एडवांस्ड सर्च

इशांत शर्मा पर निकला सौरव गांगुली का गुस्सा, दादा ने की हरभजन सिंह और जहीर खान की वापसी की मांग

अगर कोई मैच कोई टीम महज 6 गेंदों की वजह से हार जाती है तो आप इसे दुर्भाग्य कहते हैं. लेकिन शनिवार को मोहाली में जो हुआ वो शॉकिंग था और इशांत शर्मा अब कहां मुंह छिपाएंगे. सीरीज के बाकी बचे चार मैचों के लिए रविवार को टीम का चयन होना है. इस मैच के बाद इशांत शर्मा की टीम में जगह बनाए रखना बहुत मुश्किल लग रहा है.

Advertisement
aajtak.in
विक्रांत गुप्ता [Translated By: नमिता शुक्ला]मोहाली, 20 October 2013
इशांत शर्मा पर निकला सौरव गांगुली का गुस्सा, दादा ने की हरभजन सिंह और जहीर खान की वापसी की मांग सौरव गांगुली

अगर कोई मैच कोई टीम महज 6 गेंदों की वजह से हार जाती है तो आप इसे दुर्भाग्य कहते हैं. लेकिन शनिवार को मोहाली में जो हुआ वो शॉकिंग था और इशांत शर्मा अब कहां मुंह छिपाएंगे. सीरीज के बाकी बचे चार मैचों के लिए रविवार को टीम का चयन होना है. इस मैच के बाद इशांत शर्मा की टीम में जगह बनाए रखना बहुत मुश्किल लग रहा है.

इशांत और अश्विन पर बरसे गांगुली
इशांत के एक ओवर में 30 रन देने पर प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा, 'शॉकिंग बहुत छोटा शब्द है.' दादा ने कड़े शब्दों में कहा, 'उसने (इशांत) अपनी गेंदबाजी में कोई वेरायटी नहीं दिखाई ऐसे में आप उससे सहानुभूति नहीं दिखा सकते हैं. न यॉर्कर, न स्लोअर यहां तक कि इशांत ने गेंदबाजी के दौरान एंगल भी नहीं बदले.'

इतना ही नहीं आर अश्विन पर भी दादा जमकर बरसे, 'अगर रवींद्र जडेजा अच्छी गेंदबाजी कर पाए तो अश्विन क्यों नहीं? उसे अच्छी गेंदबाजी करने की जरूरत है क्योंकि भारत को ऐसे ही फ्लैट पिचों पर संघर्ष करना है.'

'टीम में जहीर और हरभजन की हो वापसी'
दादा ने कहा कि टीम में जहीर खान और हरभजन सिंह की वापसी होनी चाहिए. गांगुली ने कहा, 'हरभजन सिंह कहां हैं? आप जहीर खान को क्यों टीम में नहीं ले रहे हैं. जहीर खान ने 650 विकेट लिए हैं, प्रदर्शन के आधार पर उसे टीम से बाहर किया गया है तो बाकियों के साथ भी वही करिए. जहीर खान को वनडे टीम में वापस लाइये. अगर आप चाहते हैं कि जहीर टेस्ट मैच खेले तो वो वनडे में भी 10 ओवर कर सकता है. अमित मिश्रा को भी मौका दिया जाना चाहिए.'

'गलत साबित हुई मेरी भविष्यवाणी'
सौरव ने सीरीज शुरू होने से पहले कहा था कि टीम इंडिया आसानी से ये सीरीज जीत जाएगी, लेकिन अब उन्होंने कहा है, 'मेरी भविष्यवाणी गलत थी. आस्ट्रेलियाई टीम यहां अच्छी तैयारी के साथ आई है और अगर भारत रांची में हारता है तो उनके लिए वापसी करना मुश्किल हो जाएगा. धोनी को नॉन परफॉर्मर खिलाड़ियों से निपटना चाहिए.'

'टीम इंडिया की बल्लेबाजी को लेकर चिंतित नहीं'
दादा ने धोनी की जमकर तारीफ करते हुए कहा, 'धोनी इस मैच में शानदार खेले लेकिन उनका दुर्भाग्य था कि टीम मैच हार गई. वनडे के लिए धोनी सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं. इस मैच में टीम इंडिया की बल्लेबाजी लड़खड़ाई लेकिन मैं इसको लेकर चिंतित नहीं हूं. हमारा बल्लेबाजी क्रम बहुत अच्छा है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay