एडवांस्ड सर्च

म्यांमार एक्शन पर बोले चिदंबरम- सरकार के बुरे दिन आते हैं तो... ऐसे ही चीजें लेकर आते हैं...

पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी. चिदंबरम ने भारतीय सेना की सफलता पर कहा, "इस देश में सबकुछ सर्जिकल स्ट्राइक है. भारत-म्यांमार सीमा पर घने जंगल हैं... यह पहले भी हुआ है... इस सरकार के जब बुरे दिन आते हैं तो वे कुछ ऐसी ही चीजें लेकर आते हैं..."

Advertisement
aajtak.in
कुमार विक्रांत नई दिल्ली, 27 September 2017
म्यांमार एक्शन पर बोले चिदंबरम- सरकार के बुरे दिन आते हैं तो... ऐसे ही चीजें लेकर आते हैं... कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम एवं आर पी एन सिंह

27 सितंबर को तड़के जब भारतीय फौज की एक टुकड़ी भारत-म्यांमार सीमा की निगरानी कर रही थी तभी अज्ञात उग्रवादियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी. भारतीय जवानों ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उग्रवादियों पर भारी गोलाबारी की और उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया. इसके बाद उग्रवादी मौके से भाग खड़े हुए. जानकारी के मुताबिक सेना के जवाबी हमले में काफी संख्या में उग्रवादी मारे गए हैं.

बताया जा रहा है कि इस हमले में NSCN (K) के कई उग्रवादी ढेर हुए हैं. इस गोलीबारी में हमारे जवानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा. यहां ये बताना जरूरी है कि हमारी सेना ने इंटरनेशनल बॉर्डर पार नहीं किया. सेना की इस बड़ी कामयाबी पर 'आज तक' ने कुछ राजनेताओं से उनकी प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की. पढ़िए... भारतीय सेना की इस सफलता पर क्या कहते हैं राजनेता...

सरकार के बुरे दिन आते हैं तो... ऐसे ही चीजें लेकर आते हैं...

पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी. चिदंबरम ने भारतीय सेना की सफलता पर कहा, "इस देश में सबकुछ सर्जिकल स्ट्राइक है. भारत-म्यांमार सीमा पर घने जंगल हैं... यह पहले भी हुआ है... अगर आप आडवाणी जी, शिंदे जी से पूछें... इस सरकार के जब बुरे दिन आते हैं तो वे कुछ ऐसी ही चीजें लेकर आते हैं..."

चिदंबरम ने अर्थव्यवस्था पर मोदी सरकार को घेरते हुए आगे कहा, "अच्छे दिन तो आये नहीं, बुरे दिन कब जाएंगे... अब कोई चमत्कार ही इस सरकार के बचे 20 महीनों में अर्थव्यवस्था को पटरी पर ला सकता है.

सेना की वीरता को सलाम

इसी मुद्दे पर जब पूर्व गृह राज्य मंत्री आर पी एन सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा, "आर्मी ने कहा है कि ये सर्जिकल स्ट्राइक नहीं है. हां, आर्मी ने घुसपैठियों को मार गिराया, हमेशा की तरह वीरता दिखाई है, उनको सलाम. आर्मी पहले भी ऐसा करती रही है. हां, जहां तक 56 इंच की बात है वो तब होती जब पाकिस्तान की तरफ एक्शन हो, चीन को लाल आंख दिखाई जाए."

आगे बोफोर्स पर बोलते हुए उन्होंने कहा, "30 साल से बीजेपी इस मुद्दे को उठाती रही है, गांधी परिवार पर कीचड़ उछालने के लिए, लेकिन कामयाब नहीं रही. हर जगह से क्लीन चिट ही मिली. सीबीआई का दुरुपयोग करने की कोशिश है. इसी बोफोर्स ने कारगिल में जीत दिलाई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay