एडवांस्ड सर्च

क्रिकेट स्टेडियम के बाहर विजय माल्या को देखकर लोगों ने लगाए 'चोर है-चोर है' के नारे

ओवल क्रिकेट स्टेडियम में मैच देखने के बाद जब विजय माल्या बाहर निकला तो उसके साथ उसकी मां भी थीं. तभी अचानक भीड़ ने उन्हें घेर लिया, जबकि सुरक्षाकर्मी उन्हें भीड़ से बचाकर निकालने का प्रयास कर रहे थे. लोगों ने माल्या के देखने के बाद 'चोर है' के नारे लगाने शुरू कर दिए.

Advertisement
aajtak.in
लवीना टंडन नई दिल्ली, 10 June 2019
क्रिकेट स्टेडियम के बाहर विजय माल्या को देखकर लोगों ने लगाए 'चोर है-चोर है' के नारे विजय माल्या (फोटो- ट्विटर)

भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या इंग्लैंड के ओवल क्रिकेट स्टेडियम में रविवार को भारत-ऑस्ट्रेलिया मैच देखने पहुंचा. माल्या को यहां लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा. माल्या को देखने के बाद वहां मौजूद लोगों ने 'विजय माल्या चोर है' के नारे लगाने शुरू कर दिए.

ओवल क्रिकेट स्टेडियम में मैच देखने के बाद जब विजय माल्या बाहर निकला तो उसके साथ उसकी मां भी थीं. तभी अचानक भीड़ ने उन्हें घेर लिया, जबकि सुरक्षाकर्मी उन्हें भीड़ से बचाकर निकालने का प्रयास कर रहे हैं. लोगों ने माल्या के देखने के बाद 'चोर है' के नारे लगाने शुरू कर दिए. वहां मौजूद पत्रकार ने जब उनसे इस पर प्रतिक्रिया देने के लिए कहा तो विजय माल्या ने कहा- मुझे यकीन है कि मेरी मां को इससे पीड़ा नहीं हुई है.

आजतक ने तब विजय माल्या ने पूछा कि क्या वह वापस भारत जाना चाहता है और अपने ऊपर लगे आरोपों का सामना करना चाहता है तो उसने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. इस बातचीत से पीछा छुड़ाते हुए माल्या ने सिर्फ इतना ही कहा कि अगर आप अपनी बूढ़ी मां के साथ भीड़ में फंस जाते हैं तो क्या करते हैं...

10 दिसंबर 2018 को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत ने उसके प्रत्यर्पण का आदेश दिया था, जिसके बाद माल्या ने हाई कोर्ट में अपील की. वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत की चीफ मजिस्ट्रेट जस्टिस एम्मा अर्बुथनोट ने उस वक्त माल्या के मामले को गृह सचिव साजिद जावेद के पास भेज दिया था. उन्होंने भी फरवरी में प्रत्यर्पण की मंजूरी दी.

63 वर्षीय माल्या 9,000 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाने में नाकाम रहने पर 2 मार्च 2016 को भारत से भाग गए थे. यह लोन उसने किंगफिशर एयरलाइंस के लिए लिया था. हालांकि माल्या ने कई बार देश छोड़ने की बात से इनकार करते हुए भारतीय बैंकों का कर्ज लौटाने की बात कही है. साल 2017 में भारत ने माल्या के खिलाफ प्रत्यर्पण की कार्यवाही शुरू की थी, जिसका उसने विरोध किया था. माल्या फिलहाल लंदन में जमानत पर हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay