एडवांस्ड सर्च

4 राज्यों में भारी बारिश, गुजरात में 33 की मौत, मानसून के प्रकोप ने अब तक ली 100 से ज्यादा जानें

बारिश से गुजरात, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और ओडिशा में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. गुजरात में ताजा बाढ़ से बनासकांठा, साबरकांठा, सुरेंद्रनगर, कच्छ और पाटन में 33 लोगों की मौत हो गई है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited By: कुलदीप मिश्र]अहमदाबाद, 31 July 2015
4 राज्यों में भारी बारिश, गुजरात में 33 की मौत, मानसून के प्रकोप ने अब तक ली 100 से ज्यादा जानें Gujarat Flood

ब्रिटेन दौरा अधूरा छोड़कर लौटीं ममता बनर्जी
पश्चिम बंगाल के कई इलाकों में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात बन चुके हैं. राज्य के तीन जिलों में कल से चल रहे तेज तूफान के चलते सैकड़ों मकान ढह गए, बड़ी संख्या में लोग बेघर हो गए तथा कम से कम 12 लोग घायल हुए हैं. हालात इतने खराब हो गए हैं कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को अपना ब्रिटेन दौरा अधूरा छोड़कर वापस लौटना पड़ा.

मुर्शिदाबाद. बीरभूम, बर्धवान और पश्चिमी मिदनापुर में पानी ने लोगों को परेशान कर रखा है. मूसलाधार बारिश से पश्चिम बंगाल के कई जिलों में हजारों हेक्टेयर फसल डूब चुकी है. पश्चिमी मिदनापुर में सैलाब के पानी से घाटक-चंद्रकोना स्टेट हाइवे टूट गया है. मौसम विभाग के मुताबिक कोमेन के कमजोर पड़ने के बावजूद कुछ जगहों पर भारी बारिश का अनुमान है.

राजस्थान पर भी बारिश की मार
राजस्थान के जैसलमेर में बारिश से सैलाब जैसे हालात हैं. लाठी के पास सगरा मिनी बांध टूटने से कुछ गांवों में पानी घुस चुका है. चांधन के पास गोगड़ी नदी के पानी से नेशनल हाईवे नंबर 15 बाधित है, जबकि जोधपुर-जैसलमेर के बीच सड़क मार्ग बंद है. राजस्थान के बाड़मेर जिले में लगातार छह दिनों की बारिश से लूणी नदी उफान पर है. सैकड़ों गांवों को जोड़ने वाली सड़क जलमग्न है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay