेम्स फॉल्कनर (नाबाद 11) के साथ सातवें विकेट के लिए 35 गेंदों पर 45 रनों की साझेदारी निभाते हुए अपनी टीम को 19.2 गेंदों पर चार विकेट शेष रहते शानदार जीत दिलाई. हॉज ने अपनी 29 गेंदों की पारी में पांच छक्के और दो चौके लगाए. वह मैन ऑफ द मैच चुने गए.

हैदराबाद की तरह राजस्थान की भी शुरुआत खराब रही. 13 रन के कुल योग पर उसने अपने कप्तान राहुल द्रविड़ (12) का विकेट गंवा दिया. द्रविड़ हालांकि बेहतरीन लय में दिख्र रहे थे. उन्होंने अपनी 10 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाए. शेन वॉटसन (24) और अजिंक्य रहाणे (18) ने इसके बाद दूसरे विकेट के लिए 37 रनों की साझेदारी निभाई. करण शर्मा के पहले ओवर की तीसरी गेंद पर चौका लगाने के बाद वॉटसन सीमा रेखा पर डेरेन सैमी के हाथों लपके गए. वॉटसन ने 15 गेंदों पर पांच चौके लगाए.

इसके बाद तो मानो राजस्थान को किसी की बुरी नजर लग गई. सेमी ने 53 के कुल योग पर दिशांत याज्ञनिक को बोल्ड किया और फिर अमित मिश्रा ने 55 के कुल योग पर रहाणे को पवेलियन की राह दिखाई. रहाणे ने 20 गेंदों पर एक छक्का लगाया. स्टुअर्ट बिन्नी (2) बड़ी पारियां खेलने के लिए मशहूर हैं लेकिन इस अहम मैच में वह भी कुछ खास नहीं कर सके और 57 के कुल योग पर सैमी की गेंद पर बोल्ड हो गए.

बिन्नी का स्थान लेने आए हॉज ने संजू सैमसन (10) के साथ मिलकर स्कोर को 100 के पार पहुंचाया. इससे हैदराबाद की मुश्किल बढ़ती नजर आ रही थी लेकिन डेल स्टेन ने पारी के 16वें ओवर में सैमसन को आउट करके अपनी टीम को मुश्किल से निजात दिलाई. सैमसन ने 21 गेंदों का सामना किया.

सैमसन और हॉज ने छठे विकेट के लिए 45 रन जोड़े. इसके बाद हॉज और फॉल्कर अपनी टीम को जीत के करीब पहुंचाया. राजस्थान को अंतिम 12 गेंदों पर जीत के लिए 15 रन चाहिए थे लेकिन हॉज तथा फॉल्कर श्रीलंकाई थिसिरा परेरा द्वारा फेंके गए उस ओवर में सिर्फ पांच रन जुटा सके. अंतिम ओवर डेरेन सैमी लेकर आए. हॉज ने पिछले ओवर का कसर शुरुआती दो गेंदों में ही निकाल ली और लगातार दो छक्के लगाकर अपनी टीम को यादगार जीत दिलाई.

फॉल्कनर ने 11 गेंदों पर दो चौके लगाए. इससे पहले, टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 132 रन बनाए. इसमें शिखर धवन के 33, कप्तान कैमरन व्हाइट के 31 और डेरेन सैमी के 29 शामिल हैं. राजस्थान की ओर से विक्रमजीत मलिक ने दो विकेट लिए. हैदराबाद की शुरुआत अच्छी नहीं रही. उसके दो विकेट महज तीन रनों के कुल योग पर गिर गए.

पार्थिव पटेल (1) को दो के कुल योग पर विक्रमजीत मलिक ने संजू सैमसन के हाथों कैच कराया. इसके बाद मलिक ने अपने दूसरे और पारी के तीसरे ओवर में हनुमा विहारी (1) को केपन कूपर के हाथों कैच करा दिया. यह विकेट तीन रनों के कुल योग पर गिरा. सलामी बल्लेबाज धवन और कप्तान व्हाइट ने तीसरे विकेट के लिए 53 रन जोड़े.

विकेट बचाए रखने की जिद्दोजहद में धवन और व्हाइट तेजी से रन नहीं बटोर सके. व्हाइट 55 रन के कुल योग पर सिद्धार्थ त्रिवेदी की गेंद पर कूपर के हाथों लपके गए. व्हाइट ने 28 गेंदों पर पांच चौके लगाए. इसके बाद उनका स्थान लेने आए सैमी ने धवन के साथ चौथे विकेट के लिए 28 रनों की साझेदारी की. धवन का विकेट 83 के कुल योग पर गिरा. जेम्स फाल्कनर की गेंद पर आउट होने से पहले धवन ने अपनी 39 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाए.

धवन के आउट होने के बाद थिसिरा परेरा (11) और सैमी ने पांचवें विकेट के लिए 10 गेंदों पर 28 रनों की साझेदारी की. इन दोनों ने स्कोर को 100 के पार पहुंचाया. सैमी 21 गेंदों पर तीन छक्के लगाने के बाद रन आउट हुए. परेरा का विकेट 113 के कुल योग पर गिरा. उन्होंने छह गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया. बिप्लब सैमेंट्रे (14) ने पारी के अंतिम क्षणों में कुछ आकर्षक शॉट लगाए लेकिन 127 रनों के कुल योग पर वह दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से रन आउट हो गए. सैमेंट्रे ने 11 गेंदों पर दो चौके लगाए.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay