एडवांस्ड सर्च

राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियों के चलते अमित शाह ने टाला अरूणाचल का दौरा

बीजेपी नेता ने कहा कि 17 जुलाई को राष्ट्रपति पद के चुनाव हैं जिसे देखते हुए 15 और 16 जुलाई को आंध्रप्रदेश में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का सवाल ही नहीं उठता.

Advertisement
aajtak.in
BHASHA नई दिल्ली, 12 June 2017
राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियों के चलते अमित शाह ने टाला अरूणाचल का दौरा बीजेपी जल्द घोषित करेगी उम्मीदवार

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अरूणाचल प्रदेश का अपना दौरा टाल दिया है और राष्ट्रपति पद के चुनाव के मद्देनजर पार्टी 15 और 16 जुलाई को होने जा रही अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक भी टाल सकती है. पार्टी के एक नेता ने बताया कि दिल्ली में शाह की मौजूदगी जरूरी है क्योंकि बीजेपी अब किसी भी वक्त राष्ट्रपति पद के लिए अपने उम्मीदवार का नाम तय करने की प्रक्रिया शुरू करने वाली है.

बीजेपी अध्यक्ष सोमवार को अरूणाचल प्रदेश के लिए रवाना होने वाले थे. राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 17 जुलाई को होना और नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 28 जून है. अमित शाह का दौरा टलने की वजह पर बीजेपी नेता ने बताया कि दिल्ली में बीजेपी के वरिष्ठ पार्टी नेताओं की बैठक हो सकती है.

कांग्रेस, लेफ्ट और जेडीयू सहित अन्य दलों के शीर्ष नेताओं की बातचीत को देखकर लगता है कि विपक्ष अपना उम्मीदवार उतारेगा. अगर ऐसा होता है तो चुनाव में मुकाबला कड़ा होने के आसार हैं. बीजेपी नेता ने कहा कि 17 जुलाई को राष्ट्रपति पद के चुनाव हैं जिसे देखते हुए 15 और 16 जुलाई को आंध्रप्रदेश में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का सवाल ही नहीं उठता.

बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक की तारीख जब तय की गई थी तब तक चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति पद के चुनाव का कार्यक्रम घोषित नहीं किया था. चुनाव आयोग ने 7 जून को राष्ट्रपति पद के चुनाव का कार्यक्रम घोषित किया. अधिसूचना जारी किए जाने के बाद 14 जून से नामांकन प्रक्रिया शुरू होगी और मतगणना 20 जुलाई को दिल्ली में होगी.

साफ है कि चुनाव के लिए विपक्षी दलों की गोलबंदी को देख सत्ताधारी बीजेपी राष्ट्रपति पद के चुनाव में किसी तरह की ढिलाई नहीं बरतना चाहती, इसी के मद्देनजर पार्टी के सबसे बड़े रणनीतिकार माने जाने वाले अमित शाह का राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित होने तक दिल्ली में रहना जरूरी हो गया है. एनडीए के उम्मीदवार को जिताने के लिए शाह सहयोगी दलों के साथ-साथ विपक्ष के कुछ दलों को भी अपने साथ लाने की कोशिश करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay