एडवांस्ड सर्च

पाकिस्तान ने लिया बंद हिंदू मंदिरों को फिर से खोलने का फैसला

केंद्रीय सूचना सचिव फवाद ने अपने बयान में कहा कि देश का हिंदू समुदाय लंबे समय से इन बंद पड़े मंदिरों को खोलने की मांग करता रहा है. सरकार ने अब इस पर सहमति जताते हुए इन मंदिरों को नए सिरे से खोलने का फैसला किया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 14 November 2019
पाकिस्तान ने लिया बंद हिंदू मंदिरों को फिर से खोलने का फैसला पाकिस्तान में बंद पड़े हिंदू मंदिर

  • केंद्रीय सूचना सचिव अहम जवाद ने दी जानकारी
  • हिंदू समुदाय कर रहे थे बंद पड़े मंदिरों को खोलने की मांग

पाकिस्तान में सत्तारूढ़ इमरान सरकार ने देश में बंद पड़े हिंदू मंदिरों को फिर से नई साज सज्जा के साथ खोलने का फैसला किया है. पाकिस्तान का हिंदू समुदाय लंबे समय से इसकी मांग करता रहा है.

हिंदू समुदाय की थी मंदिर खोलने की मांग

'रेडियो पाकिस्तान' की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में सत्तारूढ़ पार्टी तहरीके इंसाफ के केंद्रीय सूचना सचिव अहम जवाद ने यह जानकारी दी है. उन्होंने अपनी पार्टी की सरकार की दस उपलब्धियों का ब्योरा जारी करने के दौरान हिंदू मंदिरों से जुड़े फैसले की जानकारी दी.

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक फवाद ने अपने बयान में कहा कि देश का हिंदू समुदाय लंबे समय से इन बंद पड़े मंदिरों को खोलने की मांग करता रहा है. सरकार ने अब इस पर सहमति जताते हुए इन मंदिरों को नए सिरे से खोलने का फैसला किया है.

जवाद ने सरकार दस उपलब्धियों का किया उल्लेख

बयान में जवाद ने सरकार की जिन दस उपलब्धियों का उल्लेख किया है, उनमें सरकारी विमानन कंपनी पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस के घाटे में कमी और बिजली उत्पादन की 11 परियोजनाओं पर समझौता शामिल हैं.

बयान में दावा किया गया है कि टेक्सटाइल के निर्यात में 20 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. ग्वादर में चीन की मदद से अत्याधुनिक अस्पताल का निर्माण शुरू हो चुका है. युवाओं के स्वरोजगार के लिए योजना भी शुरू कर दी गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay