एडवांस्ड सर्च

Advertisement

भोपाल की यूनिवर्सिटी से 'आदर्श बहू' की ट्रेनिंग, 3 महीने का कोर्स

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी अगले साल से एक ऐसा कोर्स शुरू करने जा रही है जिसे लेकर अभी से विवाद खड़े होने की आशंका है.
भोपाल की यूनिवर्सिटी से 'आदर्श बहू' की ट्रेनिंग, 3 महीने का कोर्स 3 महीनो का होगा कोर्स
रवीश पाल सिंह [Edited By: दीपक कुमार]भोपाल , 14 September 2018

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी अगले साल शुरू होने वाले सत्र में एक नया कोर्स शुरू करने जा रही है. इस कोर्स में आदर्श बहू बनना सिखाया जाएगा. ये कोर्स तीन महीने का होगा और इसके लिए फिलहाल 30 सीटें तय की गई हैं.  

जब आजतक ने बरकतउल्ला यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर डीसी गुप्ता से पूछा कि इस कोर्स की जरूरत क्यों महसूस हुई तो उन्होंने बताया कि सास-बहू के झगड़े को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है. उन्होंने कहा, '' शादी से पहले एक लड़की अपनी मां के घर रहती है लेकिन शादी बाद दूसरे घर जाती है. ससुराल में कई बार छोटी-छोटी बातों के कारण झगड़े तक की नौबत आ जाती है. ऐसे में इसे रोकने या कम करने के मकसद से यह कोर्स शुरू किया जा रहा है."

यह है कोर्स का कॉन्सेप्ट

प्रोफेसर डीसी गुप्ता ने इस कोर्स के कॉन्सेप्ट के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा, ''सास- बहू हो या बेटा-बेटी हो सभी परिवार का अंग होते हैं. इन सब में मनमुटाव के कारण परिवार में विघटन हो रहा है. इस वजह से परिवार के सदस्यों में तनाव भी बढ़ रहा है. इसे कम करने में ये कोर्स मदद करेगा. " प्रोफेसर गुप्ता के मुताबिक इस कोर्स में लड़कियों को सिखाया जाएगा कि शादी के बाद नए घर में एडजस्ट कैसे करें. इसके अलावा परिवार को जोड़ कर रखने वाली दुल्हन बनने के बारे में भी सिखाया जाएगा."

पुरुष भी ले सकेंगे दाखिला

यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर डीसी गुप्ता ने बताया कि इस कोर्स में युवतियां या शादीशुदा महिलाएं एडमिशन ले सकेंगी. प्रोफेसर गुप्ता के मुताबिक अगर कोई पुरुष भी इस कोर्स में दाखिला लेना चाहे तो वो ले सकेगा ताकि वो भी इस कोर्स की मदद से अपने ससुराल या खुद के परिवार के हिसाब से एडजस्ट करना सीख सके.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay