एडवांस्ड सर्च

देश के पहले बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट को लगा झटका

देश की पहली बुलेट रेल परियोजना को ज़ोर का झटका लगा है. मुंबई-अहमदाबाद रूट पर चलने वाली बुलेट ट्रेन के स्टेशन के लिए ज़मीन देने से एमएमआरडीए ने इनकार कर दिया है. यह खबर मुंबई के एक अंग्रेजी अखबार ने दी है. उसके मुताबिक जहां से बुलेट ट्रेन स्टार्ट होती, वह ज़मीन एमएमआरडीए यानी मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण की है और यह बांद्रा-कुर्ला कॉमप्लेक्स में है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited by: मधुरेंद्र सिन्हा]नई दिल्ली, 22 December 2014
देश के पहले बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट को लगा झटका Bullet Train File image

देश की पहली बुलेट रेल परियोजना को ज़ोर का झटका लगा है. मुंबई-अहमदाबाद रूट पर चलने वाली बुलेट ट्रेन के स्टेशन के लिए जमीन देने से एमएमआरडीए ने इनकार कर दिया है. यह खबर मुंबई के एक अंग्रेजी अखबार ने दी है. उसके मुताबिक जहां से बुलेट ट्रेन स्टार्ट होती, वह जमीन एमएमआरडीए यानी मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण की है और यह बांद्रा-कुर्ला कॉमप्लेक्स में है.

प्राधिकरण के संयुक्त परियोजना निदेशक दिलीप कावाठकर ने अखबार से कहा कि हमने रेलवे को पत्र लिखकर सूचित कर दिया है कि हम वाकई बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स की अपनी ज़मीन देने की स्थिति में नहीं है. रेलवे को किसी और ज़मीन की तलाश करनी चाहिए.

मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन मोदी सरकार की वरीयता सूची पर है और पीएम ने चुनाव के पहसे से इसकी घोषणा कर रखी है. 70,000 करोड़ रुपए की इस परियोजना को जापान की आर्थिक मदद मिलने की उम्मीद है.

एमएमआरडीए के अधिकारियों ने कहा कि रेलवे बुलेट ट्रेन का केन्द्र या तो बान्द्रा टर्मिनस ले जाए या फिर लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर. इससे यात्रियों को सुविधा होगी. वहां से आना-जाना आसान होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay