एडवांस्ड सर्च

बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंचे सांसद अनंत हेगड़े, लोग चिल्लाए- देर से क्यों आए

बेलगाम में बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद अनंत कुमार हेगड़े पर लोगों ने जमकर गुस्सा निकाला. लोगों ने उनसे चिल्लाते हुए पूछा कि इतनी देर से क्यों आए.

Advertisement
aajtak.in
नागार्जुन बेंगलुरु, 12 August 2019
बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंचे सांसद अनंत हेगड़े, लोग चिल्लाए- देर से क्यों आए बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े (फाइल फोटो)

दक्षिण भारत बाढ़ की चपेट में है. केरल और कर्नाटक में कुदरत का कहर जमकर बरस रहा है. इस बीच कर्नाटक के बेलगाम में बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद अनंत कुमार हेगड़े पर बाढ़ पीड़ित लोगों ने जमकर गुस्सा निकाला. लोगों ने केंद्रीय मंत्री से चिल्लाते हुए पूछा कि इतनी देर से क्यों आए.

कर्नाटक में बाढ़ से हालत खराब है. मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के मुताबिक, "क्षतिग्रस्त सड़कों और राजमार्गों की लंबाई 2,450 किमी है और 1,427 करोड़ रुपये का नुकसान होने का अनुमान है, क्योंकि 530 पुल और 56 सार्वजनिक भवन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं." येदियुरप्पा ने कहा कि 3,22,448 हेक्टेयर कृषि भूमि को नुकसान हुआ है और किसानों को राज्य और केंद्रीय कृषि बीमा योजना के तहत मुआवजा दिया जाएगा.

महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के कई जिलों में नदियां अपने किनारों को तोड़कर बह रही हैं, जलाशय खतरे के निशान को पार कर गए हैं और भूस्खलन हो रहे हैं. इन चार राज्यों में लगातार बारिश और बाढ़ से कम से कम 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ में भी भारी बारिश हुई है.

सेना ने चार राज्यों के बाढ़ प्रभावित 17 जिलों में बाढ़ राहत अभियानों में 3,000 से अधिक कर्मियों को तैनात किया है. इन आपातकालीन टीमों ने फंसे हुए लोगों को पेयजल की बोतलें, डब्बाबंद खाना, दूध के पैकेट और दवाईयों की आपूर्ति भी की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay