एडवांस्ड सर्च

Advertisement

मैं CM पद की दावेदार नहीं: सुप्रिया सुले

एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने साफ कर दिया है कि वो महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में सीएम पद की दावेदार नहीं हैं. इंडिया टुडे ग्रुप की सियासी चौपाल 'पंचायत आज तक' में सुप्रिया ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'मैं तो विधानसभा चुनाव ही नहीं लड़ रही हूं. सीएम पद के दावेदार अजित पवार हो सकते हैं. या कोई तीसरा भी हो सकता है.'
मैं CM पद की दावेदार नहीं: सुप्रिया सुले एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले
Aajtak.in [Edited By: रंजीत सिंह]मुंबई, 13 September 2014

एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने साफ कर दिया है कि वो महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में सीएम पद की दावेदार नहीं हैं. इंडिया टुडे ग्रुप की सियासी चौपाल 'पंचायत आज तक' में सुप्रिया ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'मैं तो विधानसभा चुनाव ही नहीं लड़ रही हूं. सीएम पद के दावेदार अजित पवार हो सकते हैं. या कोई तीसरा भी हो सकता है.' उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस पार्टी किस नेता का चेहरा आगे करती है, ये वक्त बताएगा. कांग्रेस से गठबंधन के बारे में सुप्रिया ने कहा, हमारी मांग कांग्रेस से बराबर की सीटों की है. अभी देखते हैं क्या फैसला होता है.'

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से जुड़े सवाल पर सुप्रिया ने कहा, 'राहुल गांधी एक सीधे साधे इंसान हैं. अच्छा बोलते हैं. उन्होंने शायद अपने क्षेत्र में अच्छा काम किया होगा. तभी दो लाख वोटों से चुनकर आए. मुझे नहीं लगता कि उनमें कोई कमी है. सबका अपना अपना स्टाइल होता है राजनीति करने का. मैं उनको कैसे जज करूं. मुझे दूसरे के घर में झांकने की जरूरत नहीं है.' उन्होंने यह भी कहा कि राजनीतिक लोगों को सोच समझकर और तोल मोल कर बोलना चाहिए. कांग्रेस उपाध्यक्ष पर भरोसे के सवाल पर एनसीपी सांसद ने कहा, 'सिर्फ राहुल गांधी ही क्यों. मेरा सभी पर भरोसा है. जहां तक उनकी राजनीतिक विश्वसनीयता की बात है तो इस पर कांग्रेस को सोचना होगा. हमारा उनसे सिर्फ अलांयस है.'

पीएम नरेंद्र मोदी से संबंधों पर सवाल के जवाब में सुप्रिया ने कहा, 'पर्सनल दोस्ती और पॉलिटिक्स दो अलग बातें हैं. मेरी हर पार्टी में बहुत दोस्ती है. नरेंद्र मोदी बहुत अच्छे इंसान हैं. हमारे पंथ प्रधान हैं. हम उनका बहुत मान सम्मान करते हैं. देश ने उनको अच्छा मैंडेट दिया है. उन्हें काम करने के लिए थोड़ा वक्त देना चाहिए.'

बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ के भड़काऊ भाषणों पर सुप्रिया ने कहा, 'मुझे योगी आदित्यनाथ का भाषण सुनकर दुख हुआ. हमारी पार्टी के भुजबल साहब ने कहा कि लव जेहाद की बात हो रही है. मुसलमान लड़का और हिंदू लड़की के साथ को लव जेहाद बोलते हैं. तो अगर हिंदू लड़का और मुसलमान लड़की होंगे तो उसे क्या लव सनातन कहेंगे.'

सियासत से जुड़े एक सवाल पर सुप्रिया ने कहा, 'हम राजनीति में पीछे चले जाएं तो चले जाएं, पर जाति के हिसाब से नहीं चलेंगे. हम कास्ट पर यकीन नहीं करते. हमारे यहां आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों को भी शिक्षा में रिजर्वेशन मिलता है. मराठी आरक्षण मेरे बच्चों को नहीं मिलेगा. क्रीमी लेयर का प्रावधान है. ये पॉलिटिकल रिजर्वेशन है. हर जाति में यही पैरामीटर होता है.'

महाराष्ट्र चुनाव की तैयारियों के बारे में सुप्रिया ने कहा, 'लोकसभा चुनाव के नतीजों का भूत हमें विधानसभा चुनाव में नहीं सता रहा. एग्जाम में आप हमेशा पास होने के लिए जाते हैं. लोकसभा चुनाव का नतीजा एक अच्छी वॉर्निंग रहा. हम नकलची नहीं हैं. कॉपी कैट नहीं हैं. ऑरिजिनल हैं. चुनाव में जा रहे हैं. वहां अपनी रणनीति दिखाएंगे.' एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, 'सवाल सत्ता का नहीं है. विचार का है. ऑडियंस में संजय राउत बैठे हैं. 15 साल से सत्ता में नहीं हैं. मगर बाला साहेब का एक विचार है. जिसके सहारे वह लोग यहां राजनीति कर रहे हैं.'

एनसीपी प्रमुख शरद पवार की बेटी सुप्रिया ने यह भी कहा, 'हमारे ऊपर भ्रष्टाचार के सिर्फ आरोप लगते हैं. कुछ साबित तो होता नहीं है. कोई भी जांच कर ले.'

पाएं आजतक की ताज़ा खबरें! news लिखकर 52424 पर SMS करें. एयरटेल, वोडाफ़ोन और आइडिया यूज़र्स. शर्तें लागू
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay