एडवांस्ड सर्च

इंदिरा या मोदीः वक्त बताएगा देश में 19 ताकतवर है या फिर 18?

आजाद भारत में सबसे ताकतवर कौन, इंदिरा गांधी या नरेंद्र मोदी. इंदिरायुग में 18 राज्यों पर कांग्रेस शासन था जबकि मोदीयुग में भाजपाराज 19 राज्यों में चल रहा है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in दिल्ली, 21 December 2017
इंदिरा या मोदीः वक्त बताएगा देश में 19 ताकतवर है या फिर 18? इंदिरा गांधी और नरेंद्र मोदी

एक कहावत है 19 साबित करना, लेकिन यहां 18-19 के चक्कर में पड़ने से बेहतर है कि इस बात का इंतजार किया जाए कि किसके शासनकाल में आम जनता को ज्यादा राहत पहुंची और निचले तबके के लोगों की जिंदगी आसान रही.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बैठक में यह जिक्र किया कि उनकी भारतीय जनता पार्टी का इस समय 19 राज्यों (6 सहयोगी दलों के साथ सरकार) में शासन है, जबकि इंदिरा गांधी के समय में कांग्रेस पार्टी की 18 राज्यों में सरकार थी.

मोदी के इस बयान के बाद यह आकलन करना जरुरी हो गया है कि इन दोनों कालखंडों (इंदिरा युग और मोदी युग) में किस पार्टी की स्थिति ज्यादा मजबूत है, इस पर मनन किया जाए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपने बेहद 'अच्छे दिन' देख रही है, और आज की तारीख में देश के 19 राज्यों में उसकी सरकार हो गई है.

68 फीसदी आबादी पर भाजपा राज

मोदी ने बुधवार को भाजपा के संसदीय पार्टी बैठक में कहा था कि इंदिरा गांधी की अगुवाई में कांग्रेस का राज 18 राज्यों में था जबकि साढ़े 3 सालों में भाजपा ने अपने सहयोगी दलों के साथ मिलकर 19 राज्यों में सरकार बना ली है. हम जल्द ही कुछ और राज्यों में होने वाले चुनाव में जीत हासिल करेंगे. उन्होंने अपने भावुक भाषण में कहा कि भाजपा के कई नेता और जनसंघ के कार्यकर्ताओं ने गुजरात में कांग्रेस की जगह भाजपा को खड़ा करने में काफी संघर्ष किया और आज वह उन लोगों को मिस करते हैं जो इस कामयाबी को देखने से पहले दुनिया छोड़ गए.

फिलहाल आबादी के लिहाज से देखा जाए तो भाजपा और सहयोगी दलों का 67.78 फीसदी आबादी पर शासन है, वहीं क्षेत्रफल के लिहाज से भाजपा और सहयोगी दलों का 78.08 फीसदी क्षेत्र पर शासन चल रहा है.

इसके उलट इंदिरा के जमाने में कांग्रेस पार्टी 18 राज्यों में सत्तारुढ़ थी, उस समय की खास बात यह थी कि इन 18 राज्यों में कांग्रेस ने अपने दम पर सरकार बनाई थी. जबकि इस बार भाजपा के 19 में से सिर्फ राज्यों में 13 में उसकी अपनी सरकार है. इन 19 में से कई छोटे राज्य हैं जो पिछले 2 दशक के अंदर ही अस्तित्व में आए हैं.

3 दशक में तेजी से बढ़ी भाजपा

यह जरूर है कि भाजपा ने बड़ी से अपना प्रसार किया है. 1991 में राममंदिर मुद्दे के सहारे पहली बार 4 राज्यों में सरकार बनाई थी. तब कांग्रेस 12 राज्यों में सत्ता में थी. उस समय उत्तराखंड और छत्तीसगढ़ क्रमशः उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश का हिस्सा था. सन 2000 में भाजपाशासित राज्यों की संख्या में इजाफा हुआ और यह 5 तक पहुंची जबकि कांग्रेस 9 तक आ गई.

2014 जब 'मोदी लहर' ने भाजपा को पहली बार केंद्र में पूर्ण बहुमत मिली, लेकिन उसने सहयोगी दलों के साथ सरकार बनाई. उस समय 11 राज्यों में भाजपाराज था जबकि कांग्रेस 9 राज्यों में सत्ता में थी. लेकिन इन साढ़े 3 सालों में मोदी ने 8 अन्य राज्यों में अपनी सरकार बना ली.

वक्त तय करेगा, महान कौन?

इंदिरा और मोदी दोनों में सबसे ताकतवर कौन है. इस पर कुछ भी कह पाना अभी संभव नहीं है. दोनों कालखंड में 30 से ज्यादा साल का अंतर है और दोनों युग की परिस्थितियों में भी काफी भिन्नता है.

ऐसे में अपने-अपने समय के आधार पर देखा जाए तो दोनों अपने समय में ताकतवर थे. फिलहाल मोदी के पास वक्त है कि वो अपने युग में कई और राज्यों में कमल का फूल खिला सकते हैं. साथ ही अपनी स्थिति और सुधार सकते हैं.

यह इतिहास बताएगा कि दोनों के नेतृत्व में देश ने कितनी तरक्ती की और आम जनता के लिए कितना फायदेमंद रहा. फिलहाल अभी फैसला देने थोड़ा मुश्किल है. इसे भविष्य पर छोड़ते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay