एडवांस्ड सर्च

गिरिराज सिंह बोले- बढ़ती आबादी कैंसर है, काबू नहीं किया तो...

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि देश की बढ़ती आबादी सेकेंड स्टेज कैंसर है और इसे काबू करने के लिए कठोर कानून बनाए जाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि अगर इसे काबू नहीं किया गया तो यह चौथे स्टेज का कैंसर बन जाएगा जो लाइलाज होगा.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 28 September 2019
गिरिराज सिंह बोले- बढ़ती आबादी कैंसर है, काबू नहीं किया तो... केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (PTI)

  • सिंह ने कहा- अगर इसे काबू नहीं किया तो यह चौथे स्टेज का कैंसर बन जाएगा
  • सिंह ने कहा कि वह 11 से 13 अक्टूबर के बीच इस मुद्दे को लेकर यात्रा निकालेंगे

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि देश की बढ़ती आबादी सेंकेंड स्टेज कैंसर है और इसे काबू करने के लिए कठोर कानून बनाए जाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि अगर इसे काबू में नहीं किया गया तो यह चौथे स्टेज का कैंसर बन जाएगा जो लाइलाज होगा. गिरिराज सिंह ने यह बातें जनसंख्या नियंत्रण पर आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहीं.  

गिरिराज सिंह ने कहा कि सख्त कानून बनाने की जरूरत है और जो इसका पालन नहीं करते उनके लिए बिना किसी धर्म के आधार के मताधिकार निरस्त होने और आर्थिक लाभ नहीं मिलने जैसी सख्त सजाओं के प्रावधान होने चाहिए. सिंह ने कहा कि जो लोग आबादी नियंत्रण के खिलाफ हैं वह इस चर्चा में धर्म लाने की कोशिश करते हैं.   

हालांकि गिरिराज सिंह ने रिपोर्ट्स का हवाला देते हुए यह भी कहा कि अल्पसंख्यक महिलाओं का फर्टिलिटी रेट बहुसंख्यक महिलाओं की तुलना में ज्यादा होता है.  सिंह ने आगे कहा, "बढ़ती आबादी दूसरे चरण का कैंसर है. अगर इसे काबू में नहीं किया तो यह चौथे चरण का कैंसर बन जाएगा जिसका इलाज संभव नहीं होगा. चीन की तरह भारत को भी कड़े कानून बनाने चाहिए."

गिरिराज सिंह ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में भी बढ़ती आबादी काबू में करने की बात पर जोर दिया था. सख्त कानून बनाने के लिए आंदोलन की जरूरत है. गिरिराज सिंह ने यह भी कहा कि वह 11 से 13 अक्टूबर तक इसे लेकर मेरठ से दिल्ली तक यात्रा निकालेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay