एडवांस्ड सर्च

गर्मी का थर्ड डिग्री टॉर्चर, चुरू में पारा 50 पार, देशभर में 30 लोगों की मौत

पूरे भारत में भयंकर गर्मी का कहर जारी है. गर्मी के प्रकोप को देखते हुए राजस्थान और विदर्भ में रेड अलर्ट और पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और मध्य प्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 02 June 2019
गर्मी का थर्ड डिग्री टॉर्चर, चुरू में पारा 50 पार, देशभर में 30 लोगों की मौत पूरा भारत भयंकर गर्मी की चपेट में है.

पूरे भारत में भयंकर गर्मी का कहर जारी है. गर्मी के प्रकोप को देखते हुए राजस्थान और विदर्भ में रेड अलर्ट और पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और मध्य प्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. पश्चिमी राजस्थान के चुरू में तो पारा 50.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. वहीं जैसलमेर में भारत-पाकिस्तान सीमा के पास भी पारा हाफ सेंचुरी लगा चुका है. देशभर में गर्मी के कारण 30 लोगों की मौत हो चुकी है.

थार रेगिस्तान की ओर से आने वाली गर्म हवाओं के कारण तापमान में इजाफा हो रहा है. मौसम विभाग का कहना है कि तापमान में 3 जून के बाद गिरावट आ सकती है. मॉनसून भी एक हफ्ते की देरी से आएगा और सामान्य रहेगा. उम्मीद है कि 6 जून के बाद बारिश हो सकती है. इस बीच, लखनऊ के मौसम विभाग ने कहा कि अगले तीन घंटों में उत्तर प्रदेश के लखनऊ, सीतापुर, हरदोई, बाराबंकी और आसपास के इलाकों में ओलावृष्टि और तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है.

कर्नाटक में सूखे का संकट

वहीं दक्षिण भारत का कर्नाटक भयंकर सूखे की चपेट में है. कर्नाटक की एचडी कुमारस्वामी सरकार ने सर्कुलर जारी कर अच्छे मॉनसून के लिए राज्य के सभी मंदिरों में यज्ञ करने का आदेश दिया है. हर मंदिर से विशेष पूजा करने को कहा गया है, जिसमें 10001 रुपये से ज्यादा खर्च न हों.

कर्नाटक के हुबली इलाके में किसान सूखे के कारण गायों को बेचने पर मजबूर हो गए हैं. किसानों का कहना है, ''हमारे पास गायों को खिलाने के लिए कुछ नहीं है. बारिश भी नहीं पड़ रही. हम कुछ भी बोने में सक्षम नहीं हैं तो उन्हें क्या खिलाएं? हम यहां गायों को बेचने आए हैं लेकिन अच्छा दाम भी नहीं मिल रहा.''      

बताया जा रहा है कि बंगाल की खाड़ी, अरब सागर और अंडमान व निकोबार द्वीप समूह से होते हुए मॉनसून केरल के पास 6 जून तक पहुंचेगा. मौसम विभाग ने मॉनसून के सामान्य रहने का अनुमान जताया है. भारत में सालाना 70 प्रतिशत बारिश मॉनसून के दौरान होती है, जो कृषि के लिए बेहद अहम है.

मौसम विभाग का अनुमान है कि उत्तर पूर्वी क्षेत्रों और दक्षिणी प्रायद्वीप पर अगले 3-5 दिनों में गरज के साथ बारिश पड़ेगी. उन्होंने कहा, ''दिल्ली में बारिश होने की उम्मीद नहीं है और अनुमान के मुताबिक यहां पारा 46 डिग्री सेल्सियस रह सकता है. यह धीरे-धीरे कम हो सकता है.''

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay