एडवांस्ड सर्च

माल्या विवाद: BJP ने कांग्रेस के दावे को नकारा, 1 मार्च को सेंट्रल हॉल में गए ही नहीं थे जेटली

बीजेपी ने कहा कि 1 मार्च को वित्त मंत्री अरुण जेटली संसद के सेंट्रल हॉल गए ही नहीं थे. ऐसे में कांग्रेस का आरोप कि जेटली ने सेंट्रल हॉल में माल्या से मुलाकात की थी, पूर्ण रूप से गलत है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: अजीत तिवारी]नई दिल्ली, 14 September 2018
माल्या विवाद: BJP ने कांग्रेस के दावे को नकारा, 1 मार्च को सेंट्रल हॉल में गए ही नहीं थे जेटली विजय माल्या

बीजेपी ने कांग्रेस नेता पीएल पुनिया की उस बात को सिरे से नकार दिया है जिसमें पुनिया ने दावा किया था कि उन्होंने संसद के सेंट्रल हॉल में वित्त मंत्री अरुण जेटली को माल्या के साथ बैठकर बात करते देखा था. बीजेपी के संसदीय सूत्रों ने कहा है कि अरुण जेटली एक मार्च को संसद के सेंट्रल हॉल में गए ही नहीं थे.

सूत्रों के मुताबिक एक मार्च के दिन जेटली सुबह करीब 10 बजे संसद पहुंचे. यहां वो पीएम मोदी के साथ होने वाली बैठक में शामिल होने के लिए आए थे. इसके बाद वो एक घंटे तक चले शून्य काल में शामिल होने के लिए 11 बजे राज्यसभा पहुंचे. हालांकि, 12 बजकर 17 मिनट पर हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी गई.

कार्यवाही के स्थगित होने के बाद जेटली अपने कमरे में पहुंचे, इस दौरान रास्ते में उनकी मुलाकात माल्या से हुई. इसके बाद जेटली अपने कमरे में पहुंचे और वहां आए आगंतुकों से मुलाकात की. 12 बजकर 45 मिनट पर वो अपने कमरे से विज्ञान भवन के लिए रवाना हुए. इस बीच वो सेंट्रल हॉल नहीं गए और विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में वो करीब 2 बजे तक रहे.

इधर, कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने इसके बिलकुल उलट दावा करते हुए ट्वीट किया, 'अरुण जेटली झूठ बोल रहे हैं, मैंने सेंट्रल हॉल में उन्हें माल्या के साथ लंबी बैठक करते हुए देखा था. ये बैठक माल्या के लंदन के लिए जाने से दो दिन पहले हुई थी.'

पुनिया का यह बयान माल्या के उस दावे के बाद आया था जिसमें माल्या ने बुधवार को लंदन में दावा किया कि भारत छोड़ने से पहले वह वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिला था. माल्या के इस बयान के बाद विपक्ष अरुण जेटली पर हमलावर हो गया. राहुल गांधी ने पीएल पुनिया के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की और जेटली पर माल्या को भगाने में मदद करने का आरोप लगाते हुए इस्तीफा मांगा. बता दें कि वित्त मंत्री अरुण जेटली ने माल्या के बयान के बाद सफाई देते हुए कहा था कि वह माल्या से मिले थे, लेकिन वह मुलाकात आधिकारिक नहीं थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay