एडवांस्ड सर्च

खडसे ने खुद को बताया पक्का संघी, कहा- डॉन से होता रिश्ता तो विरोधियों को भुगतना पड़ता अंजाम

खडसे ने विरोधि‍यों पर निशाना साधते हुए कहा, 'मुझ पर जमीन खरीद मामले में आरोप लगाने के बाद अब उन्होंने मेरा नाम दाऊद इब्राहिम से जोड़ा है. अगर दाऊद मेरा दोस्त होता तो आप अंदाजा लगा सकते हैं कि फिर उनका (विरोधि‍यों) क्या होता.'

Advertisement
aajtak.in
स्‍वपनल सोनल/ मयूरेश गणपतये मुंबई, 28 May 2016
खडसे ने खुद को बताया पक्का संघी, कहा- डॉन से होता रिश्ता तो विरोधियों को भुगतना पड़ता अंजाम महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे

महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे ने अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद इब्राहिम से कनेक्शन के आरोप पर शुक्रवार को जमकर भड़ास निकाली. जलगांव की रैली में बिफरे खडसे ने विपक्ष और विरोधि‍यों को निशाने पर लेते हुए कहा कि अगर उनका अंडरवर्ल्ड डॉन से कोई रिश्ता होता तो उनके विरोधियों को इसका अंजाम भुगतना पड़ता. यही नहीं, रैली के मंच से उन्होंने खुद आरएसएस का पक्का समर्थक भी बताया.

खडसे ने विरोधि‍यों पर निशाना साधते हुए कहा, 'मुझ पर जमीन खरीद मामले में आरोप लगाने के बाद अब उन्होंने मेरा नाम दाऊद इब्राहिम से जोड़ा है. अगर दाऊद मेरा दोस्त होता तो आप अंदाजा लगा सकते हैं कि फिर उनका (विरोधि‍यों) क्या होता. किसी राजनीतिक पार्टी ने यह नहीं कहा कि मेरा दाऊद से कोई कनेक्शन है, क्योंकि ये लोग तथ्य से अवगत हैं. सच्चाई जानते हैं.'

'मैं भारत माता की पूजा करता हूं'
राजस्व मंत्री ने आगे कहा कि वह हमेशा से संघ की शाखा में भारत माता की पूजा करते रहे हैं और ऐसे में विरोधी उनका एक डॉन से कनेक्शन जोड़ रहे हैं. खडसे ने कहा, 'आज मेरे विधानसभा क्षेत्र का छोटा बच्चा भी मुझे जानने लगा है, क्योंकि हर दिन टीवी पर मेरे बारे में खबरें चलती हैं.'

'भविष्य में और आरोप लगेंगे'
एकनाथ खडसे ने कहा कि विरोधी उनके खि‍लाफ साजिश कर रहे हैं और भविष्य में भी उन्हें निशाना बनाया जाएगा. उन्होंने कहा, 'मैं जानता हूं कि भविष्य में मेरे खि‍लाफ ऐसे कई और आरोप आएंगे. मुख्यमंत्री जी ने मामले में एटीएस को जांच सौंपी है. केंद्रीय गृह मंत्री को भी इस बारे में लिखा है. मैं इस बात को कतई स्वीकार नहीं करूंगा कि मेरा दाऊद इब्राहिम से कोई कनेक्शन है. क्या जो लोग मेरे बारे में जिस तरह से खबरें चला रहे हैं वह आगे यह खबर भी छापेंगे कि मैं निर्दोष हूं.'

'सबूत हैं तो शिकायत दर्ज करवाओ'
खडसे ने कहा कि वह जानते हैं कि उनके खिलाफ साजिश करने वाले लोग कौन हैं. लेकिन जब एजेंसियों की जांच खत्म हो जाएगी और उन्हें क्लीन चिट मिल जाएगी, तब लोग यह जान जाएंगे कि वह निर्दोष हैं. उन्होंने विरोधियों को चुनौती देते हुए कहा, 'अगर आपके पास कोई सबूत है कि मेरा दाऊद के साथ कनेक्शन है तो मेरे खि‍लाफ शि‍कायत दर्ज कीजिए . आप प्रेस और मीडिया के पास क्यों जा रहे हैं? ऐसा कर लोग मुफ्त की पब्लि‍सिटी पाना चाह रहे हैं.'

जमीन विवाद: खडसे बोले- सबूत दिखाइए इस्तीफा दे दूंगा
दूसरी ओर, जमीन विवाद पर खडसे ने कहा, 'यह मेरी पैतृक जमीन है. मैंने यहां जमीन खरीदी है. मेरा हलफनामा, टैक्स रिटर्न सब कुछ वेबसाइट पर है. मैं सबूत मांगता हूं. मुझे कागजात दिखाइए. मुझे वो कागज दिखाइए जो बताता हो कि यह जमीन 40 करोड़ रुपये की है. अगर आपके पास सबूत हैं तो मैं तत्काल इस्तीफा दे दूंगा.'

3 करोड़ 75 लाख में खरीदी 40 करोड़ की जमीन!
गौरतलब है कि पेशे से बिल्डर हेमंत गावंडे का कहना है कि मंत्री ने पत्नी मंदाकिनी और दामाद गिरीश चौधरी के नाम महाराष्ट्र औद्योगिक विकास निगम (एमआईडीसी) की 40 करोड़ की जमीन महज 3 करोड़ 75 हजार रुपये में खरीदी है. यह जमीन पिंपरी-चिंचवड शहर के भोसरी गांव में है. हेमंत का आरोप है कि 28 अप्रैल 2016 को खडसे ने अब्बास रसूलभाई उकानी से जो जमीन खरीदी है, वह एमआईडीसी के नाम है. आरोप साबित करने के लिए हेमंत ने सरकारी दस्तावेज, बॉम्बे हाईकोर्ट व राजस्व विभाग में कथित जमीन मालिक अब्बास द्वारा दाखिल दावे की कॉपी और 28 अप्रैल को जमीन खरीदी व बिक्री के दौरान भरे गए मुद्रांक शुल्क के पेपर मीडिया को सबूत के रूप में सौंपे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay