एडवांस्ड सर्च

Advertisement

कर्नाटक में कर्जमाफी का ऐलान, हर किसान के 2 लाख होंगे माफ

एक अनुमान के मुताबकि राज्य में 53,000 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया जाना है.विशेषज्ञों का मानना है कि अगर यह गठबंधन सरकार अपना वादा पूरा करती है तो इससे राज्य की राजकोषीय व्यवस्था प्रभावित होगी. इससे पहले सत्तारूढ़ रही कांग्रेस ने भी 8,165 करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया था जिससे 22,27,506 किसानों को लाभ मिला था.
कर्नाटक में कर्जमाफी का ऐलान, हर किसान के 2 लाख होंगे माफ बजट पेश करने विधानसभा पहुंचे कुमारस्वामी
नागार्जुन [Edited By: वरुण शैलेश]बेंगलुरु, 05 July 2018

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी गुरुवार को अपना पहला बजट पेश किया. उन्होंने किसानों की कर्ज माफी की घोषणा की है. विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस और जेडीएस ने अपने-अपने घोषणापत्र में इसका ऐलान किया था.

UPDATES:

-बेलगावी, कलबुर्गी और मैसूर शहरों में सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल खोले जाएंगे. इन अस्पतालों में हार्ट, कैंसर और अन्य बीमारियों का इलाज किया जाएगा. गदग, कोप्पल, चामराजनगर और हसन जिलों में 450 बिस्तरों वाले अस्पताल खोले जाएंगे. इसके लिए 200 करोड़ रुपये मुहैया कराए जाएंगे.

-2017-18 में कर्नाटक की जीएसडीपी की दर 8.5 फीसदी रही, जबकि पिछली समान अवधि में यह 7.5 फीसदी रही थी. 

-राज्य में पेट्रोल के दाम में 1.14 रुपये प्रति लीटर के वृद्धि की घोषणा

-वहीं 1.20 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से डीजल की कीमत में हुई बढ़ोतरी 

-कर्नाटक में पेट्रोल के दाम में 30 से 32 फीसदी की बढ़ोतरी

-डीजल के दामों में 19 से 20 प्रतिशत की वृद्धि

-प्राइमरी स्कूल में कन्नड़ माध्यम के साथ ही कर्नाटक में अंग्रेजी की कक्षाएं शुरू की जाएंगी, ताकि अधिक से अधिक बच्चों को सरकारी स्कूल की तरफ आकर्षित किया जा सके. 1000 स्कूलों में यह प्रयोग किया जाएगा.

-बेंगलुरु झील के जीर्णोद्धार के लिए 50 करोड़ रुपये के आवंटन की घोषणा

-कर्नाटक सरकार आदि शंकराचार्य जयंती का आयोजन करेगी

-भारतीय शराब पर 4 प्रतिशत का उत्पाद शुल्क बढ़ाया. इससे सरकार को 1000 करोड़ रुपये के राजस्व मिलने की उम्मीद है

-बेंगलुरु में पेरिफेरल रिंगरोड का निर्माण होगा,  इसकी लागत 11,950 करोड़ रुपये आएगी, सरकार ने विशेष उद्देश्य वाले वाहनों को मंजूरी दे दी है

-पूर्व की कांग्रेस सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाएं जारी रहेंगी- कुमारस्वामी

-इंदिरा कैंटिन, अन्न भाग्य योजना जारी रहेंगी, इसे और बेहतर बनाया जाएगा

-सीएम के इस ऐलान से  25 हजार किसानों को मिलेगा लाभ 

-सीएम ने बताया कि किसानों की कर्ज माफी का यह पहला चरण है

-किसानों को 31 दिसंबर 2017 तक लिए कर्ज पर मिलेगा ऋण माफी का लाभ

-किसानों के 34000 करोड़ रुपये के कर्म माफी की घोषणा, हर किसान का 2 लाख रुपया होगा माफ

-मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने विधानसभा में बजट भाषण पढ़ना शुरू किया

-विधानसभा में घंटी बजी, असेंबली सभागार में विधायकों का आना शुरू

-पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धारमैया विधानसभा पहुंचे

-बजट पेश करने का यह मेरा पहला अनुभव है, मैं इसे चुनौती के तौर पर देखता हूं- कुमारस्वामी

-मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी पेश करने के लिए विधानसभा पहुंचे

इससे पहले बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर विश्वास जताया था कि सरकार अपने चुनावी वादे के मुताबिक किसानों का कर्ज माफ करेगी और यहीं से पूरे देश के किसानों के लिए उम्मीद पैदा होगी.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'कर्नाटक में बजट की पूर्व संध्या पर मुझे पूरा भरोसा है कि कांग्रेस-जेडीएस सरकार किसानों की कर्जमाफी करने और खेती को अधिक मुनाफे का काम बनाने के हमारे वादे को पूरा करेगी. उन्होंने कहा, 'यह बजट पूरे देश के किसानों की खातिर कर्नाटक को आशा की किरण बनाने के लिए हमारी सरकार के पास एक अवसर की तरह है.'

राजकोषीय व्यवस्था पर असर

विशेषज्ञों का मानना है कि किसानों की कर्ज माफी से राज्य की राजकोषीय व्यवस्था प्रभावित होगी. इससे पहले सत्तारूढ़ रही कांग्रेस ने भी 8,165 करोड़ रुपये किसानों का कर्ज माफ किया था जिससे 22,27,506 किसानों को लाभ मिला था. लेकिन पूर्व की कांग्रेस सरकार के इस फैसले से सिर्फ उन्हीं किसानों को फायदा मिल पाया था जिन्होंने सहकारी बैंकों से 50,000 से 20 जून 2017 तक कर्ज लिया था.

पाएं आजतक की ताज़ा खबरें! news लिखकर 52424 पर SMS करें. एयरटेल, वोडाफ़ोन और आइडिया यूज़र्स. शर्तें लागू
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay