एडवांस्ड सर्च

बाबा रामदेव ने बताया- क्यों फटी जींस बेच रही पतंजलि

योग गुरु बाबा रामदेव ने अब गारमेंट्स इंडस्ट्री में कदम रख दिया है. सोमवार को नई दिल्ली के नेताजी सुभाष प्लेस में पहले 'पतंजलि परिधान' शोरूम का उद्घाटन किया गया.

Advertisement
aajtak.in
राहुल विश्वकर्मा नई दिल्ली, 05 November 2018
बाबा रामदेव ने बताया- क्यों फटी जींस बेच रही पतंजलि पतंजलि स्टोर का उद्घाटन करते बाबा रामदेव.

बाबा रामदेव ने कपड़े के बाजार में दस्तक दे दी है. धनतेरस के मौके पर बाबा रामदेव ने दिल्ली में पतंजलि परिधान नाम से कपड़े के पहले स्टोर का उद्घाटन किया.

रामदेव ने कहा कि विदेशी कंपनियों के जो बड़े ब्रांड महंगे कपड़े बेच रहे हैं, उनकी तुलना में यहां बेहद कम दाम में कपड़े मिलेंगे. बाबा ने बताया कि यह स्टोर चार हजार स्क्वायर फीट में है.

रामदेव ने बताया कि पुरुषों के लिए सभी परिधान संस्कार नाम से जबकि महिलाओं के लिए आस्था ब्रांड बनाया है.

जींस के बारे में बाबा ने कहा कि इसमें सैकड़ों ऑप्शन हैं. बाबा ने कहा कि सिली हुई तो है ही, फटी हुई जींस भी हमने रखी है. लेकिन हमने जींस को उतना ही फाड़ा है जिसमें भारतीयता बरकरार रहे. बाबा ने कहा कि ज्यादा तोड़फोड़ में भारतीयता का ही नुकसान है. इसलिए जींस थोड़ी ही घिसी है. युवा ज्यादा पसंद कर रहे, लिहाजा सबका ध्यान रखते हुए ऐसा बनाया गया है.

दिल्ली के नेताजी सुभाष प्लेस में पहले 'पतंजलि परिधान' शोरूम का उद्घाटन करते हुए रामदेव ने गारमेंट्स बिजनेस की शुरुआत की. इस दौरान रामदेव के साथ मशहूर पहलवान सुशील कुमार, फिल्म प्रोड्यूसर मधुर भंडारकर भी मौजूद रहे. 'पतंजलि परिधान' शोरूम में 3 हजार नए प्रॉडक्ट बिकेंगे. इनमें भारतीय कपड़ों से लेकर वेस्टर्न कपड़े, एक्सेसरीज और गहनों तक की बिक्री होगी. दिवाली पर इस शोरूम में 25 फीसदी तक का डिस्काउंट भी मिलेगा.

लॉन्च के अवसर पर रामदेव ने बताया कि दिसंबर तक वह देश में करीब 25 नए स्टोर खोलेंगे. अभी दिल्ली में ही ये स्टोर है, यहां जींस 1100 रुपये की मिल रही है. 'परिधान' शोरूम में लिव फिट स्पोर्ट्स वीयर, एथनिक वीयर, आस्था वीमेंस वीयर और संस्कार मेंस वीयर नाम से अलग-अलग कैटगरी में कपड़े बिकेंगे. मेंस वीयर में जींस भी बिकेंगी. कंपनी का दावा है कि स्वदेशी जींस भारतीयों, खासकर महिलाओं के लिए बहुत ही आरामदेह होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay