एडवांस्ड सर्च

नक्सलियों ने पांच राज्यों में बुलाया बंद, साथियों की मौत का बदला लेने की दी धमकी

नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ समेत उसकी सरहद से सटे पांच राज्यों ओडिशा, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में माओवादियों ने 3 नवंबर को बंद बुलाया है. हालांकि नक्सलियों का बंद का आव्हान सिर्फ उनके दबाव और प्रभुत्व वाले इलाको में ही असर दिखाएगा लेकिन साफ टारगेट पर हमले करने की उनकी रणनीति ने पुलिस औए केंद्रीय सुरक्षा बलों को सोचने पर मजबूर कर दिया है.

Advertisement
aajtak.in
मोनिका शर्मा/ सुनील नामदेव मलकानगिरी , 02 November 2016
नक्सलियों ने पांच राज्यों में बुलाया बंद, साथियों की मौत का बदला लेने की दी धमकी साथियों की मौत का बदला लेने की भी दी धमकी

नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ समेत उसकी सरहद से सटे पांच राज्यों ओडिशा, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में माओवादियों ने 3 नवंबर को बंद बुलाया है. हालांकि नक्सलियों का बंद का आव्हान सिर्फ उनके दबाव और प्रभुत्व वाले इलाको में ही असर दिखाएगा लेकिन साफ टारगेट पर हमले करने की उनकी रणनीति ने पुलिस औए केंद्रीय सुरक्षा बलों को सोचने पर मजबूर कर दिया है.

27 माओवादियों की मौत का बदला लेने की धमकी
दरअसल मलकानगिरी में 27 माओवादियों की मौत का बदला लेने के लिए नक्सलियों ने धमकी दी है. हफ्ते भर पहले आंध्र प्रदेश की ग्रेहाउंड और ओडिशा पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन में मलकानगिरी के जंगलो में 27 माओवादियों को मार गिराया था. इस कार्रवाई से नक्सलियों का मनोबल काफी टूटा है. यही नहीं ग्रामीण भी अब उनकी मदद के लिए सामने नहीं आ रहे है.

अफसरों और जनप्रतिनिधियों को निशाना बनाने का निर्देश
नक्सली दलम में मचने वाली भगदड़ को थामने के लिए सेंट्रल कमिटी ने बंद का आव्हान किया है. उसने यह भी निर्देश दिया है कि बंद के दौरान सरकारी इमारतों, अफसरों और जनप्रतिनिधियों को निशाना बनाने से नहीं चुकें. इस निर्देश के बाद नक्सलियों की शॉर्ट एक्शन पार्टी सक्रिय हो गई है.

राजनाथ के दौरे के बाद की कार्रवाई से नाराज कमेटी
केंद्रीय कमेटी ने आरोप लगाया है कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह के विशाखापट्टनम दौरे के बाद दमनकारी नीति और तेज हो गई है. बस्तर के अलावा छत्तीसगढ़ की सरहद के चारों हिस्सो में नक्सलियों ने बंद का पालन करने के लिए सड़कों पर बैनर-पोस्टर लगाए हैं. हालांकि नक्सलियों के दबदबे वाले इलाको में पुलिस और केंद्रीय सुरक्षाबलों ने खून खराबे के अंदेशे के चलते भारी बल तैनात किया है.

पांचों राज्यों में सुरक्षा कड़ी
इधर बंद के मद्देनजर छत्तीसगढ़, ओडिशा, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. सरहदों में चौकसी बरती जा रही है. एंटी नक्सल ऑपरेशन से जुड़े अफसर हालात पर निगाह रखे हुए हैं. छत्तीसगढ़ के डीजीपी नक्सल ऑपरेशन डीएम अवस्थी के मुताबिक अगर नक्सलियों ने कहीं भी हमले की कोशिश की तो उन्हें मुहतोड़ जवाब दिया जाएगा. उन्होंने लोगों से सतर्क रहने और नक्सली गतिविधियों की जल्द सूचनाएं देने की अपील की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay