एडवांस्ड सर्च

माल्या कोर्ट क्यों नहीं पहुंचे? वकील का तर्क- गलत पते पर भेजे जाते रहे नोटिस

दो मार्च 2016 को विजय माल्या भारत छोड़कर फरार हो गए थे, जिसके बाद 18 अप्रैल 2016 को माल्या के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ था. लंदन में रह रहे माल्या को फिलहाल भारत लाने की कोशिश चल रही है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: जावेद अख़्तर]नई दिल्ली, 03 September 2018
माल्या कोर्ट क्यों नहीं पहुंचे? वकील का तर्क- गलत पते पर भेजे जाते रहे नोटिस विजय माल्या

बैंकों का 9 हजार करोड़ से ज्यादा कर्ज न चुकाने वाले कारोबारी विजय माल्या को भारत लाने की कोशिशें अब तक कामयाब नहीं हो पाई हैं. इस बीच उससे जुड़ी एक और चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है, जिसमें ये दावा किया गया है कि अब तक प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से जो नोटिस माल्या को भेजे जा रहे थे, वो गलत पते पर भेजे गए.

विजय माल्या के वकील अमित देसाई ने ये दावा किया है. दरअसल, प्रवर्तन निदेशालय समेत दूसरी जांच एजेंसियां भी माल्या की धरपकड़ में लगी हुई हैं. ब्रिटेन की अदालत में माल्या के प्रत्यर्पण का केस भी चल रहा है. जांच के दौरान प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से विजय माल्या को नोटिस भी भेजे गए. इसी में माल्या को 27 अगस्त को कोर्ट में पेश होने का नोटिस भी भेजा गया था.

माल्या के पेश न होने पर सफाई देते हुए नोटिस के जवाब में अमित देसाई ने कहा कि ईडी ने माल्या को जो भी नोटिस भेजे हैं, वो गलत पते पर भेजे गए हैं और उन्हें एजेंसी का कोई भी नोटिस नहीं मिला है. देसाई का दावा है कि ये नोटिस बेंगलुरु स्थित दफ्तर पर भेजे गए हैं. अब देसाई ने ये भी कहा है कि उन्हें जवाब देने के पर्याप्त समय दिया जाना चाहिए.

बता दें कि विजय माल्या के खिलाफ लंदन में प्रत्यर्पण केस चल रहा है. भारतीय बैंकों के साथ कर्ज में नौ हजार करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग का आरोपी विजय माल्या दो मार्च 2016 देश छोड़कर फरार हो गए था और पिछले दो साल से लंदन में ही रह रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay