एडवांस्ड सर्च

आतंकियों को मारकर सेना ने पाकिस्तान से कहा- अपने लोगों की लाश ले जाओ

बीते रविवार को एलओसी पर पाकिस्तानी आतंकियों ने भारत में दाखिल होने का प्रयास किया था और उन्होंने सेना के गश्ती दल को निशाना बनाया था. जवाबी कार्रवाई में सेना ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया था.

Advertisement
aajtak.in
जावेद अख़्तर/ मंजीत सिंह नेगी नई दिल्ली, 23 October 2018
आतंकियों को मारकर सेना ने पाकिस्तान से कहा- अपने लोगों की लाश ले जाओ फोटो- आजतक आर्काइव

रविवार को जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से हुई घुसपैठ की कोशिश पर सेना ने सख्त लहजे में पाकिस्तान को चेतावनी दी है. सेना ने पाकिस्तानी आर्मी से कहा है कि वह अपनी जमीन पर पल रहे आतंकवादियों पर लगाम लगाए. साथ ही सेना ने एनकाउंटर में ढेर किए गए अपने दो आतंकवादियों के शव ले जाने के लिए भी कह डाला.

जम्मू के सुंदरबनी सेक्टर में बीते रविवार को एलओसी के पास पाकिस्तानी आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की थी. जिसका सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया था. सेना ने पाकिस्तान के मंसूबों पर पानी फेरते हुए दो हथियारबंद पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार गिराया था. हालांकि, इस एनकाउंटर के दौरान तीन सैनिक भी शहीद हो गए थे.

शव ले जाए पाकिस्तान

न्यूज एजेंसी भाषा ने आधिकारिक सूत्रों के हवाले से लिखा है कि भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना से कहा है कि वह रविवार को जम्मू के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास हुई मुठभेड़ में मारे गए दो 'घुसपैठियों' के शव ले जाए. ये घुसपैठिए लड़ाकू पोशाक पहने हुए थे और माना जाता है कि ये बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) के सदस्य थे.

सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना को सूचित किया गया है कि वह अपने नागरिकों के शव लेकर जाए. सेना के सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना को सख्त चेतावनी दी गई है कि वह अपनी सरजमीं से काम कर रहे आतंकवादियों पर लगाम लगाए.

बता दें कि रविवार को मुठभेड़ की यह घटना दोपहर करीब 1:20 बजे हुई थी. पांच-छह पाकिस्तानी घुसपैठिए एलओसी पार कर भारतीय सीमा में दाखिल हो गए थे और उन्होंनेसुंदरबनी सेक्टर में भारतीय सेना के एक गश्ती दल को निशाना बनाया था.

DGMO बातचीत में उठेगा मुद्दा

माना जा रहा है कि अब दोनों देशों के बीच डीजीएमओ स्तर की बातचीत में भारत इस मुद्दे को उठाएगा. यह बातचीत आज के लिए प्रस्तावित है.

इससे पहले बीते 29 मई को दोनों देशों के महानिदेशक सैन्य अभियान (डीजीएमओ) के बीच हुई बातचीत के बाद से भारतीय सेना एलओसी के पास संघर्षविराम समझौते पर अमल की खातिर पूरा संयम बरत रही है. जबकि सीमा पार से नियमित तौर पर उकसाने वाले कदम उठाए जा रहे हैं.

पाकिस्तानी सेना एलओसी के पार आतंकवादियों को भेजने की कोशिशें लगातार करती रही है. 30 मई से लेकर अब तक सेना घुसपैठ की सात कोशिशें नाकाम कर चुकी है, जिसमें 23 आतंकवादी मारे गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay