एडवांस्ड सर्च

कश्मीर पर हो रही तारीफ, अमित शाह बोले- मैं आयरन मैन नहीं, पार्टी का छोटा सा कार्यकर्ता

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि अनुच्छेद 370 को बचाने वाले यह भी याद रखें उन्हें जनता के बीच जवाब देना होगा. इसी अनुच्छेद की वजह से राज्य का विकास रोका गया और लोकतंत्र का गला घोंटा गया.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 06 August 2019
कश्मीर पर हो रही तारीफ, अमित शाह बोले- मैं आयरन मैन नहीं, पार्टी का छोटा सा कार्यकर्ता गृह मंत्री अमित शाह

जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर बहस के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हम ऐतिहासिक गलती नहीं करने जा रहे बल्कि हम एक ऐतिहासिक गलती ठीक कर रहे हैं. खुद के बारे में उन्होंने कहा, 'मैं खुद की एक आयरन मैन के रूप में पहचान नहीं चाहता, बजाए इसके मैं पार्टी का एक छोटा कार्यकर्ता हूं.'

राज्यसभा के बाद मंगलवार को लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पर भाषण देते हुए अमित शाह ने कहा कि हम बड़ी गलती करने की जगह एक ऐतिहासिक गलती को सुधारने जा रहे हैं. यह देशहित में लिया गया फैसला है. उन्होंने कहा कि मोदी की अगुवाई में कश्मीर में 5 साल में इस कदर विकास कार्य होंगे कि खुद घाटी के लोग कहेंगे कि अनुच्छेद 370 के कारण पिछड़े हुए थे.

इससे पहले लोकसभा में आरएसपी सांसद एनके प्रेमचंद्रन ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल को अवैध, संविधान के खिलाफ और संघीय ढांचे पर हमला बताते हुए कहा कि बिल संसदीय परंपरा के खिलाफ है और राजनीतिक मकसद को पूरा करने के लिए लाया गया है. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर को 2 हिस्सों में बांटकर केंद्र शासित प्रदेश बनाया जा रहा है और इस फैसले पर स्थानीय जनता को भरोसे में नहीं लिया गया है. यह एक ऐतिहासिक भूल है जिसका अंदाजा सरकार को बाद में हो जाएगा.

अमित शाह ने अनुच्छेद 370 को कमजोर कर जिस तरह से जम्मू-कश्मीर को स्पेशल स्टेट का दर्जा खत्म कर दिया उससे उन्हें आयरन मैन का दर्जा दिया जाने लगा है. कई लोग उन्हें आयरन मैन के रूप में देख रहे हैं. लोकसभा में बहस के दैरान उन्होंने कहा, 'मैं खुद को आयरन मैन के रूप में पहचान नहीं चाहता बजाए इसके कि मैं पार्टी का एक छोटा सा कार्यकर्ता हूं.'

अपनी इसी भाषण के दौरान कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी के सवाल का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा कि अगर तीन परिवारों के नाम बता दूंगा तो आप लोग तिलमिला जाएंगे. पूरे देश को पता है कि वो तीन परिवार कौन हैं. केंद्र की ओर से जल कल्याण का जो पैसा राज्य में भेजा गया उससे जनता का पूरा विकास नहीं हुआ क्योंकि 370 की वजह से भ्रष्टाचार चलता रहा.

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि अनुच्छेद 370 को बचाने वाले यह भी याद रखें उन्हें जनता के बीच जवाब देना होगा. इसी अनुच्छेद की वजह से राज्य का विकास को रोका गया और लोकतंत्र का गला घोंटा गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay