एडवांस्ड सर्च

Weather Forecast Today: चक्रवात निसर्ग का अलर्ट, मुंबई में तेज हवाओं के साथ बारिश, NDRF की टीमें तैनात

Weather Forecast Today Live Updates, Cyclone Nisarga Live Tracker: महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय इलाकों में निसर्ग चक्रवाती तूफान का खतरा मंडरा रहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चेतावनी दी है कि 3 जून की शाम को चक्रवाती तूफान उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात को पार करेगा.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 02 June 2020
Weather Forecast Today: चक्रवात निसर्ग का अलर्ट, मुंबई में तेज हवाओं के साथ बारिश, NDRF की टीमें तैनात Weather Forecast Today Live Updates, Cyclone Nisarga Live Tracker (साइक्लोन, निसर्ग, चक्रवाती तूफान)

  • महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय इलाकों में रेड अलर्ट जारी
  • 110 किलोमीट/घंटे की रफ्तार से टकरा सकता है चक्रवात
  • महाराष्ट्र और गुजरात में एनडीआरएफ की टीमें तैनात

चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' गुजरात के तट पर 3 जून को दस्तक दे सकता है. इसके मद्देनजर महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, दमन-दीव और दादरा नगर हवेली में अलर्ट जारी किया गया है. इससे होने वाली तबाही की आशंका को देखते हुए राज्य सरकारों ने निचले स्थानों पर रहने वाले लोगों को निकालने का आदेश दिया है. साथ ही आधा दर्जन से अधिक जिलों में नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (NDRF) की 10 टीमें तैनात की गई हैं. निसर्ग के खतरे से निपटने के लिए कुल NDRF 23 टीमों को तैनात किया गया है. एनडीआरएफ की 5 टीमों को भठिंडा से गुजरात के लिए एयरलिफ्ट किया गया है.

चक्रवात मुंबई और पालघर के नजदीक पहुंच गया है. यह मुंबई में समुद्र के तट को हिट करने वाला है. मुंबई के लिए यह पहला गंभीर चक्रवात होगा. दरअसल, अरब सागर पर बना कम दबाव का क्षेत्र मुंबई की ओर बढ़ रहा रहा है, इसकी गति 11 किलोमीटर प्रति घंटा है. लेकिन इसके तूफान में बदलते ही हवा की गति 120 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है. अभी यह मुंबई से 430 किमी दूर है. तूफान की हलचल के चलते मुंबई समेत महाराष्ट्र के ज्यादातर इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है.

इंडिगो एयरलाइंस ने मुंबई से रद्द की अपनी 17 उड़ानें

निसर्ग तूफान के खतरे को देखते हुए इंडिगो ने मुंबई से अपनी 17 उड़ानों को रद्द कर दिया है. इंडिगो गुरुवार को सिर्फ तीनों उड़ानों का ही संचालन करेगा.

लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा जा रहा

तूफान के खतरे को देखते हुए गुजरात-महाराष्ट्र में समंदर तट के आप-पास के इलाकों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है. समंदर किनारे के इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा गया है. इसके अलावा घरेलू पशुओं को भी सुरक्षित स्थानों पर लेकर जाने की सलाह दी गई है.

मुंबई और आस-पास के जिलों में रेड अलर्ट

महाराष्ट्र सरकार ने चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ से मद्देनजर मुंबई और आस पास के जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है. NDRF की 10 टीमों को संवेदनशील जिलों में तैनात गया है, जबकि 6 अन्य को अलर्ट रखा गया है. तटीय पालघर और रायगढ़ जिलों में स्थित रासायनिक और परमाणु ऊर्जा संयंत्रों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त एहतियात बरती जा रही है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक बयान में कहा कि अरब सागर में विकसित हो रहे चक्रवाती तूफान के मद्देनजर मुंबई शहर, मुंबई उपनगरीय जिले, ठाणे, पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों में अलर्ट जारी किया गया है.

ये भी पढ़ें- निसर्ग तूफान से निपटने के लिए एजेंसियां अलर्ट, NDRF की टीमें तैनात

125 की रफ्तार पकड़ सकता है निसर्ग

इस दवाब के भयंकर चक्रवाती तूफान में तब्दील होने पर हवा की गति 105 से 115 किमी प्रति घंटा हो सकती है. वहीं, कल यानी 3 जून को हवा की रफ्तार 125 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच सकती है. मौसम विभाग के मुताबिक, 'इससे दक्षिणी गुजरात क्षेत्र में 3 और 4 जून को भारी बारिश होगी.'

निसर्ग तूफान से निपटने के लिए एजेंसियां अलर्ट, NDRF की टीमें तैनात

3 जून तक गुजरात-महाराष्ट्र के तट से टकराने की संभावना

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि अरब सागर पर बना कम दबाव का क्षेत्र अगले 24 घंटों में चक्रवात का रूप ले सकता है. विभाग ने चेतावनी दी है कि 3 जून की शाम को चक्रवाती तूफान उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात को पार कर जाएगा जिससे भारी बारिश होने का अनुमान है. मौसम विभाग के मुताबिक कम दबाव का क्षेत्र वर्तमान में गोवा से 300 किलोमीटर दूर है. वहीं, दोनों ही राज्यों में मछुआरों को समंदर किनारे ना जाने की सलाह दी गई है.

तैयारियों की समीक्षा करने के बाद मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि चक्रवात के कारण उपजी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए दक्षिणी गुजरात के पांच जिलों- सूरत, भरुच, नवसारी, वलसाड और दांग और सौराष्ट्र के भावनगर और अमरेली जिले में NDRF की 10 टीमें तैनात की गई हैं.

गोवा में भारी बारिश

गुजरात और महाराष्ट्र में निसर्ग चक्रवात के अलर्ट के बीच गोवा में भी बारिश शुरू हो गई है. मौसम विभाग का अनुमान है कि चक्रवात के असर से तटीय इलाकों में तेज हवा के साथ भारी बारिश जारी रहेगी.

गोवा में मछुआरों को समंदर तक पर ना जाने की सलाह

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने उत्तरी और दक्षिण गोवा जिलों के कई हिस्सों में भारी बारिश होने और 45 से लेकर 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान जताया है. इस खतरे को देखते हुए गोवा में लोगों को अगले दो दिनों में समंदर तटों पर नहीं जाने की सलाह दी गई है.

गृहमंत्री अमित शाह ने लिया हालात का जायजा

चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' के खतरे को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने इससे निपटने की तैयारियों को लेकर नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (NDMA) के अधिकारियों और प्रभावित होने वाले राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बैठक की. इस दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उन्होंने हर संभव मदद का भरोसा दिया.

तापमान में गिरावट

मॉनसून की शुरुआत होने और अरब सागर में चक्रवाती गतिविधियों के कारण अनेक स्थानों में बारिश होने से सोमवार को देश के बड़े हिस्से में तापमान सामान्य से कम रहा. दक्षिण पश्चिमी मॉनसून अपने नियत समय पर सोमवार को केरल पहुंच गया और इसी के साथ 4 महीने तक चलने वाले बरसात के मौसम की शुरुआत हो गई. पश्चिमी विक्षोभ के चलते पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में कहीं कहीं वर्षा हुई.

5 दिनों तक लू से राहत

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने एक बुलेटिन में कहा, 'अगले 5 दिनों में देश में लू चलने की कोई संभावना नहीं है.' दिल्ली में आंशिक रूप से बादल छाए रहे और अधिकतम तापमान 35.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. देश में वर्धा (विदर्भ) में सबसे अधिक तापमान 43.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो रविवार को मध्य प्रदेश के खरगोन में 44.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किए गए तापमान से एक डिग्री कम है.

उत्तर भारत में ज्यादा होगी बारिश

आईएमडी ने कहा कि उत्तर भारत में ‘सामान्य से अधिक’ मॉनसून की वर्षा होने की संभावना है, वहां मध्य भारत और दक्षिणी प्रायद्वीप में ‘सामान्य’ वर्षा होगी. हालांकि, पूर्व और पूर्वोत्तर भारत में देश के अन्य हिस्सों की तुलना में कम बारिश होने की संभावना है.

cyclone-2-june_060220082735.jpg

मॉनसून ने केरल में दी दस्तक

सोमवार को केरल में मॉनसून ने दस्तक दी है. इसी के साथ सोमवार को केरल के कई हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश हुई. जिले में दो दिन के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया. रेड अलर्ट बहुत भारी से भीषण बारिश की संभावना को व्यक्त करता है.

मुंबई में भी बारिश

अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के बाद प्रचंड गर्मी झेल रहे मुंबई और इसके आसपास के इलाकों में सुबह के समय हल्की बौछारें पड़ी. आईएमडी की वेबसाइट के अनुसार, मुंबई के धारावी में पिछले 24 घंटों में सबसे अधिक 31.46 मिमी बारिश दर्ज की गई. रविवार को भी, पुणे समेत राज्य के कुछ हिस्सों में आंधी आई और तेज हवाओं के साथ बारिश हुई थी.

Weather Forecast Updates: इन 11 राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट

दिल्ली में होगी बारिश

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में तापमान सोमवार को सामान्य से 7 डिग्री कम दर्ज किया गया. सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम तापमान 35.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया वहीं पालम वेधशाला ने अधिकतम तापमान 36 डिग्री सेल्सियस उच्च दर्ज किया. मौसम विभाग ने मंगलवार को शहर में बहुत हल्की बारिश या गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान व्यक्त किया है. इस दौरान अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमशः 37 और 23 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है.

यूपी में बारिश

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 36.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. राज्य के कुछ हिस्सों में बलिया में 7.3 मिमी और गोरखपुर में 0.8 मिमी वर्षा दर्ज की गई. बांदा राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा, जहां पारा 41.6 डिग्री सेल्सियस रहा, उसके बाद झांसी में 41.1 डिग्री सेल्सियस और इलाहाबाद में 40.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

पंजाब-हरियाणा में भी तापमान कम

हरियाणा और पंजाब के कई हिस्सों में पिछले दो-तीन दिनों में बारिश हुई और अधिकतम तापमान सोमवार को सामान्य स्तर से कम रहा. चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान सामान्य से छह डिग्री अधिक 33.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. पंजाब के लुधियाना में तापमान सामान्य से 7 डिग्री नीचे 32.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

हरियाणा में अंबाला का अधिकतम तापमान सामान्य से 7 डिग्री कम 32.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि करनाल का तापमान सामान्य से आठ डिग्री कम 32 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हिसार का अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री कम 34.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि नारनौल का तापमान 35.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

राजस्थान में हुई बारिश

राजस्थान के कुछ हिस्सों में सोमवार को हवाओं के साथ बारिश हुई. चुरु में 63.6 मिमी वर्षा दर्ज की गई, जयपुर में 11.7 मिमी, अजमेर में 2.6 मिमी, कोटा में 0.6 मिमी वर्षा हुई. कोटा राज्य में सबसे गर्म स्थान रहा जहां तापमान 40.9 डिग्री सेल्सियस रहा, जैसलमेर में 40, बीकानेर में 39.8, बाड़मेर और चुरु में तापमान 38.5 डिग्री सेल्सियस रहा.

विभाग ने आगामी 24 घंटे के दौरान अजमेर, अलवर, बांसवाडा, डूंगरपुर, प्रतापगढ, भीलवाडा, भरतपुर, धौलपुर, करौली, कोटा, जयपुर, बीकानेर, चूरू, गंगानगर, नागौर में कहीं कहीं मेघगर्जन /गरज चमक के साथ तेज हवाएं चलने की संभावना जताई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay