एडवांस्ड सर्च

अकाली दल के गले की फांस बनी लोंगोवाल और खालिस्तानी गोपाल चावला की वायरल तस्वीर

नवजोत सिंह सिद्धू और चावला की तस्वीर पर सिद्धू पर निशाना साधने वाले अकाली दल के महासचिव और प्रवक्ता डॉ. दलजीत सिंह चीमा से जब गोपाल सिंह चावला और लोंगोवाल की वायरल तस्वीर को लेकर सवाल किया गया तो वह जवाब नहीं दे पाए. उन्होंने कहा कि अकाली दल तस्वीर को लेकर नहीं बल्कि नवजोत सिंह सिद्धू से इसलिए खफा है कि पाकिस्तान ने उनकी उपस्थिति का फायदा उठाते हुए करतारपुर कॉरिडोर समारोह का इस्तेमाल कश्मीर का राग अलापने के लिए किया.

Advertisement
aajtak.in
मनजीत सहगल/ श्याम सुंदर गोयल 29 November 2018
अकाली दल के गले की फांस बनी लोंगोवाल और खालिस्तानी गोपाल चावला की वायरल तस्वीर गोविंद लोंगवाल और गोपाल चावला की तस्वीर इंटरनेट पर वायरल (Photo:aajtak)

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के प्रमुख गोविंद लोंगोवाल और पाकिस्तान गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के महासचिव और खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला की तस्वीर इंटरनेट पर वायरल है. नवजोत सिंह सिद्धू और चावला की तस्वीर पर  हंगामा खड़ा करने वाले अकाली दल के नेतालोंगोवाल और चावला की तस्वीर के सवाल पर जवाब नहीं दे पाए.

पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और पाकिस्तान गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के महासचिव और हाफिज सईद के गुर्गे गोपाल सिंह चावला की तस्वीर को लेकर अकाली दल ने हंगामा खड़ा कर दिया. लेकिन जब अकाली दल नेताओं से शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के अध्यक्ष गोविंद लोंगोवाल और गोपाल सिंह चावला की वायरल तस्वीर के बारे में पूछा गया तो उनसे जवाब देते न बना. उन्होंने कहा कि अकाली दल तस्वीर को लेकर नहीं बल्कि नवजोत सिंह सिद्धू से इसलिए खफा है कि पाकिस्तान नेउनकी उपस्थिति का फायदा उठाते हुए करतारपुर कॉरिडोर समारोह का इस्तेमाल कश्मीर का राग अलापने के लिए किया.

हालांकि जब उनसे पूछा गया कि केंद्रीय मंत्री और अकाली दल नेता हरसिमरत कौर बादल भी मंच पर भारतीय प्रतिनिधि के तौर पर मौजूद थीं तो उन्होंने आखिर पाकिस्तान द्वारा भारत में फैलाए जा रहे आतंकवाद का मुद्दा क्यों नहीं उठाया तो चीमा ने कहा, "हम समझते हैं कि हरसिमरतकौर बादल जिस मंच पर उपस्थित थीं वहां पर कोई भी विवादास्पद मामला उछालना सही नहीं था. 

गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को फरिश्ता और शांति दूत कहने वाले पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू भारतीय जनता पार्टी और अकाली दल के निशाने पर हैं. खुद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी नवजोत सिंह सिद्धू कोपाकिस्तान न जाने की सलाह दी थी फिर भी वह गए. एक तरफ कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल बाजवा को दो टूक कहा था कि जब तक पाकिस्तान खून खराबा नहीं रोकेगा वह पाकिस्तान नहीं जा सकते. वहीं, नवजोत सिंह सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की सलाह न मानते हुएपाकिस्तान जाने का फैसला किया.

उधर, शिरोमणि अकाली दल ने कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी से यह साफ करने को कहा है कि वह नवजोत सिंह सिद्धू के साथ हैं या फिर कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ. इमरान खान द्वारा नवजोत सिंह सिद्धू की पाकिस्तान प्रसिद्धि को लेकर दिए गए बयान पर चुटकी लेते हुए डॉक्टर दलजीत सिंह चीमा ने कहा कि राहुल गांधी को अब पाकिस्तान में भी कांग्रेस की एक अंतर्राष्ट्रीय इकाई खोल देनी चाहिए ताकि सिद्धू पाकिस्तान में चुनाव लड़ सकें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay