एडवांस्ड सर्च

दिल्ली हिंसाः अंकुर शर्मा बोले- मेरे भाई अंकित को मिले शहीद का दर्जा

अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा ने आजतक से खास बातचीत में कहा कि मेरे भाई अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी आ चुकी है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि अंकित शर्मा को 400 बार चाकू से गोदा गया. मेरे भाई की बेहद क्रूरता के साथ हत्या की गई. मेरे भाई अंकित शर्मा आईबी के कर्मचारी थे, उनका किसी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं था. हमारे लिए सभी राजनीतिक पार्टियां बराबर हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 28 February 2020
दिल्ली हिंसाः अंकुर शर्मा बोले- मेरे भाई अंकित को मिले शहीद का दर्जा मृतक आईबी कर्मी अंकित शर्मा (फाइल फोटो- PTI)

  • हिंसा के दौरान आईबी कर्मी अंकित शर्मा की कर दी गई थी हत्या
  • अंकित के भाई ने हत्या के लिए ताहिर हुसैन को बताया जिम्मेदार

दिल्ली हिंसा में जान गंवाने वाले आईबी कर्मी अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा ने अपने भाई को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग की है. अंकुर शर्मा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से अपील की है कि मेरे भाई अंकित शर्मा को शहीद का दर्जा दिया जाए. मेरे भाई ने हिंसा रोकते हुए अपनी जान गंवाई है. अंकुर शर्मा की इस मांग का आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने भी समर्थन किया.

राघव चड्ढा ने कहा, 'मैं भी अंकित शर्मा को शहीद का दर्जा दिए जाने का समर्थन करता हूं. मैं अंकित शर्मा के परिवार की इस बात को दिल्ली सरकार तक पहुंचा दूंगा.' चड्ढा ने कहा कि हिंसा करने वाला चाहे आम आदमी पार्टी का सदस्य हो या फिर भारतीय जनता पार्टी का, उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. अगर ताहिर हुसैन या आम आदमी पार्टी का कोई सदस्य हिंसा का दोषी है, तो उसको दोगुनी सजा दी जाए.

अंकित शर्मा के शरीर में मिले चाकू के 400 निशान

अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा ने आजतक से खास बातचीत में कहा, 'मेरे भाई अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी आ चुकी है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी खुलासा हुआ है कि अंकित शर्मा को 400 बार चाकू से गोदा गया. मेरे भाई की बेहद क्रूरता के साथ हत्या की गई. मेरे भाई अंकित शर्मा आईबी के कर्मचारी थे, उनका किसी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं था. हमारे लिए सभी राजनीतिक पार्टियां बराबर हैं.'

'खुद को बचाने के लिए झूठ बोल रहा है ताहिर हुसैन'

अंकुर शर्मा ने कहा कि आम आदमी पार्टी से सस्पेंड पार्षद ताहिर हुसैन मेरे भाई अंकित शर्मा की हत्या के लिए जिम्मेदार है. इसके सबूत भी सामने आ चुके हैं. वीडियो में ताहिर हुसैन अपने घर में डंडा लेकर हिंसा करवाता नजर आ रहा है. वह लोगों को बता रहा है कि किस तरह पेट्रोल बम फेंकना है और किस तरह फायरिंग करनी है. ताहिर हुसैन हिंसा के समय बिल्डिंग में नहीं होने का झूठा दावा कर रहा है. वह खुद को बचाने के लिए झूठ बोल रहा है.

इसे भी पढ़ें- पत्नी और बेटे के साथ आजम खान को रामपुर कोर्ट ने भेजा 3 दिन के लिए जेल

अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा ने कहा कि हमारे परिवार को न्याय मिलना चाहिए और दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. अंकुर शर्मा ने बताया कि हिंसा वाले दिन मेरा भाई अंकित शर्मा शाम चार बजे के बाद घर आ रहा था और घर की गली में अपनी बाइक पार्क की थी. इसके बाद अपना मोबाइल और पर्स मां को दिया और देखने निकल पड़े कि आखिर क्या हो रहा है?

कैसे हिंसा वाली जगह पहुंच गए थे अंकित शर्मा?

आजतक से खास बातचीत में अंकुर शर्मा ने वो पूरी कहानी बताई, जिस तरह उसके भाई अंकित शर्मा हिंसा वाली जगह पहुंचे थे और उनकी हत्या की गई थी. अंकुर शर्मा ने बताया कि जब मेरे भाई अंकित शर्मा को पता चला कि लोग हिंसा कर रहे हैं, तो वो लोगों को समझाने पहुंच गए थे. मेरे भाई अंकित शर्मा के समझाने पर कुछ लोग पीछे भी हटे थे. इस दौरान ताहिर हुसैन के घर से भीड़ आई और उनको उठा ले गई थी.

अंकित शर्मा के दोषियों को दी जाए फांसीः अंकुर शर्मा

अंकुर शर्मा ने बताया कि इसके बाद मेरे भाई अंकित शर्मा की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी. हिंसा के दौरान ताहिर हुसैन के घर से फायरिंग हो रही थी और पेट्रोल बम फेंके जा रहे थे. पत्थर और तेजाब भी फेंके जा रहे थे. अंकुर शर्मा ने कहा कि मेरे भाई अंकित शर्मा को मारकर नाले में फेंक दिया था. उन्होंने मांग की कि मेरे भाई अंकित शर्मा की हत्या के दोषियों को फांसी की सजा दी जाए.

इसे भी पढ़ें- सोनिया को जावड़ेकर का जवाब- गृह मंत्री हालात संभालने में लगे हैं

इस दौरान अंकुर शर्मा अपने भाई अंकित शर्मा के लिए हाथ जोड़कर न्याय मांगते नजर आए. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी, आम आदमी पार्टी समेत सभी पार्टियों से अपील की कि आप सभी लोग मिलकर मेरे भाई अंकित शर्मा को न्याय दिलाएं. इस पर आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा ने कहा कि अंकित शर्मा की हत्या के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए और उनको दोगुनी सजा दी जानी चाहिए.

अभी तक फरार चल रहा है ताहिर हुसैन

दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी से सस्पेंड पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है. हालांकि अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. पुलिस ने ताहिर हुसैन के घर और दुकान को भी सील कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay