एडवांस्ड सर्च

पोम्पियो दिल्ली में, ईरानी तेल-रूसी मिसाइल, बड़े मुद्दे जिनपर अड़े हैं भारत-US

दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर बात हो सकती है, जिसमें तेल संकट, S-400 मिसाइल सिस्टम जैसे अहम मुद्दे हैं. दोनों देश अपने-अपने तर्क देकर बात मनवाने में लगे हुए हैं, अब कौन किस शर्त पर अड़ा है या क्या मांग रख रहा है, यहां समझिए...

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 26 June 2019
पोम्पियो दिल्ली में, ईरानी तेल-रूसी मिसाइल, बड़े मुद्दे जिनपर अड़े हैं भारत-US क्या बनेगी भारत और अमेरिका में इन मुद्दों पर बात?

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत कुछ वैश्विक संकटों के साथ हुई. इसमें सबसे बड़ी परेशानी है अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ती हुई तल्खी, जिसका असर सीधा तेल पर पड़ता है. इस तनाव भरे माहौल के बीच आज अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो की मुलाकात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से होगी. दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर बात हो सकती है, जिसमें तेल संकट, S-400 मिसाइल सिस्टम जैसे अहम मुद्दे हैं. दोनों देश अपने-अपने तर्क देकर बात मनवाने में लगे हुए हैं, अब कौन किस शर्त पर अड़ा है या क्या मांग रख रहा है, यहां समझिए...

क्या चाहता है हिंदुस्तान?

-    H-1 वीज़ा को लेकर अमेरिका लगातार अपने नियमों में बदलाव कर रहा है, इससे भारत पर भी असर पड़ रहा है. ऐसे में भारत की मांग है कि इस नियम में उसकी जरूरतों को पूरा किया जाए. इस बदलाव की वजह से अमेरिका में रह रहे हज़ारों भारतीयों पर असर पड़ सकता है.

-    अमेरिका इस समय कई संकटों से जूझ रहा है, ईरान के साथ लड़ाई, चीन के साथ ट्रेड वॉर. ऐसे में भारत की मांग है कि उनकी ट्रेड वॉर का उसपर कोई असर ना पड़े और भारत को मिलने वाली रियायतों को ना रोका जाए. अमेरिका ईरान से तेल लेने पर रोक की बात कर रहा है.

-    आतंकवाद हमेशा से ही भारत के एजेंडे में रहा है, भारत की मांग है कि अमेरिका पाकिस्तान पर सख्ती बरते.

-    भारत अपने पुराने दोस्त रूस से 5 बिलियन अरब डॉलर की लागत से मिसाइल हमलों से रक्षा देने वाला कवच खरीद रहा है. रूस के साथ इतने भारी-भरकम सौदे से अमेरिका नाराज है.

हालांकि कूटनीतिक सूत्र बताते हैं कि भारत इस सौदे से किसी भी हालत में पीछे नहीं हटने वाला है. जबकि अमेरिका भारत पर Countering American Adversaries Through Sanctions Act (CAATSA) के तहत प्रतिबंध लगाने की धमकी दे चुका है.

किन बातों को लेकर अड़ गया है अमेरिका

-    ईरान और अमेरिका में इन दिनों ठनी हुई है. अमेरिका की चाहत है कि भारत ईरान से तेल ना खरीदे. अगर खरीदते हैं तो अमेरिका भारत पर बैन लगा सकता है.

-    भारत अपने दोस्त रूस से S-400 मिसाइल सिस्टम खरीदना चाहता है. लेकिन अमेरिका चाहता है कि भारत रूस से ये हथियार ना खरीदकर अमेरिका से ही खरीदे.

-    ट्रेड वॉर के बीच अमेरिका की मांग है कि भारत उसके प्रोडक्ट पर टैक्स की दरों में छूट दे. ताकि अमेरिकी कंपनियों को दिक्कत ना आए.

-    अमेरिका ये भी चाहता है कि भारत में उनके देश की सोशल मीडिया/इंटरनेट से जुड़ी कंपनियों को लाइसेंस लेना पड़ता है, इस मांग को दूर किया जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay