एडवांस्ड सर्च

कर्नाटक: ईगलटन रिजॉर्ट पहुंचे कांग्रेस MLA, सिद्धारमैया बोले- मोदी-शाह ने दिया था 70 करोड़ का ऑफर

Karnataka Crisis 3 विधायकों की गैर मौजूदगी ने कांग्रेस की परेशानी बढ़ा दी है. कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद पार्टी सभी 76 विधायकों को बेंगलुरु स्थित ईगलटन रिजॉर्ट ले गई गई है. जब कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आए थे और राज्य में सरकार बनाने की कोशिशें हो रही थी, उस वक्त भी कांग्रेस के विधायक इसी ईगलटन रिजॉर्ट में ठहरे थे.

Advertisement
aajtak.in
नागार्जुन नई दिल्ली, 18 January 2019
कर्नाटक: ईगलटन रिजॉर्ट पहुंचे कांग्रेस MLA, सिद्धारमैया बोले- मोदी-शाह ने दिया था 70 करोड़ का ऑफर कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया (फाइल फोटो)

कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया है. सिद्धारमैया ने आरोप लगाया है कि पीएम नरेंद्र मोदी 'ऑपरेशन कमल' के लिए फंड सोर्स कर रहे हैं. कर्नाटक में शुक्रवार को दिन भर राजनीतिक उठापटक के घटनाक्रम के बीच कांग्रेस की विधायक दल की बैठक हुई. कांग्रेस ने दावा किया कि विधायक दल की बैठक में 79 में से 76 विधायक मौजूद रहे.

3 विधायकों की गैर मौजूदगी ने कांग्रेस की परेशानी बढ़ा दी है. कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद पार्टी सभी 76 विधायकों को बेंगलुरु स्थित ईगलटन रिजॉर्ट ले गई गई है. जब कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आए थे और राज्य में सरकार बनाने की कोशिशें हो रही थी, उस वक्त भी कांग्रेस के विधायक इसी ईगलटन रिजॉर्ट में ठहरे थे.

पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने बीजेपी पर आरोप लगाया और कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार को गिराने में पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह शामिल हैं. सिद्धारमैया ने कहा कि उन्होंने हमारे विधायकों को 50 से 70 करोड़ का ऑफर दिया. सिद्धारमैया का दावा है कि उनके पास इस बात का सबूत है.

शुक्रवार रात को ट्वीट कर सिद्धारमैया ने पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर हमला बोला. उन्होंने कहा, "नरेंद्र मोदी एक स्वघोषित चौकीदार हैं, ऐसा लगता है कि वो सिर्फ अपने दोस्तों को बचाते हैं ताकि असंवैधानिक और अलोकतांत्रिक ऑपरेशन कमल के लिए फंड जुगाड़ किया जा सके, इसके बजाय उन्हें संविधान का चौकीदार बनना चाहिए और लोगों द्वारा दिए गये जनादेश के प्रति समर्पण दिखाना चाहिए.

कांग्रेस के जो तीन विधायक शुक्रवार की बैठक में शामिल नहीं हुए उनके नाम हैं, रमेश जरकीहोली, महेश कुमातहल्ली और उमेश जाधव. विधायक उमेश जाधव ने इस बैठक में ना पहुंचने पर सफाई दी है. उन्होंने सिद्धारमैया को पत्र लिखकर कहा है कि उनकी सेहत खराब है और वे यात्रा करने में असमर्थ हैं, इसलिए विधायक दल की बैठक में नहीं पहुंच पाएंगे.

इसके अलावा बी नागेन्द्र नाम के विधायक भी बैठक में शामिल नहीं हुए. बी नागेन्द्र ने कहा कि एक अदालती मामले की वजह से वह विधायक दल की बैठक में शामिल नहीं हो सकेंगे. विधायक दल के नेता सिद्धारमैया ने कहा कि बैठक में गैरहाजिर रहने वाले विधायकों को पार्टी कारण बताओ नोटिस भेजेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay