एडवांस्ड सर्च

पाकिस्तान को मिलेगा हर नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब, 33 लड़ाकू विमान खरीदेगी वायुसेना

भारतीय वायुसेना अगले कुछ सप्ताह में होने वाली रक्षा मंत्रालय की उच्चस्तरीय बैठक में 33 नए लड़ाकू विमान खरीदने का प्रस्ताव पेश करने की तैयारी में हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 29 August 2019
पाकिस्तान को मिलेगा हर नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब, 33 लड़ाकू विमान खरीदेगी वायुसेना 33 नए लड़ाकू विमान खरीदेगी वायुसेना

  • रक्षा मंत्रालय की उच्चस्तरीय बैठक में रखा जाएगा विमान खरीदने का प्रत्साव
  • आधुनिक तकनीक से लैस और अपग्रेडेड होंगे खरीदे जाने वाले नए लड़ाकू विमान
कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान के साथ गहराए तनाव के बीच भारतीय वायुसेना ने 33 लड़ाकू विमान खरीदने की योजना बनाई है. इनमें से 21 मिग-29 और 12 सुखोई-30 लड़ाकू विमान शामिल हैं. समाचार एजेंसी एएनआई ने सरकार के सूत्रों के हवाले से बताया कि अगले कुछ सप्ताह में रक्षा मंत्रालय की उच्चस्तरीय बैठक होने वाली है, जिसमें भारतीय वायुसेना 33 लड़ाकू विमान खरीदने का प्रस्ताव पेश करने की तैयारी में हैं.

हाल ही में भारतीय वायुसेना के कई लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त हुए थे, जिसके चलते इनकी संख्या में भी कमी आई है. लिहाजा इन नए लड़ाकू विमानों को वायुसेना के बेड़े में शामिल करके इसकी कमी को दूर किया जा सकेगा. 12 सुखोई विमानों के शामिल होने से भारतीय वायुसेना के सुखोई लड़ाकू विमानों के बेड़े की संख्या 272 हो जाएगी.

भारतीय वायुसेना ने 21 मिग-29 लड़ाकू विमानों को रूस से खरीदने की योजना बना रही है. रूस ने भारतीय वायुसेना की लड़ाकू विमानों की कमी को दूर करने के लिए नए लड़ाकू विमान देने का प्रस्ताव दिया है. सूत्रों के मुताबिक जो नए लड़ाकू विमान खरीदे जाने की योजना है, वो आधुनिक तकनीक से लैस और अपग्रेडेड होंगे. भारतीय वायुसेना के बेड़े में मिग-29 पहले से ही शामिल हैं. नए मिग-29 के रडार और अन्य उपकरण भी आधुनिक मानकों के अनुरूप होंगे.

समाचार एजेंसी एनआईए ने सूत्रों के हवाले से बताया कि इन लड़ाकू विमानों की सौदेबाजी एडवांस स्टेज में है. भारतीय वायुसेना जल्द से जल्द इस सौदे को अंतिम रूप देने की कोशिश में जुटी है. भारतीय वायुसेना के पायलट मिग-29 उड़ाने में बेहद माहिर हैं. हालांकि रूस द्वारा जिन लड़ाकू विमानों को देने की पेशकश की गई है, वो पहले से शामिल मिग-29 से अलग हैं.

नौसेना भी मिग-29 'K' को उड़ाती है, लेकिन इसे लड़ाकू विमान का उसका अनुभव बहुत अच्छा नहीं रहा है. लैंड करने के बाद इस लड़ाकू विमान की सेटिंग चेंज हो जाती है. भारतीय वायुसेना में मिग-29 के तीन स्क्वॉड्रन हैं, जिनको समय-समय पर अपग्रेड किया जाता रहता है. भारतीय वायु सेना के लिए इसको काफी अच्छा विमान माना जाता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay