एडवांस्ड सर्च

भारत-PAK विदेश सचिव वार्ता पर मैं कुछ नहीं कह सकता: जितेंद्र सिंह

'आज तक' से खास बातचीत में सिंह ने कहा, 'विदेश नीति के संबंध में यही कहूंगा कि समय और परिस्थि‍ति के अनुसार रणनीति बनती है.'

Advertisement
aajtak.in
स्‍वपनल सोनल/ राहुल कंवल नई दिल्ली, 11 January 2016
भारत-PAK विदेश सचिव वार्ता पर मैं कुछ नहीं कह सकता: जितेंद्र सिंह केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह

पठानकोट हमले के बाद जहां एक ओर भारत-पाकिस्तान के बीच समग्र वार्ता शुरू होने से पहले ही हिचकोले खाने लगी है, वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने भी इस मसले पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है. 'सीधी बात' कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि वह आगामी विदेश सचिव स्तर की बातचीत को लेकर कुछ नहीं कह सकते. हां, इतना जरूर कहेंगे कि विदेश नीति समय और परिस्थि‍ति के हिसाब से बदलती रहती है.

'आज तक' से खास बातचीत में सिंह ने कहा, 'विदेश नीति के संबंध में यही कहूंगा कि समय और परिस्थि‍ति के अनुसार रणनीति बनती है. भारत-पाकिस्तान के बीच आगामी विदेश सचिव स्तर की वार्ता पर मैं कुछ नहीं कह सकता. आगे पाकिस्तान मामले में क्या रणनीति होगी, उस पर सार्वजनिक चर्चा करना ठीक नहीं है.'

मोदी सरकार में मंत्री ने आतंकी हमलों और सीमा पार से घुसपैठ और फायरिंग जैसी समस्या पर कहा कि बीते एक साल में जब भी हमला हुआ है, भारत ने उसका मुंहतोड़ जवाब दिया है. उन्होंने कहा, 'पठानकोट में जो कार्रवाई हुई वह सराहनीय है.' उन्होंने कहा कि मोदी सरकार पर न तो किसी तरह का बाहरी दवाब है और न ही आंतरिक.

'पूर्ण राज्य से केजरीवाल की क्षमता बढ़ जाएगी क्या?'
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने के सवाल पर जितेंद्र सिंह ने कहा, 'पूर्ण राज्य बन जाने के बाद अरविंद केजरीवाल की क्षमता बढ़ जाएगी क्या? पहले तो जिस चीज के लिए उन्हें बहुमत मिली है उस पर ध्यान दें. अगर काम अच्छा रहा तो फिर देखते हैं. यह जनता को भटकान के लिए ऐसी बातें कर रहे हैं.

पीडीपी के साथ रिश्तों पर भी चुप्पी
जम्मू-कश्मीर में मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद की मृत्यु के बाद उपजे सियासी संकट के बीच सिंह ने कहा कि राज्य में बीजेपी-पीडीपी की जो सरकार रही है वह अच्छी रही है और विकास के काम में समानता रही है. उन्होंने कहा, 'हम देशभक्त पार्टी हैं और उम्मीद है कि जम्मू-कश्मीर के लोग को प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों का फायदा उठाएंगे. भविष्य में हमारा पीडीपी के साथ रिश्ता रहेगा या नहीं, इस पर मैं कुछ नहीं कहूंगा.

असहिष्णुता होती तो इतनी बहस नहीं होती
अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर बीजेपी नेताओं के आए दिन आ रहे नए बयानों पर केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि वह मंदिर मामले पर टिपण्णी नहीं करेंगे. असहिष्णुता के मुद्दे पर सवाल का जवाब देते हुए सिंह बोले, 'अगर भारत में टॉलरेंस नहीं होती तो इतने दिनों तक इस पर बहस नहीं होती. भारत की परंपरा रही कि बुद्ध‍िजीवी समाज और लेखक वर्ग समाज को जोड़ने की काम करते हैं. उन्हें परेशानी के समय भी अच्छे से रहना चाहिए.'

आमिर खान को 'अतुल्य भारत' के ब्रांड एंबेस्डर से हटाने के सावाल पर उन्होंने कहा, 'इसमें कई तरह की प्रक्रिया होती है. संबंधित विभाग सही जवाब देगी. वीके सिंह और मनीष तिवारी को लेकर फिर से चर्चा में 2012 में सेना के कथि‍त दिल्ली कूच की खबर पर जितेंद्र सिंह ने कहा, 'बात को अब और उलझाना नहीं चाहिए. इस विषय को छोड़ ही दें तो अच्छा है.

विपक्ष को हजम नहीं हो रही सफलता
उन्होंने आगे कहा, 'मोदी जी की कई जनहित योजनाएं हैं, जिसको लेकर किसी ने सोचा भी नहीं था, अब वह हमारे सामने हैं. हमारे देश का वोटर बहुत जागरूक है. विपक्ष को मोदी जी और बीजेपी की सफलता हजम करने में दिक्कत हो रही है.' एयर इंडिया को बेचने के सवाल पर मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि हम धीरे-धीरे आगे बढ़ेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay