एडवांस्ड सर्च

दिल्ली में चल रही SCO कॉन्फ्रेंस में नहीं शामिल हुआ PAK, खाली रही कुर्सी

रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि पाकिस्तान एससीओ का सदस्य है, इसलिए उसे इस कार्यक्रम के लिए न्योता भेजा गया था.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 12 September 2019
दिल्ली में चल रही SCO कॉन्फ्रेंस में नहीं शामिल हुआ PAK, खाली रही कुर्सी खाली पड़ी पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल की कुर्सी (ANI)

  • पाकिस्तान एससीओ का सदस्य है, इसलिए उसे न्योता भेजा गया था
  • एससीओ के तहत भारत में आयोजित होने वाला यह पहला सैन्य सहयोग समारोह

भारत-पाकिस्तान में तनाव के बीच पाकिस्तान ने दिल्ली में चल रही शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की पहली सैन्य सहयोग मीटिंग का बहिष्कार किया है. रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि पाकिस्तान एससीओ का सदस्य है, इसलिए उसे इस कार्यक्रम के लिए न्योता भेजा गया था. एससीओ के भारत, चीन, कजाकिस्तान, किर्गिजस्तान, पाकिस्तान, रूस, तजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान सदस्य हैं.

भारत 2017 में इस संगठन में शामिल हुआ था और एससीओ के तहत भारत में आयोजित होने वाला यह पहला सैन्य सहयोग समारोह है. एससीओ रक्षा सहयोग योजना 2019-20 के सहयोग से मिलिट्री मेडिसिन पर दो दिवसीय कांफ्रेंस 12 और 13 सितंबर को आयोजित किया जा रहा है.

रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा 'हेडक्वाटर्स इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टॉफ' के तत्वाधान में भारतीय सशस्त्र सेना की ओर से बैठक आयोजित है. अधिकारी ने कहा, "कांफ्रेंस का मकसद मिलिट्री मेडिसिन, क्षमताओं का निर्माण करने और आम चुनौतियों से निपटने के क्षेत्र में सबसे अच्छे अभियान को साझा करना है."

भारतीय सशस्त्र सेना रैपिड एक्शन मेडिकल टीम को प्रदर्शित करेगी और नई दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल में अलग अलग प्रतिभागी देशों के विशेषज्ञों के प्रतिनिधिमंडलों के लिए एक टूर का आयोजन करेगी. भारत के पड़ोसी देश नेपाल और श्रीलंका भी वार्ता साझेदार के तौर पर इस कांफ्रेंस में शामिल हो रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay