एडवांस्ड सर्च

पुराने दिनों को याद करके भावुक हुए प्रधानमंत्री- गिरिराज सिंह

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री तीन बार भावुक हुए. इस पर केंद्रीय मंत्री गिर‍िराज सिंह ने कहा कि पुराने दिनों को याद कर पीएम मोदी भावुक हो गए.

Advertisement
aajtak.in
वंदना भारती/ अशोक सिंघल नई दिल्ली, 20 December 2017
पुराने दिनों को याद करके भावुक हुए प्रधानमंत्री- गिरिराज सिंह गिरि‍राज सिंह

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने वक्तव्य के दौरान तीन बार भावुक हो गए. इस पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि पीएम मोदी सांसदों को संबोधित करते हुए अपने पुराने दिनों को याद कर भावुक हो गए.

गिरिराज ने कहा कि प्रधानमंत्री एक प्रचारक हैं. प्रचारक, जिसने अपना पूरा जीवन राष्ट्र को समर्पित कर दिया. संगठन को समर्पित कर दिया. वह तो परिस्थितिजन्य राजनीति में हैं.

गिर‍ि‍राज सिंह ने कहा कि पीएम मोदी ने एक सफल मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक की यात्रा की है. उनके मन में गरीबों के प्रति, पार्टी के प्रति और राष्ट्र के प्रति जो भाव है, वह समर्पण की भावना और पुराने दिनों का भाव है. अटल जी जैसे महान नेता और उनके बीच पुराने दिनों की बातें थी. उसपर पीएम मोदी भावुक हो गए. 

गिरिराज सिंह का कहना है कि मोदी जी हमेशा से विचारधारा के प्रतीक रहे हैं. उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ-साथ आम लोगों को भी विचारधारा के साथ चलने का अह्वान किया है. साथ चलने की दिशा दी है.

नई पीढ़ी को आगे बढ़ाने के मुद्दे पर गिरिराज सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नई पीढ़ी को अधिक से अधिक जिम्मेदारी के साथ आगे बढ़ाना चाहते हैं. युवाओं की ताकत ही हमारी पूंजी होगी.

गिरिराज ने कहा कि आपने घर में देखा होगा कि घर के युवा ही घर संभालते हैं. बड़े बुजुर्ग उन्हें दिशा दिखाते हैं. यह भी एक परिवार है.

बता दें कि सांसदों को संबोध‍ित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमें 2019 के चुनावों को मद्देनजर अपने रूट्स को मजबूत करना होगा, पार्टी को बूथ लेवल पर और भी मजबूत करने की जरूरत है.

बीजेपी अध्यक्ष ने संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री को लड्डू खिला कर जीत की बधाई दी और उनका अभिनंदन किया. इस अवसर पर संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने भी गुजरात और हिमाचल जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह का अभिनंदन किया.

बैठक को अमित शाह ने भी संबोधित किया. उन्होंने कहा कि चुनाव में पचास फीसदी से भी अधिक वोट पाना एक बड़ी बात है. कांग्रेस इस हार में भी जीत ढूंढ़ने की कोशिश कर रही है, जो हास्यास्पद है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay