एडवांस्ड सर्च

दादरी में PAC तैनात, आजम बोले- अपने कार्यकर्ताओं पर लगाम लगाएं PM मोदी

यूपी सरकार में मंत्री आजम खान ने ग्रेटर नोएडा में बीफ को लेकर मर्डर मामले में PM नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि PM मोदी को अपने कार्यकर्ताओं पर लगाम लगानी चाहिए.

Advertisement
aajtak.in
जुगल पुरोहित [Edited By: अमरेश सौरभ]ग्रेटर नोएडा, 01 October 2015
दादरी में PAC तैनात, आजम बोले- अपने कार्यकर्ताओं पर लगाम लगाएं PM मोदी आजम खान (फाइल फोटो)

यूपी सरकार में मंत्री आजम खान ने ग्रेटर नोएडा में बीफ को लेकर मर्डर मामले में PM नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि PM मोदी को अपने कार्यकर्ताओं पर लगाम लगानी चाहिए.

हालांकि आजम खान ने बीफ की अफवाह के बाद मर्डर मामले में जिला प्रशासन व पुलिस को सीधे तौर पर जिम्मेवार ठहराया है.

गलतफहमी की वजह से हुई घटना: महेश शर्मा
दूसरी ओर केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा ने इस मामले पर कहा, 'कुछ गलतफहमी की वजह से यह घटना हुई है. जो लोग इसमें शामिल हैं, उनके ख‍िलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.'

महेश शर्मा ने मामले को राजनीतिक रंग देने का आरोप लगाते हुए कहा, 'कुछ लोग इस मामले का राजनीतिकरण कर रहे हैं. इसे दुर्घटना के तौर पर देखा जाना चाहिए और इसे सांप्रदायिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए.' उन्होंने कहा कि पुलिस को पूरे मामले की जांच करनी चाहिए. पुलिस पर कोई दबाव नहीं होना चाहिए.

प्रदेश सरकार पर लगाया आरोप
महेश शर्मा ने यूपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, 'इस मामले पर प्रदेश सरकार ने समय रहते ध्यान नहीं दिया, नहीं तो यह बड़ी घटना नहीं घटती.'

इलाके में पुलिस फोर्स तैनात
दिल्ली के पास ग्रेटर नोएडा में बीफ की अफवाह को लेकर एक मर्डर हो गया. हत्या के बाद हिंसा व आगजनी हुई. अब ग्रेटर नोएडा के दादरी इलाके के बिसेड़ा गांव में बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं.  

घटना ग्रेटर नोएडा के जारचा इलाके के बिसेड़ा गांव की है. पुलिस और पीएसी के जवानों की भारी मौजूदगी यह बताने के लिए काफी है कि वहां तनाव है. जली हुई गाड़ियां, हर किसी के चेहरे पर मायूसी और आंखों में खौफ.

क्या है पूरा मामला...
ग्रेटर नोएडा के बिसेड़ा गांव में 28 सितंबर की रात बीफ की अफवाह फैली. मंदिर में लाउडस्पीकर से ऐलान हुआ कि एक घर में बीफ यानी गोमांस खाया जा रहा है. इसके बाद बेकाबू भीड़ ने बिसेड़ा गांव में रहने वाले पचास साल के इखलाक के घर में घुसकर तलाशी ली. मांस के कुछ टुकड़े मिलने के बाद इखलाक को इतनी बुरी तरह पीटा गया कि 29 सितंबर को उसकी मौत हो गई.

बिसेड़ा गांव में भारी तनाव है. लोग घबराए हुए हैं. हालांकि, 29 सितंबर के बाद हिंसा की कोई खबर नहीं है, क्योंकि प्रशासन ने बीफ के आरोप में मर्डर करने वाले और हत्या के बाद हिंसा के आरोप में 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. अब गांव की गलियों का सन्नाटा पुलिस की गश्त से ही टूटता है.

जारचा गांव में जो कुछ हुआ, वो महज अफवाह थी या उसमें कोई सच्चाई थी, यह तो तमाम जांच रिपोर्ट के बाद ही पता चल सकेगा, मगर एक अफवाह ने कई घरों को तबाह कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay