एडवांस्ड सर्च

भारत में कोरोना के खिलाफ बड़ी जंग, पढ़िए शाम की 5 बड़ी खबरें

पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के सिर्फ 42 नए केस सामने आए हैं, जबकि 4 लोगों की मौत हुई है. ये जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने दी. पढ़िए गुरुवार शाम की पांच बड़ी खबरें.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 26 March 2020
भारत में कोरोना के खिलाफ बड़ी जंग, पढ़िए शाम की 5 बड़ी खबरें कोरोना के खिलाफ जंग (Courtesy- PTI)

चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत पूरी दुनिया को जकड़ लिया है. विश्वभर में इस जानलेवा वायरस की चपेट में आने वालों का आंकड़ा 4 लाख 87 हजार 648 से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 22 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में भी कोरोना वायरस तेजी से पैर पसार रहा है. भारत में अब तक कोरोना वायरस के 650 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए मोदी सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन कर दिया है. पढ़िए आज शाम की 5 बढ़ी खबरें......

छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा कदम, कोरोना से जंग के लिए निजी अस्पताल किए टेकओवर

देश में कोरोना वायरस का संकट बढ़ता ही जा रहा है. इस बीच छत्तीसगढ़ सरकार ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए अहम कदम उठाया है. छत्तीसगढ़ सरकार अब प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना वायरस का इलाज उपलब्ध कराएगा. कोरोना वायरस से जंग में केंद्र और राज्य सरकार मिलकर काम करती दिखाई दे रही हैं. एक तरफ जहां कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देश में लॉकडाउन लागू है तो वहीं इस बीच छत्तीसगढ़ सरकार ने सभी निजी अस्पतालों को कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए टेक ओवर करने का फैसला किया है.

क्या 21 दिन से आगे भी बढ़ सकती है लॉकडाउन की मियाद? सरकार की तैयारी से लग रहे कयास

दुनियाभर में तबाही मचा देने वाले कोरोना वायरस ने भारत में भी अपने पैर पसार लिए हैं. गुरुवार दोपहर तक देश में इस महामारी से पीड़ित लोगों की संख्या 650 पार कर चुकी है. इस बीच ये महामारी भारत में समुदाय के बीच ना फैले ऐसे में भारत सरकार ने 21 दिनों का लॉकडाउन लगा दिया है. इस लॉकडाउन के दूसरे दिन मोदी सरकार ने राहत पैकेज का ऐलान किया, लेकिन जिस तरह हर योजना को अगले तीन महीने के लिए तैयार किया गया, उससे इस बात की संभावनाओं को बल मिलने लगा है कि क्या ये लॉकडाउन का संकट 21 दिनों से बड़ा होने वाला है.

लॉकडाउन के बीच सरकार का इकोनॉमी बूस्टर डोज, 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान

कोरोना वायरस की वजह से देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है. इस लॉकडाउन की वजह से देश की इकोनॉमी को बड़ा नुकसान होने की आशंका जाहिर की जा रही है. इस बीच, सरकार की ओर से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बड़ी राहत दी है. उन्होंने बताया कि गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों को 1.70 लाख करोड़ की मदद की जाएगी. निर्मला सीतारमण की ओर से किए गए ऐलान का फायदा गरीब वर्ग, मजदूर वर्ग, महिला वर्ग के अलावा दिव्यांग, विधवा और बुजुर्ग वर्ग को मिलने की उम्मीद है.

लॉकडाउन में EPF पर राहत, मिडिल क्लास की EMI और लोन का क्या होगा?

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने गरीबों के लिए 1.70 लाख करोड़ के स्पेशल पैकेज का ऐलान किया है. इस पैकेज के जरिए देश के किसान, मजदूर और महिला वर्ग के अलावा बुजुर्ग, विधवा और दिव्यांगों को राहत देने की कोशिश की गई है. लेकिन मिडिल क्लास की उम्मीदों को एक बार फिर झटका लगा है. दरअसल, मिडिल क्लास को लॉकडाउन की वजह से लोन और हर महीने जाने वाली ईएमआई की चिंता सता रही है. ऐसे में लोगों को ये उम्मीद थी कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस वर्ग को राहत दे सकती हैं.

कोरोनाः चीन में टूटने के कगार पर है जानलेवा वायरस का कालचक्र!

पूरी दुनिया कोरोना से जूझ रही है. हर तरफ लॉकडाउन है मगर फिर भी इससे मरने वालों और इससे संक्रमित लोगों की तादाद लगातार बढती ही जा रही है, बस उस जगह को छोड़कर जहां से इस महामारी की शुरुआत हुई. यानी चीन का वुहान शहर में अब कोरोना के नए मरीजों की तादाद तकरीबन ना के बराबर है. तो सवाल ये कि आखिर ऐसा क्या किया चीन ने कि वहां अब कोरोना का कालचक्र टूटने की कगार पर है? क्या चीन के रास्ते पर चलकर कोरोना को रोका जा सकता है? क्या है कोरोना पर जीत का चीनी फॉर्मूला?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay