एडवांस्ड सर्च

सुप्रीमकोर्ट और हाईकोर्ट के जजों की बढ़ेगी तनख्वाह

सरकार के इस फैसले से सुप्रीम कोर्ट के 31 जजों और हाई कोर्ट के 1079 जजों को फायदा होगा. इसके अलावा करीब ढाई हजार रिटायर्ड जजों को भी इस फैसले से फायदा होगा जिनकी पेंशन और ग्रेच्युटी भी बढ़ जाएगी.

Advertisement
aajtak.in
बालकृष्ण नई दिल्ली, 22 November 2017
सुप्रीमकोर्ट और हाईकोर्ट के जजों की बढ़ेगी तनख्वाह सुप्रीमकोर्ट और हाईकोर्ट के जजों की बढ़ेगी तनख्वाह

बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट के मौजूदा और सेवानिवृत्त जजों की तनख्वाह और पेंशन बढ़ाने के बारे में प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई.

सरकार के इस फैसले से सुप्रीम कोर्ट के 31 जजों और हाई कोर्ट के 1079 जजों को फायदा होगा. इसके अलावा करीब ढाई हजार रिटायर्ड जजों को भी इस फैसले से फायदा होगा जिनकी पेंशन और ग्रेच्युटी भी बढ़ जाएगी.

जजों को बढ़े हुए वेतन का लाभ 1 जनवरी 2016 से मिलेगा और बढ़े वेतन के एरियर का एकमुश्त भुगतान किया जाएगा. जजों की तनख्वाह बढ़ाने के लिए सरकार संसद के शीतकालीन सत्र में लाएगी.

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश टीएस ठाकुर ने सरकार को जजों  के वेतन बढ़ाने को लेकर पत्र लिखा था. फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के एक जज को लगभग महीने में डेढ़ लाख रुपया हाथ में  मिलता है.  हाईकोर्ट के जजों का वेतन इससे कम है जबकि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को इससे ज्यादा वेतन मिलता है. इसके अलावा सर्विस के दौरान जजों को मुफ्त सरकारी आवास भी मिलता है. सातवें  वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद जजों के वेतन बढ़ाने का प्रस्ताव सरकार के पास पहले से विचाराधीन था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay