एडवांस्ड सर्च

धोखाधड़ी के मामले बीजेपी सांसद गौतम गंभीर के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

करीब 50 फ्लैट के खरीददारों ने ये आरोप लगाते हुए शिकायत की है कि बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने 2011 में गाजियाबाद के इंदिरापुरम में एक रियल एस्टेट प्रोजेक्ट में फ्लैट बुक किए थे, लेकिन अभी तक उन्हें फ्लैट नहीं मिले हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 29 September 2019
धोखाधड़ी के मामले बीजेपी सांसद गौतम गंभीर के खिलाफ चार्जशीट दाखिल टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज व बीजेपी सांसद गौतम गंभीर (फोटो-ट्विटर)

  • साकेत कोर्ट में दाखिल की गई है चार्जशीट
  • इस मामले में 2016 में दर्ज हुआ था केस

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और भाजपा सांसद गौतम गंभीर की परेशानी बढ़ सकती है. धोखाधड़ी के मामले दिल्ली पुलिस ने उनके व अन्य के खिलाफ साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है.

करीब 50 फ्लैट के खरीददारों ने ये आरोप लगाते हुए शिकायत की है कि उन्होंने 2011 में गाजियाबाद के इंदिरापुरम में एक रियल एस्टेट प्रोजेक्ट में फ्लैट बुक किए थे, लेकिन अभी तक उन्हें फ्लैट नहीं मिले हैं.

गौरतलब है कि सांसद गंभीर रूद्र बिल्डवेल रियलिटी प्राइवेट लिमिटेड और एचआर इंफ्रासिटी प्राइवेट लिमिटेड की संयुक्त परियोजना के डायरेक्ट और ब्रांड एंबेसडर थे. इस मामले में उनके खिलाफ 2016 में हाउसिंग प्रोजेक्ट की बुकिंग के बहाने करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में केस दर्ज किया गया था.

दाखिल चार्जशीट के मुताबिक, कंपनी की तरफ से 6 जून 2013 को बायर्स को फ्लैट देने का वादा करने के बाद भी 2014 तक टाल-मटोल किया जाता रहा. 15 अप्रैल 2015 में अधिकारियों ने आवश्यक लाइसेंस फीस व अव्यवस्था के कारण प्रोजेक्ट का अनुमोदन रद कर दिया था.

NRC पर गंभीर बोले- केजरीवाल बेवकूफी भरी बातों से अपनी फजीहत न कराएं

इस मामले में गंभीर के अलावा प्रमोटर मुकेश खुराना, गौतम मेहरा और बबीता खुराना सहित अन्य के नाम चार्टशीट में शामिल हैं. बायर्स का आरोप है कि गंभीर ने प्रोजेक्ट में निवेश करने के लिए बायर्स को आकर्षित करने में कंपनी की मदद की थी. इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 406, 420 सहित कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था.

गंभीर ने ली थी इमरान खान पर चुटकी

गौतम गंभीर ने शनिवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में दिए गए उनके भाषण पर चुटकी ली थी. गंभीर ने ट्वीट किया, 'हर देश को 15 मिनट का समय दिया गया था. इसमें कोई क्या करता है, यह उसका चरित्र और बौद्धिकता बताता है. नरेद्र मोदी ने जहां शांति और विकास की बात की, वहीं पाकिस्तानी सेना की कठपुतली ने न्यूक्लियर वॉर की धमकी दी. यह वही शख्स है, जिसने कश्मीर में शांति को बढ़ावा देने की बात कही थी.'

बता दें कि पीएम मोदी ने मोदी ने यूएनजीसीए में कहा था कि भारत ने दुनिया को युद्ध नहीं बुद्ध दिया है जबकि इमरान ने लड़ाई की बात को तरजीह दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay