एडवांस्ड सर्च

तमिलनाडु: बैनर गिरने से लड़की की मौत, सीएम पलानीसामी ने बुलाई बैठक

चेन्नई कारपोरेशन के असिस्टेंट इंजीनियर अमलराज की शिकायत पर यह केस दर्ज हुआ है. गुरुवार की दोपहर पल्लीकरनई में सड़क पर लगा AIADMK का एक अवैध बैनर स्कूटी से जा रही लड़की के ऊपर आ गिरा. बैनर काफी बड़ा था जिसके गिरने के बाद लड़की वहीं गिर गई.

Advertisement
aajtak.in
लोकप्र‍िया वासुदेवन/ अक्षया नाथ चेन्नई, 13 September 2019
तमिलनाडु: बैनर गिरने से लड़की की मौत, सीएम पलानीसामी ने बुलाई बैठक बैनर गिरने से लड़की की मौत

  • स्कूटी सवार लड़की की AIADMK का बैनर गिरने से हुई मौत
  • पुलिस ने AIADMK कार्यकर्ता के खिलाफ दर्ज किया केस
  • जयगोपाल के खिलाफ चेन्नई सिटी म्युनिसिपल कारपोरेशन एक्ट में केस दर्ज

तमिलनाडु के चेन्नई में स्कूटी सवार लड़की पर AIADMK का बैनर गिरने से हुई मौत का मामला बढ़ते जा रहा है. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई. पलानीसामी और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने एक बैठक बुलाई है. बैठक में मद्रास हाई कोर्ट के आदेश पर फैसला लिया जाएगा.

राज्य सरकार में मंत्री जयाकुमार ने कहा कि मामले पर सीएम और उपमुख्यमंत्री ने बैठक बुलाई है. वह बैनर पर फैसला लेंगे. संबंधित व्यक्ति और जिस कंपनी ने बैनर डिजाइन किया है, उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. मामला कोर्ट में है.

मद्रास हाई कोर्ट ने राजनीतिक बैनर, फ्लेक्स बोर्ड को लेकर नाराजगी जाहिर की है. बेंच देख रही है कि सत्ता में रहते हुए भी पार्टी उल्लंघन कर रही है. कोर्ट ने कहा कि केवल एक बात अदालत ने अभी तक नहीं की है. राज्य सचिवालय को हाई कोर्ट स्थानांतरित कर दिया जाए. हमने बाकी सब कुछ किया है.

चेन्नई निगम ने सड़क पर अवैध बैनर लगाने के लिए AIADMK के कार्यकर्ता के खिलाफ मामला दर्ज किया है. AIADMK के पूर्व पार्षद सी जयगोपाल के खिलाफ चेन्नई सिटी म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन एक्ट, 1919 की धारा 326 के तहत मामला दर्ज किया गया.

चेन्नई कॉर्पोरेश के असिस्टेंट इंजीनियर अमलराज की शिकायत पर यह केस दर्ज हुआ है. गुरुवार की दोपहर पल्लीकरनई में सड़क पर लगा AIADMK का एक अवैध बैनर स्कूटी से जा रही लड़की के ऊपर आ गिरा. बैनर काफी बड़ा था जिसके गिरने के बाद लड़की वहीं गिर गई, इसके बाद पीछे से आ रहे ट्रक ने लड़की को कुचल दिया. घटना में लड़की की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई.

ऐसे आयोजन में नहीं जाएंगे स्टालिन

AMMK के नेता टीटीवी धीनकरन ने कार्यकर्ताओं से से बैनर या होर्डिंग्स नहीं लगाने का आग्रह किया है. साथ ही उन्होंने सुबाश्री की मौत पर दुख जताया है. स्टालिन ने भी डीएमके कार्यकर्ताओं को बैनर नहीं लगाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को पार्टी के किसी भी आयोजन के लिए बैनर या पोस्टर नहीं लगाने चाहिए जो ट्रैफिक जाम पैदा करे. मैं किसी भी कार्यक्रम में भाग नहीं लूंगा जहां कार्यकर्ता पोस्टर या बैनर लगाएंगे.

AIADMK ने भी जारी किया बयान

AIADMK की ओर से पलानीसामी और ओ. पन्नीरसेल्वम ने अवैध बैनर पर बयान जारी किया है. उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता ऐसे बैनर या पोस्टर नहीं लगाएं, जिससे जनता को असुविधा हो. हम विनम्रतापूर्वक आपसे अनुरोध करते हैं कि आप पोस्टर, बैनर, पार्टी कार्यों या निजी कार्यों में फ्लेक्स बोर्ड न लगाएं, जिससे जनता को असुविधा हो.

शादी के जश्न में लगे थे बैनर

मृतक लड़की का नाम सुबाश्री है. घटना के बाद स्थानीय लोगों ने उसे क्रोमपेट सरकारी अस्पताल पहुंचाया, लेकिन वो दम तोड़ चुकी थी. AIADMK के कार्यकर्ता सी जयगोपाल ने पल्लीकरनई में रेडियल रोड पर अपने बेटे की शादी के जश्न के लिए नेताओं के स्वागत में बैनर लगाए थे. लड़की की मौत के बाद ट्विटर पर #whokilledsubashree ट्रेंड करने लगा और लोगों ने जमकर गुस्सा निकाला.

मद्रास उच्च न्यायालय ने अवैध बैनरों के खिलाफ कई आदेश पारित किए हैं. 2017 में, अदालत ने जीवित व्यक्तियों वाले होर्डिंग्स और फ्लेक्स पर प्रतिबंध लगा दिया था. हालांकि, राज्य में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और कई अन्य दलों ने नियमों का बार-बार उल्लंघन किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay