एडवांस्ड सर्च

मोदी के वादे: यूपी के लिए अब तक क्या कह और कर चुके हैं प्रधानमंत्री

उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी वाराणसी से सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर सूबे में कदम रखने जा रहे हैं. इस बार पीएम मोदी का ठिकाना है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और मौका दशहरे का.

Advertisement
aajtak.in
मोनिका शर्मा/ रंजीत सिंह लखनऊ, 11 October 2016
मोदी के वादे: यूपी के लिए अब तक क्या कह और कर चुके हैं प्रधानमंत्री लखनऊ के ऐशबाग में होने वाली रामलीला में शिरकत करेंगे पीएम मोदी

उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी वाराणसी से सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर सूबे में कदम रखने जा रहे हैं. इस बार पीएम मोदी का ठिकाना है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और मौका दशहरे का. यानी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव पर नजरें गड़ाए प्रधानमंत्री आतंकवाद का 'रावण' जलाएंगे. लखनऊ के ऐशबाग की रामलीला इसलिए इसबार खास है क्योंकि पहली बार कोई प्रधानमंत्री यहां के दशहरे में शामिल हो रहे हैं.

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पीएम के भाषण पर होगी नजर
बीजेपी पीएम मोदी के इस दौरे पर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर यानी पीओके में भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को भुनाने की पूरी तैयारी कर चुकी है जो उरी में आतंकवादी हमले के पलटवार के तौर पर किया गया था. वैसे ऐशबाग में पीएम मोदी अपने भाषण में क्या कहते हैं, यह तो आने वाला समय बताएगा, लेकिन इतना साफ है कि प्रधानमंत्री जो कुछ भी बोलेंगे, उसे विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए बोलेंगे.

प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश में भी काफी सभाएं की. सूबे की जनता से तमाम वादे किए. उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भी प्रधानमंत्री मोदी की तैयारियां काफी पहले से शुरू हो गई हैं. मोदी ने कुछ शहरों में रैलियां की. कुछ परियोजनाओं की आधारशि‍ला भी रखी. आइए, नजर डालते हैं पीएम मोदी के वादों पर जिनके बारे में प्रधानमंत्री पहले कह चुके हैं और इनमें से कितने वादे वो पूरे कर चुके हैं.

मोदी ने किए ये वादे
लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान दूसरों प्रदेशों की सभाओं की तरह उत्तर प्रदेश में भी नरेंद्र मोदी ने जनता से महंगाई, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी जैसी समस्याओं को दूर करने का वादा किया था. मोदी ने 'अच्छे दिन' का वादा करते हुए गरीबों को सस्ता घर और किसानों को उनकी फसलों का उचित दाम दिलाने का भरोसा दिया था. उत्तर प्रदेश की जनता ने भी नरेंद्र मोदी के वादों पर भरोसा करते हुए उन्हें दिल खोल कर वोट दिया और लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 282 सीटें जीतने में राज्य के शानदार प्रदर्शन का अहम योगदान रहा. बीजेपी ने 42.3 फीसदी वोटों के साथ राज्य की लोकसभा 80 सीटों में से 71 सीटें हासिल की.

2014 के आम चुनाव में सत्ता की 'प्रयोगशाला' रही वाराणसी के लिए नरेंद्र मोदी ने कई वादे किए. भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी की वाराणसी से उम्मीदवारी के चलते उत्तर प्रदेश और पड़ोसी बिहार की बाकी सीटों पर व्यापक असर भी हुआ था. मोदी ने वाराणसी के बुनकरों और मशहूर बनारसी साड़ी को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने का वादा किया था. काशी को क्योटो बनाने का सपना दिखाया गया था.

अब तक किया क्या?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते जुलाई में गोरखपुर में एक रैली की. इस रैली से पहले मोदी ने पूर्वांचल के लिए बड़ी सौगात दी. मोदी ने गोरखपुर में अखि‍ल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान यानी एम्स और एक खाद कारखाना की आधारशिला रखी. मोदी ने दावा किया कि यूपी के गन्ना किसानों का हजारों करोड़ का बकाया था. अब सिर्फ 170 करोड़ रुपये बकाया है. मोदी सरकार के शासनकाल में गन्ना किसानों का 93 फीसदी भुगतान हुआ. पीएम मोदी ने प्रदेश की जनता से जातिवाद और परिवारवाद खत्म करने का आह्वान किया.

पीएम मोदी ने दावा किया कि केंद्र सरकार ने सोनौली से गोरखपुर नेशनल हाइवे के लिए 570 करोड़ और गोरखपुर-वाराणसी हाइवे के लिए 650 करोड़ रुपये दिए हैं. उन्होंने कहा कि यूपी के 1529 गांवों में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य है. अब सिर्फ 175 गांवों में बिजली पहुंचाना बाकी है.

साल 2015 के आखि‍री दिन यानी 31 दिसंबर को पीएम मोदी ने दिल्ली से सटे नोएडा में रैली की. नरेंद्र मोदी की यह रैली भी उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर थी. मोदी ने इस रैली के दौरान दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे प्रोजेक्ट की नींव रखी.

फिर अप्रैल 2016 में भी पीएम मोदी नोएडा पहुंचे. उन्होंने स्टैंड अप इंडिया स्कीम की नींव रखी. मोदी ने कौशल विकास केंद्र की नींव भी रखी और मुद्रा योजना के तहत 5100 ई-रिक्शा को हरी झंडी दिखाई.

केंद्र में एनडीए सरकार के दो साल पूरे होने पर पीएम मोदी ने 26 मई 2016 को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में एक रैली की. राज्य में चुनावी सुगबुगाहट के बीच हुई इस रैली के दौरान पीएम मोदी ने चिकित्सा के क्षेत्र में बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि अब देश के हर राज्य में डॉक्टर 62 की बजाय 65 की उम्र में रिटायर होंगे. साथ ही प्रधानमंत्री ने देशभर के डॉक्टरों से अपील की कि वह हर महीने की 9 तारीख को मुफ्त में गरीब गर्भवती महिलाओं का इलाज करें.

इस साल 13 जून को पीएम मोदी ने संगम तट से यूपी चुनाव की रणभेरी बजाई. इस रैली में पीएम मोदी ने कोई नया वादा तो नहीं किया लेकिन लोगों से सहयोग की अपील की. उन्होंने यूपी को सपा-बसपा की ठेकेदारी से मुक्त करने का आह्वान किया तो दो साल में केंद्र सरकार की ओर से बड़े काम किए जाने का दावा किया. मोदी ने तृतीय श्रेणी की नौकरियों में इंटरव्यू खत्म करने के पुराने ऐलान का जिक्र भी किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay