एडवांस्ड सर्च

पश्चिम बंगाल- आंध्र प्रदेश छोड़ पूरे देश में विमान सेवा शुरू, हर राज्य के हैं अपने-अपने नियम

25 मई से आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल को छोड़कर पूरे देश में घरेलू विमान सेवा की शुरुआत हो गई है. दिल्ली एयरपोर्ट से सुबह 4:45 पर पुणे के लिए पहली फ्लाइट रवाना हुई. जबकि मुंबई एयरपोर्ट से सुबह 6:45 पर पहली फ्लाइट पटना के लिए रवाना हुई.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 25 May 2020
पश्चिम बंगाल- आंध्र प्रदेश छोड़ पूरे देश में विमान सेवा शुरू, हर राज्य के हैं अपने-अपने नियम दिल्ली एयरपोर्ट पर भी लगी यात्रियों की लाइन (फोटो: Aajtak)

  • 25 मई से हुई घरेलू उड़ान सेवा की शुरुआत
  • पश्चिम बंगाल में 28 मई से चलेंगी फ्लाइट्स

चीन के वुहान शहर से पूरी दुनिया में फैले कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए भारत में देशव्यापी लॉकडाउन 25 मार्च से लागू किया गया था. जिसके बाद से उड़ान सेवा भी बाधित हो गई थी. लॉकडाउन के चौथे चरण में जब जनता को तमाम रियायतें मिलीं तो कई दौर की मंत्रणा के बाद 25 मई से घरेलू उड़ान सेवा को भी फिर से शुरू करने का फैसला लिया गया. लेकिन अभी भी आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में हवाई सेवा की शुरुआत नहीं होने वाली है.

25 मई से आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल को छोड़कर पूरे देश में घरेलू विमान सेवा की शुरुआत हो गई है. दिल्ली एयरपोर्ट से सुबह 4:45 पर पुणे के लिए पहली फ्लाइट रवाना हुई. जबकि मुंबई एयरपोर्ट से सुबह 6:45 पर पहली फ्लाइट पटना के लिए रवाना हुई.

आंध्र प्रदेश में 26 और पश्चिम बंगाल में 28 मई से होगी शुरुआत

घरेलू विमान सेवा की शुरुआत को लेकर नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर बताया था, 'देश में नागरिक उड्डयन कार्यों की सिफारिश करने के लिए विभिन्न राज्यों के साथ बातचीत का एक लंबा दिन रहा. आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल को छोड़कर सोमवार से पूरे देश में घरेलू उड़ानों की शुरुआत होगी.'

यह भी पढ़ें: इन राज्यों को छोड़ आज से पूरे देश में हवाई सेवा शुरू

हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि सोमवार से मुंबई और राज्य के अन्य हवाई अड्डों से अनुमोदित और अनुसूची के अनुसार मुंबई से सीमित उड़ानें होंगी. वहीं आंध्र प्रदेश में 26 मई और पश्चिम बंगाल में 28 मई से घरेलू उड़ानों की शुरुआत की जाएगी.

एयरपोर्ट पर दिखेंगे नए नियम

करीब दो महीने के बाद घरेलू उड़ानों के टेकऑफ के लिए एयरपोर्ट पर खास तैयारियां की गई हैं. एयरपोर्ट पर अब नए नियमों के साथ सब कुछ बदला-बदला सा नजर आएगा. कोरोना संक्रमण से बचने के लिए एयरपोर्ट पर दो मीटर की दूरी और टचलेस सिस्टम को फॉलो किया जाएगा. हवाई यात्रा के संबंध में राज्य सरकारों ने अपने-अपने राज्यों के लिए कुछ गाइडलाइंस भी जारी की हैं.

तमिलनाडु में 14 दिन का क्वारनटीन

तमिलनाडु ने जो नियम बनाए हैं उनके मुताबिक राज्य में आने वाले सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जाएगी. सभी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा इसके लिए एयरपोर्ट पर इंतजाम भी किए गए हैं. यात्रियों के सामान को डिसइंफेक्ट किया जाएगा. एयरपोर्ट पर सभी अधिकारी पीपीई किट में रहेंगे. इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण बात है कि राज्य में आने वाले सभी व्यक्ति को 14 दिनों के लिए क्वारनटीन में रहना होगा.

यह भी पढ़ें: आज से मुंबई में 25 विमानों की लैंडिंग, कोलकाता में 28 से टेकऑफ

तमिलनाडु आ रहे यात्रियों को पहले सरकारी पोर्टल पर खुद को पास के लिए रजिस्टर करवाना होगा. वही पास उन्हें एयरपोर्ट पर दिखाना होगा तभी वे एयरपोर्ट से बाहर जा सकेंगे. पास के लिए अप्लाई करते समय यात्री को अपने स्वास्थ्य का ब्यौरा भी देना होगा और बताना होगा कि वह किसी कंटेनमेंट जोन से नहीं आ रहा है.

पश्चिम बंगाल के ये हैं नियम

पश्चिम बंगाल में 28 मई से हवाई सेवा शुरू हो रही है. यहां ममता सरकार की तरफ से जो गाइडलाइंस जारी की गई हैं. उनमें कहा गया है कि एयरपोर्ट पर यात्रियों को अपना चेहरा ढंक कर रखना होगा. इसके अलावा हैंड हाइजीन और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का पालन भी करना होगा. सभी यात्रियों की हेल्थ स्क्रीनिंग की जाएगी उसके बाद ही उन्हें बोर्डिंग की इजाजत दी जाएगी. एयरपोर्ट पर आने वाले यात्रियों की भी स्क्रीनिंग की जाएगी.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

एयरपोर्ट पर लोगों को सलाह दी जाएगी कि वे 14 दिनों तक अपने सेहत को मॉनिटर करते रहें और अगर कोई लक्षण दिखाई दे तो तुरंत स्थानीय मेडिकल ऑफिसर या राज्य के कॉल सेंटर पर सूचना दें. जिन यात्रियों में कोरोना के लक्षण नजर आएंगे उनका टेस्ट किया जाएगा. सभी यात्रियों को अपने स्वास्थ्य से जुड़ा एक घोषणापत्र भी देना होगा. एयरपोर्ट का सैनिटाइजेशन लगातार किया जाएगा और जगह-जगह सैनिटाइजर रखे जाएंगे.

दिल्ली सरकार ने भी जारी की गाइडलाइंस

दिल्ली सरकार ने भी अपनी गाइडलाइंस जारी की हैं. जिसमें कहा गया है कि यात्रियों का क्वारनटीन अनिवार्य नहीं होगा. बिना लक्षण वाले यात्रियों को सलाह दी जाएगी कि वह अगले 14 दिन तक अपने स्वास्थ्य को मॉनिटर करें. अगर उनमें कोई लक्षण आता है तो वह तुरंत डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर को सूचना दें.

जिन यात्रियों में कोरोना के लक्षण पाए जाएंगे उनको पास के अस्पताल में तुरंत ले जाया जाएगा और देखा जाएगा कि उनकी असल स्थिति क्या है. अगर पॉजिटिव पाए गए तो प्रोटोकॉल के हिसाब से इलाज होगा और यदि निगेटिव पाए गए तो उन्हें घर जाने की इजाजत होगी लेकिन अगले 7 दिन आइसोलेशन में ही रहना होगा.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

केरल में भी यात्रियों को होना पड़ेगा क्वारनटीन

हवाई सेवा को लेकर केरल ने भी गाइडलाइन जारी की है जिसके तहत, यात्रियों को covid19jagratha.kerala.nic.in पर रजिस्टर करना होगा. केरल पहुंचे यात्रियों को 14 दिनों तक क्वारनटीन रहना होगा. इसके अलावा तिरुवनंतपुरम से दूसरे जिलों तक जाने के लिए केरल परिवहन विभाग की बसें चलेंगी.

लखनऊ में भी शुरू हुई घरेलू हवाई सेवा, ये हैं नियम

फ्लाइट से सफर करने वाले यात्रियों को 14 दिन के लिए होम क्वारनटीन रहना होगा. जिन लोगों को वापस लौटना है या फिर यहां से कहीं और जाना है उनके लिए क्वारनटीन अनिवार्य नहीं होगा लेकिन उनको आगे की यात्रा की पूरी जानकारी देनी होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay