एडवांस्ड सर्च

राजनाथ की नई टीम में होंगे नरेंद्र मोदी के जलवे...

बीजेपी के नए अध्यक्ष राजनाथ सिंह अपनी टीम का जल्दी ही ऐलान करने वाले हैं. आजतक के पास एक्सक्लूसिव जानकारी है कि बीजेपी के 'नए नाथ' की टीम में नरेंद्र मोदी का जलवा रहेगा. पार्लियामेंट्री बोर्ड में शामिल होने वाले वे इकलौते मुख्यमंत्री ही होंगे, यानी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का पत्ता भी साफ हो सकता है.

Advertisement
aajtak.in
अमिताभ सिन्हा/अशोक सिंघलनई दिल्‍ली, 07 March 2013
राजनाथ की नई टीम में होंगे नरेंद्र मोदी के जलवे... नरेंद्र मोदी

बीजेपी के नए अध्यक्ष राजनाथ सिंह अपनी टीम का जल्दी ही ऐलान करने वाले हैं. आजतक के पास एक्सक्लूसिव जानकारी है कि बीजेपी के 'नए नाथ' की टीम में नरेंद्र मोदी का जलवा रहेगा. पार्लियामेंट्री बोर्ड में शामिल होने वाले वे इकलौते मुख्यमंत्री ही होंगे, यानी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का पत्ता भी साफ हो सकता है.

दिखेगा नरेंद्र मोदी का जलवा
बीजेपी में मुख्यमंत्री तो कई हैं, केंद्रीय नेताओं की भी कमी नहीं है, लेकिन नरेंद्र मोदी जैसा रुतबा किसी और का नहीं है. मोदी का ऊंचा कद अब राजनाथ सिंह की नई टीम में भी दिखेगा. अब तक यह माना जा रहा था कि बीजेपी संसदीय बोर्ड में मोदी के साथ-साथ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी जगह दी जाएगी, लेकिन आजतक को मिली खबर के मुताबिक अब राजनाथ सिंह की नई टीम में फिलहाल एक ही मुख्यमंत्री, यानी नरेंद्र मोदी को जगह मिलेगी.

राजनाथ की टीम के संभावित चेहरे
नरेंद्र मोदी के अलावा राजनाथ की टीम में शामिल हो सकते हैं ये चार चेहरे- मुरलीधर राव, अमित शाह, वरुण गांधी, उमा भारती. मुरलीधर राव के जरिये राजनाथ स्वदेसी जागरण का अलख जगाना चाहते हैं, तो अमित शाह की एंट्री 2002 दंगों के दाग को खारिज करने की है. साथ ही नरेन्द्र मोदी के सबसे चेहते अमित शाह को दिल्ली बुलाकर यह संकेत भी देना है कि मोदी गुजरात से अकेले नहीं आ रहे.

राहुल की काट में वरुण गांधी
वहीं वरुण गांधी के जरिए राजनाथ एक साथ कई निशाना एक साथ साधना चाह रहे हैं. एक तरफ वरुण राहुल गांधी की काट साबित हो सकते हैं, तो दूसरी ओर गांधी परिवार के सदस्य के जरिए बीजेपी सांप्रदायिक पार्टी होने के आरोपों का जवाब भी देगी. उधर, उमा भारती के जरिए राजनाथ सिंह हिन्दुत्व का राग अलापना चाहते हैं, तो दूसरी ओर सोशल इंजीनियरिंग का कार्ड भी खेलना चाहते हैं.

राजनाथ को मिलेगा गडकरी का साथ
नितिन गडकरी और संजय जोशी, इन दो चेहरों का महत्व भी राजनाथ टीम के लिए बड़ा होगा. गडकरी राजनाथ के हर फैसले में न सिर्फ उनके साथ खडे़ रहेंगे, बल्कि महत्वपूर्ण भूमिका भी निभाएंगे. वहीं संजय जोशी भले ही मोदी की आंख की किरकिरी हैं, लेकिन संघ परिवार मोदी को झुकने का संकेत दे रहा है. राजनाथ की नई टीम में ज्युल ओराम, ओम प्रकाश माथुर और राजीव प्रताप रूडी भी नए चेहरे हो सकते हैं.

राजनाथ सिंह की नजर इसी बरस होने वाले दिल्ली और राजस्थान चुनाव को लेकर खासतौर से है, क्योंकि उन दो राज्यो में कांग्रेस की सरकार है. लिहाजा, दिल्ली से हर्षवर्धन और राजस्थान से रामदास अग्रवाल नए चेहरे के तौर पर राजनाथ की टीम का हिस्सा हो सकते हैं. कर्नाटक को लेकर भी राजनाथ हैरान-परेशान हैं, तो वहां से सदानंद गौड़ा को जगह मिल सकती है.

पार्टी 'हिंदुत्‍व' के साथ चलने को तैयार
राजनाथ सिंह की 21 सदस्यीय टीम में उस हर नेता को तरजीह दी जाएगी, जो इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं. साथ ही राजनाथ हिन्दुत्व की उस धारा को प्रमुखता के साथ जोड़ने के लिए तैयार हैं, जिसे संघ परिवार पंसद करता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay