एडवांस्ड सर्च

News@2 PM: अभी तक की बड़ी खबरें

जाट आंदोलन से दिल्ली पर होते असर के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बात की. दोनों ने ही केजरीवाल को भरोसा दिलाया है कि सेना को जल्द मुनक नहर भेजा जाएगा.

Advertisement
aajtak.in
सुरभि गुप्ता नई दिल्ली, 20 February 2016
News@2 PM: अभी तक की बड़ी खबरें जाट आंदोलन

जाट आंदोलन से दिल्ली पर होते असर के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बात की. दोनों ने ही केजरीवाल को भरोसा दिलाया है कि सेना को जल्द मुनक नहर भेजा जाएगा.

1. जाट आंदोलनः खट्टर ने केजरीवाल को दिया भरोसा, मुनक नहर की सुरक्षा करेगी सेना
जाट आंदोलन से दिल्ली पर होते असर के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से बात की. दोनों ने ही केजरीवाल को भरोसा दिलाया है कि सेना को जल्द मुनक नहर भेजा जाएगा. इसके बाद दिल्ली को पानी की सप्लाई में कोई दिक्कत नहीं होगी. केजरीवाल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

2. मेरे खून में है देशभक्ति, नहीं चाहिए रिपोर्ट कार्डः राहुल गांधी
जेएनयू में देशद्रोही नारेबाजी के मामले में छात्रों के समर्थन में गए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मेरे खून में देशभक्ति है. जेएनयू विवाद में राहुल सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ गए थे. लोग उनकी देशभक्ति पर सवाल करने लगे थे. राहुल ने आज उन सबका जवाब देते हुए ट्वीट किया.

3. जाट आंदोलन: CM केजरीवाल ने राजनाथ से मिलने का वक्त मांगा
हरियाणा में जाट आंदोलन ने बिगड़ते हालात और उसके दिल्ली पर पड़ते असर को देखकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर चिंता जताई. उन्होंने लिखा कि दिल्ली पर जाट आंदोलन का बुरा असर पड़ रहा है, खासकर दिल्ली में पानी सप्लाई पर. उन्होंने कहा कि मैंने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने का वक्त मांगा है. केजरीवाल ने फोन पर राजनाथ सिंह और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर से बात की. खट्टर ने जल्द ही मुनक नहर पर सेना भेजने का भरोसा दिलाया है.

4. जाट आंदोलनः 450 से ज्यादा ट्रेनें रद्द
हरियाणा में चल रहे जाट आरक्षण आंदोलन की वजह से रेल मंत्रालय को सैकड़ों करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है. कुल 716 ट्रेनों के परिचालन पर बेहद बुरा असर पड़ा है. 450 से ज्यादा ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. वहीं बेहद जरूरी कुछ ट्रेन के रूट बदले गए हैं. उत्तरी रेलवे के सीपीआरओ नीरज शर्मा ने बताया कि आंदोलन की वजह से पहले दिन से ही रेलवे को रोजाना दो सौ करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हो रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay