एडवांस्ड सर्च

'माल्या हथियार, जेटली पर वार,' पढ़ें वित्तमंत्री पर राहुल के 10 बड़े हमले...

बुधवार को विजय माल्या ने लंदन में बयान दिया कि वह देश छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिला था. हालांकि सफाई में जेटली ने कहा कि ये मुलाकात संसद के गलियारे में अनौपचारिक रूप से हुई थी.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: मोहित ग्रोवर]नई दिल्ली, 13 September 2018
'माल्या हथियार, जेटली पर वार,' पढ़ें वित्तमंत्री पर राहुल के 10 बड़े हमले... वित्त मंत्री अरुण जेटली, राहुल गांधी (फाइल फोटो, Getty)

देश के बैंकों को करोड़ों रुपए का चूना लगाकर फरार हुए शराब कारोबारी विजय माल्या के वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात पर खुलासे के बाद राजनीति पूरी तरह से गर्मा गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी खुद फ्रंटफुट पर आकर वित्त मंत्री अरुण जेटली और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला कर रहे हैं. गुरुवार को उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और एक बार फिर अरुण जेटली का इस्तीफा मांगा. राहुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जेटली और पीएम मोदी पर तीखे वार किए. पढ़ें राहुल के 10 बड़े हमले...

1. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बोले कि बुधवार को अरुण जेटली ने कहा कि विजय माल्या ने उनको संसद से अनौपचारिक मुलाकात की थी. वह लंबे ब्लॉग लिखते हैं, लेकिन इस बारे में कुछ नहीं लिखते. अरुण जेटली मुलाकात के बारे में झूठ बोल रहे हैं. हमारे साथी पीएल पुनिया ने उन्हें मुलाकात करते हुए देखा था.

2. उन्होंने कहा, ‘‘इसमें दो सवाल उठते हैं. पहला सवाल कि वित्त मंत्री भगोड़े से बात करते हैं और वह उनसे लंदन जाने के बारे में बताता है, लेकिन माल्या के बारे में वित्त मंत्री ने किसी एजेंसी को क्यों नहीं बताया?'

3. राहुल गांधी ने यह भी पूछा कि सीबीआई पर दबाव डालकर 'रेस्ट्रेंड नोटिस' को ‘इन्फॉर्म्ड’ नोटिस में किसने बदलवाया? उन्होंने आरोप लगाया, 'वित्त मंत्री की मिलीभगत है. वित्त मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए.

4. कांग्रेस अध्यक्ष ने पूछा कि वित्त मंत्री को बताना चाहिए कि उन्होंने अपराधी के साथ मिलीभगत क्यों की? गांधी ने यह भी सवाल किया कि जेटली ने माल्या को खुद के स्तर पर भागने देने का फैसला किया या फिर मोदी जी कहने पर ऐसा किया?

5. कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि लुकआउट नोटिस को सिर्फ वित्त मंत्री और प्रधानमंत्री ही बदलवा सकते हैं. वित्त मंत्री ने विजय माल्या को भागने दिया.

6. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने साथ साथी नेता पीएल पुनिया को लेकर आए थे. पीएल पुनिया का दावा है कि उन्होंने जेटली और माल्या को संसद में मिलते हुए देखा था.

7. पीएल पुनिया ने बताया कि बजट पेश होने के अगले दिन 1 मार्च को अरुण जेटली और विजय माल्या बात कर रहे थे. वह करीब 15-20 मिनट तक बात करते रहे, पहले दोनों खड़े होकर बात कर रहे थे और उसके बाद दोनों वहीं सेंट्रल हॉल में बैठकर बात करने लगे.

8. कांग्रेस नेता ने बताया कि जब मैंने दो दिन के बाद ही पढ़ा कि माल्या रवाना हो गए हैं, तो मैं हैरान था. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि संसद की सीसीटीवी फुटेज की जांच होनी चाहिए इसके सारी सच्चाई सामने आ जाएगी.

9. बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने माल्या के बयान के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली का इस्तीफा मांगा था.

10. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि माल्या की ओर से लगाए गए आरोप बेहद गंभीर हैं और पीएम को तत्काल इस मामले की निष्पक्ष जांच करानी चाहिए. राहुल ने कहा कि जांच पूरी होने तक अरुण जेटली को वित्त मंत्री के पद से इस्तीफा देना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay