एडवांस्ड सर्च

गृह मंत्रालय ने एक साल के लिए बढ़ाया बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा का रेजिडेंट परमिट

आखि‍रकार केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मशहूर बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन का भारत में रेजिडेंट परमिट बढ़ा ही दिया. बांग्लादेश से निर्वासित तसलीमा बार-बार अपना रेजिडेंट परमिट बढ़ाने की अपील कर रही थीं.

Advertisement
aajtak.in
मौसमी सिंह [Edited By: रोहित गुप्ता]नई दिल्ली, 21 August 2015
गृह मंत्रालय ने एक साल के लिए बढ़ाया बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा का रेजिडेंट परमिट बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन

आखि‍रकार केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मशहूर बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन का भारत में रेजिडेंट परमिट बढ़ा ही दिया. बांग्लादेश से निर्वासित तसलीमा बार-बार अपना रेजिडेंट परमिट बढ़ाने की अपील कर रही थीं.

17 को खत्म हो गया था परमिट
तस्लीमा का रेजिडेंट परमिट 17 अगस्त को को खत्म हो गया था और उन्होंने इसके रिन्यू न होने पर ट्वीट करके चिंता भी जाहिर की थी. बतौर तस्लीमा 2004 से 2014 तक उन्हें हर बार उनका रेजिडेंट परमिट 17 अगस्त से पहले मिल जाता है, लेकिन इस साल नहीं मिला. अच्छे दिन पर किया ट्वीट
तस्लीमा ने शुक्रवार को भी ट्वीट किया था, 'राजनाथ सिंह जी ने कहा था कि मेरे अच्छे दिन आ गए हैं, मुझे 50 साल के लिए रेजिडेंट परमिट मिलेगा. लेकिन इस साल परमिट मिला. इंतजार जारी.' इसके कुछ घंटे बाद ही उन्हें रेजिडेंट प‍रमिट मिलने की खबर आ गई.

2004 से भारत में रह रही हैं
उनका परमिट एक साल के लिए बढ़ा है. 1994 से ही जान से मारने की धमकियां मिलने के बाद से वो अपने देश से बाहर रह रही हैं. तस्लीमा स्वीडन की नागरिक हैं, लेकिन वह 2004 से लगातार भारत में ही रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay