एडवांस्ड सर्च

कश्मीर पर अफवाह फैलाने वाले 100 से ज्यादा URL होंगे ब्लॉक

एक बैठक में IB, MI, MHA,और सूचना प्रसारण मंत्रालय ने उन विवादास्पद URL की लिस्ट साझा की जो कश्मीर पर झूठी और फर्जी सूचनाएं फैला रहे थे. अब ऐसे करीब 100 URL को बैन किया जाएगा.

Advertisement
aajtak.in
जितेंद्र बहादुर सिंह नई दिल्ली, 13 August 2019
कश्मीर पर अफवाह फैलाने वाले 100 से ज्यादा URL होंगे ब्लॉक कश्मीर में सेना की चौकसी (IANS)

जम्मू-कश्मीर पर फेक न्यूज फैलाने वाले 100 से ज्यादा सोशल मीडिया अंकाउंट्स पर गृह मंत्रालय कार्रवाई करने जा रहा है. सूत्रों के मुताबिक ऐसे 100 से ज्यादा URL पर गृह मंत्रालय कार्रवाई करेगा और इन्हें बंद किया जाएगा.

मंगलवार को मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉरमेशन टेक्नॉलजी में गृह मंत्रालय, आईबी, मिलिट्री इंटेलिजेंस और सूचना प्रसारण मंत्रालय के अधिकारियों की एक हाई लेवल मीटिंग हुई. इस बैठक में IB, MI, MHA,और I&B ने उन विवादास्पद URL की लिस्ट साझा की जो कश्मीर पर झूठी और फर्जी सूचनाएं फैला रहे थे. अब ऐसे करीब 100 URL को बैन किया जाएगा.

दूसरी ओर जम्मू कश्मीर के हालात को लेकर झूठी खबरें फैला रहे इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) और पाकिस्तानी सेना की ओर से चलाए जा रहे चार ट्विटर हैंडल को माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने मंगलवार को यह कहते हुए बंद कर दिया कि यह व्यक्तिगत खातों को हटाने पर टिप्पणी नहीं करता. ये ट्विटर अकाउंट्स घाटी के बाहर से चलाए जा रहे थे. निलंबित हुए इन खातों में सैयद अली शाह गिलानी का अकाउंट भी शामिल है.

रिपोर्ट्स के आधार पर, हटाने के लिए भेजे गए अकाउंट्स की सूची में सैयद अली गिलानी, वॉइस ऑफ कश्मीर, मदीहा शकील खान, अरशद शरीफ, मैरी स्कली आदि के नाम शामिल हैं.

पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 को रद्द किए जाने और जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने के बाद से प्रदेश में लगे लॉकडॉउन को लेकर झूठी खबरें फैलाई जा रही थीं. इसे लेकर सरकार काफी कड़े कदम उठा रही है और हरसंभव कोशिश की जा रही है कि सोशल मीडिया पर कोई अफवाह न फैले.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay