एडवांस्ड सर्च

हमले से बौखलाया पाकिस्तान, कहा- जवाबी कार्रवाई का हमें भी हक

Pakistan Foreign Minister Shah Mahmood Qureshi  भारत के एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी आपात बैठक के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात करेंगे और अधिकारियों के साथ सुरक्षा मुद्दों को लेकर उच्च स्तरीय चर्चा करेंगे. सूत्रों ने बताया कि कुरैशी ने अधिकारियों से विचार-विमर्श के लिए इमर्जेंसी मीटिंग बुलाई है.

Advertisement
aajtak.in
गीता मोहन नई दिल्ली, 26 February 2019
हमले से बौखलाया पाकिस्तान, कहा- जवाबी कार्रवाई का हमें भी हक इमरान खान (रॉयटर्स)

भारतीय वायुसेना के विभिन्न लड़ाकू विमानों ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में पाकिस्तान स्थित कई आतंकवादी समूहों के शिविरों को सफलतापूर्वक नष्ट कर दिया है. हालांकि अभी तक हमले से हुए नुकसान का आकलन नहीं हुआ है. लेकिन यह साफ है कि भारत की इस कार्रवाई से पाकिस्तान बौखला गया है. उसने बदले की कार्रवाई की बात कही है. इस बीच, पाकिस्तान ने हालात को देखते हुए आपात बैठक बुलाई है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने यह आपात बैठक बुलाई है.

सूत्रों ने बताया कि पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी आपात बैठक के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात करेंगे और अधिकारियों के साथ सुरक्षा मुद्दों को लेकर उच्च स्तरीय चर्चा करेंगे. सूत्रों ने बताया कि कुरैशी ने अधिकारियों से विचार-विमर्श के लिए इमर्जेंसी मीटिंग बुलाई है. पाकिस्तान सरकार का कहना है कि उसे उम्मीद थी कि भारत हमला करेगा और जवाबी कार्रवाई का उसके पास अधिकार है.

इससे पहले, पाकिस्तान सेना की मीडिया शाखा अंतर-सेवा जन संपर्क के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया है, भारतीय वायुसेना के विमान मुजफराबाद सेक्टर से घुसे. पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से समय पर और प्रभावी जवाब मिलने के बाद वह जल्दीबाजी में अपने बम गिरा कर बालाकोट के करीब से बाहर निकल गए. जानमाल को कोई नुकसान नहीं हुआ है. उन्होंने लिखा है, भारतीय वायुसेना ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया है. पाकिस्तानी वायुसेना ने तुरंत जवाब दिया. भारतीय विमान लौट गए.

वहीं भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने भारत की कार्रवाई की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि मंगलवार को तड़के बालाकोट में आतंकी शिविर को निशाना बनाया गया. इसमें शीर्ष आतंकवादी मारे गए हैं. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों में बढ़े तनाव के बीच भारत ने यह कार्रवाई की है. हमले में सुरक्षा बल के 40 जवान शहीद हुए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay