एडवांस्ड सर्च

तापमान ने बाड़मेर में तोड़ा 77 साल का रिकॉर्ड, गुजरात-महाराष्ट्र भी परेशान

अप्रैल शुरू भी नहीं हुआ है और गर्मी का कहर बरपने लगा है. देश में कई जगह तापमान लगातार रिकॉर्ड तोड़कर आगे बढ़ रहा है. महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों का हाल बुरा है. मंगलवार को इंदौर में गर्मी के 11 साल, जयपुर के 10 साल, शिमला के 7 साल, राजस्थान के बाड़मेर के 77 साल, जोधपुर के 33 साल और जैसलमेर के 58 साल का रिकॉर्ड टूट गया.

Advertisement
सिद्धार्थ तिवारी/शरत कुमार/गोपी घांघर [Edited by:रुचिका सैनी]नई दिल्ली, 29 March 2017
तापमान ने बाड़मेर में तोड़ा 77 साल का रिकॉर्ड, गुजरात-महाराष्ट्र भी परेशान तापमान ने बाड़मेर में तोड़ा 77 साल का रिकॉर्ड

अभी अप्रैल का महीना शुरू भी नहीं हुआ है और गर्मी का कहर बरपने लगा है. देश में कई जगह तापमान लगातार रिकॉर्ड तोड़कर आगे बढ़ रहा है. महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों का हाल बुरा है. मंगलवार को इंदौर में गर्मी के 11 साल, जयपुर के 10 साल, शिमला के 7 साल, राजस्थान के बाड़मेर के 77 साल, जोधपुर के 33 साल और जैसलमेर के 58 साल का रिकॉर्ड टूट गया.

कहां-कितना तापमान?
मंगलवार को इंदौर में पारा 40.4 और जयपुर में 41 डिग्री रहा. वहीं, शिमला में पारा 25 डिग्री और महाराष्ट्र के भीरा में टेम्परेचर 46.5 डिग्री पर जा पहुंचा. दिल्ली में मंगलवार सुबह न्यूनतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जो कि इस मौसम के औसत तापमान से पांच डिग्री ज्यादा है. वहीं उत्तर प्रदेश के बुदेलखंड में दिन का तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंच गया.

टूट रहे हैं गर्मी के रिकॉर्ड
राजस्थान में जयपुर, पिलानी, कोटा, डबोक, बीकानेर और चूरू में अधिकतम तापमान में मंगलवार के मुकाबले एक से दो डिग्री सेल्सियस की वृद्धि दर्ज की गई है. जयपुर में पिछले 10 सालों में ये पहली बार हुआ है कि मार्च में किसी दिन पारी इतना ज्यादा रहा हो. साथ ही जयपुर में मार्च के महीने में गर्मी का 125 साल का रिकार्ड टूटते-टूटते बचा. अब सवाल उठता है कि मॉर्च के महीने में आखिरकार इतनी अभूतपूर्व गरमी क्यों पड़ रही है. मौसम विभाग के सीनियर साइंटिस्ट चरण सिंह के मुताबिक जोरदार गरमी का कारण है, राजस्थान के ऊपर बना हुआ एंटीसाइक्लोनिक सर्कुलेशन. यानी हवाओं का ऐसा सिस्टम जिसमें हवाएँ घड़ी की विपरीत दिशा में घूमती हैं.

गुजरात की बात करें तो यहां पर कच्छ और सौराष्ट्र समेत ज्यादातर इलाकों में सूरज की गरमी परवान चढ़ी रही है. यहां  हीटवेव की स्थिति बन गई है, जो अगले 48 घंटों तक जारी रहेगी. अहमदाबाद में भी मंगलवार को तापमान 43 डीग्री पहुंच गया. यहां भी पिछले 8 साल का गर्मी का रिकार्ड टूट गया. गरमी की वजह से मौसम विभाग ने यहां हिटवेव वोर्निंग जारी की है.

कई राज्यों में तापमान रहेगा सामान्य से ज्यादा
पुणे मौसम विभाग के मुताबिक इस साल पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, वेस्ट बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना में तापमान सामान्य से ज्यादा रह सकता है. महाराष्ट्र के मराठवाड़ा, सेंट्रल महाराष्ट्र-विदर्भ और कोंकण के कोस्टल एरिया में एवरेज से ज्यादा गर्मी पड़ सकती है. पिछली बार मराठवाड़ा में गर्मी का 115 साल का रिकॉर्ड टूटा था.

2016 दूसरा सबसे गर्म साल था
1901 के बाद 2016 सबसे ज्यादा गर्म साल था . पिछले साल देशभर में गर्मी से 1600 लोगों की मौत हो गई थी. मौसम विभाग के मुताबिक, 1901 के बाद जनवरी 2017 आठवां सबसे गर्म महीना रहा है. इस साल भी जबरदस्त गर्मी पड़ रही है. जब मार्च के अंत में ये हाल है तो मई-जून में क्या हालत होगी?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
पाएं आजतक की ताज़ा खबरें! news लिखकर 52424 पर SMS करें. एयरटेल, वोडाफ़ोन और आइडिया यूज़र्स. शर्तें लागू
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay